Create
Notifications

यशस्‍विनी सिंह देसवाल ने ऑनलाइन शूटिंग मीट में जीता गोल्‍ड

यशस्विनी सिंह देसवाल
यशस्विनी सिंह देसवाल
Vivek Goel
visit

भारतीय ओलंपिक कोटा विजेता यशस्विनी सिंह देसवाल ने रविवार को अंतरराष्‍ट्रीय ऑनलाइन शूटिंग चैंपियनशिप (आईओएससी) के पांचवें एडिशन में 10 मीटर एयर पिस्‍टल स्‍पर्धा में गोल्‍ड मेडल जीता। 23 साल की यशस्विनी सिंह देसवाल ने 241.7 का स्‍कोर बनाया। दुनिया की नंबर-4 यशस्विनी ने 3.1 अंक के अंतर से खिताब अपने नाम किया। पिछले साल रियो डी जेनेरियो में आईएसएसएफ विश्‍व कप में 577 का सर्वश्रेष्‍ठ क्‍वालीफिकेशन शॉट लगाकर यशस्विनी ने गोल्‍ड मेडल जीता था।

फाइनल्‍स में यशस्विनी ने शुरूआती दस शॉट में जल्‍दी बढ़त बनाई और फिर पूरी तरह हावी रहते हुए लगातार दूसरा साल खिताब अपने नाम किया। इससे पहले पिछले साल मई में आईओएससी के चौथे एडिशन में यशस्विनी सिंह देसवाल ने गोल्‍ड जीता था। मिस्र के अहमद नाबिल ने दूसरा स्‍थान प्राप्‍त किया जबकि हमवतन येहया शम्‍स को तीसरा स्‍थान मिला। ऑस्ट्रिया के ओलंपिक कोटा विजेता सिल्‍विया स्‍टीनर को चौथा स्‍थान मिला।

यशस्विनी सिंह देसवाल का जन्‍म 30 मार्च 1997 को नई दिल्‍ली में हुआ। यशस्विनी के पिता एसएस देसवाल आईपीएस अधिकारी हैं और उनकी मां सरोज देसवाल पंचकूला में आयकर विभाग की प्रमुख कमिश्‍नर हैं। यशस्विनी ने 2012 में शूटिंग का अभ्‍यास शुरू किया था। यशस्विनी ने 2014 समर यूथ ओलंपिक गेम्‍स के लिए क्‍वालीफाई किया, जहां वो 10 मीटर एयर पिस्‍टल इवेंट में छठे स्‍थान पर रहीं।

2016 आईएसएसएफ जूनियर विश्‍व कप में यशस्विनी ने व्‍यक्तिगत स्‍पर्धा में सिल्‍वर मेडल जबकि काबला में टीम इवेंट में गोल्‍ड मेडल जीता था। 2016 दक्षिण एशियाई गेम्‍स में यशस्विनी ने टीम इवेंट में गोल्‍ड जबकि व्‍यक्तिगत स्‍पर्धा में ब्रॉन्‍ज मेडल जीता। 2017 आईएसएसएफ जूनियर विश्‍व चैंपियनशिप में यशस्विनी ने विश्‍व जूनियर रिकॉर्ड 235.9 की बराबरी करते हुए गोल्‍ड मेडल जीता।2019 में देसवाल ने रियो डी जेनेरियो में आईएसएसएफ विश्‍व कप में गोल्‍ड मेडल जीता और 2020 समर ओलंपिक्‍स के लिए जगह पक्‍की की।

यशस्विनी ने ऑनलाइन शूटिंग को बताया बेहतर प्‍लेटफॉर्म

खिताब जीतने के बाद यशस्विनी सिंह देसवाल ने कहा, 'विशेषकर कोविड-19 युग में ऑनलाइन शूटिंग ट्रेनिंग और स्‍पर्धा करने का अच्‍छा प्‍लेटफॉर्म है। मैं इंडियन शूटिंग डॉट कॉम को धन्‍यवाद देना चाहूंगी, जिन्‍होंने इस स्‍पर्धा का आयोजन कराया।' बता दें कि 15 देशों के निशानेबाजों ने दो दिवसीय स्‍पर्धा में हिस्‍सा लिया था। ऑनलाइन शूटिंग के आयोजन की सोच पूर्व भारतीय शूटर शिमन शरीफ की है।

शरीफ ने कहा, 'आईओएससी के पांच संस्‍करण में से यह सबसे बड़ा आयोजन अब तक हमारे द्वारा किया गया। हमारे पास 15 देशों के निशानेबाज आए। मैं खुश हूं कि ऑनलाइन शूटिंग निशानेबाजों के बीच ज्‍यादा से ज्‍यादा लोकप्रिय हो रहा है। यह हमारे देश का भविष्‍य है।'

इससे पहले विष्‍णु शिवराज पांडियान ने 10 मीटर एयर राइफल इवेंट में गोल्‍ड मेडल जीता था। 16 साल के विष्‍णु ने 251.4 का कुल स्‍कोर किया और दो अंकों के अंतर से खिताब अपने नाम किया था। इसके अलावा प्रत्‍युश अमन बारिक भी भारतीयों में फाइनल्‍स में पहुंचने वाले निशानेबाज थे, जो सातवें स्‍थान पर रहे। इसमें दूसरा स्‍थान फ्रांस के एटिने गर्मोंड को मिला। ऑस्ट्रिया के मार्टिन स्‍ट्रेंफल ने तीसरा स्‍थान हासिल किया।


Edited by Vivek Goel
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now