Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

Rio olympic 2016, 7वां दिन: सानिया मिर्जा और रोहन बोपन्ना सेमी फ़ाइनल में पहुंचे

EXPERT COLUMNIST
Modified 11 Oct 2018, 13:48 IST
Advertisement
रियो ओलंपिक के 7वां दिन भी भारत को अपने पहले पदक का इंतज़ार रहा, लेकिन दिन खत्म होते-2 इंडिया के लिए दो खुशखबरी जरूर आ गई। जहां एक तरफ टेनिस के मिक्स्ड डबल में रोहन बापन्ना और सानिया मिर्जा ने सेमी फ़ाइनल में जगह बनाई, तो दूसरी तरफ इंडियन बोक्सर विकास कृष्णन ने 75 किलों वर्ग के सेमी फ़ाइनल में जगह बनाई। टेनिस  चौथी सीड प्राप्त रोहन बोपन्ना और सानिया मिर्जा ने देर रात खेले गए मुक़ाबले में ग्रेट ब्रिटेन के एंडी म्र्रे और हीथर वॉटसन को 6-4, 6-4 से हराकर रियो ओलंपिक के सेमी फ़ाइनल में जगह बनाई। मैच की शुरुआत में ग्रेट ब्रिटेन की जोड़ी ने शानदार खेल दिखाया और पहले सेट में 2-0 की बढ़त ली, हालांकि भारतीय जोड़ी ने भी शानदार वापसी करते हुए मैच में अपना दबदबा बनाया और आसानी से यह मैच अपने नाम कर लिया। सेमी फ़ाइनल में इंडिया की भिड़ंत USA के वीनस विलियम्स और राजीव राम और इटली के फैबइओ फोगनिनी और रोबर्टा विंसी के बीच होने वाले मुक़ाबले के विजेता से होगी। तीरंदाजी तीरंदाजी में भारत के लिए एक मात्र उम्मीद बचे अतानु दास भी प्री क्वार्टर फ़ाइनल में हारकर रियो ओलंपिक से बाहर हो गए। उन्हें करीबी मुक़ाबले में साउथ कोरिया के ली सीयुंग युन ने करीबी मुक़ाबले में 6-4 हराया। इस हार के साथ रियो ओलंपिक में भारतीय चुनौती भी समाप्त हुई। बॉक्सिंग  शिव थापा के पहले राउंड में बाहर से आउट हो जाने के बाद, बॉक्सिंग में पदक की सारी उम्मीद 75 किलों वर्ग में 22 वर्षीय विकाश कृष्णन पर आ गई थी और उन्होंने बिल्कुल भी निराश नहीं किया और टर्की के ओंडर सिपल को सीधे मुकाबले में हराकर क्वार्टर फ़ाइनल में जगह बनाई
Advertisement
, जहां उनका सामना उज्बेकिस्तान के बेक्टेमिर मेलिकोजिव से होगा। हॉकी  भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने कनाडा के साथ अपने लीग मुक़ाबला 2-2 से ड्रॉ खेला और अब क्वार्टल फ़ाइनल में अपनी जगह भी सुनिचित करी, हालांकि क्वार्टर फ़ाइनल में भारत का सामना किस टीम से होगा, इस बात का फ़ैसला लीग स्टेज खत्म होने के बाद होगा। भारत इस मैच के परिणाम से खुश नहीं होगा, क्योंकि अगर भारत यह मुक़ाबला जीत जाता, तो वो अपने ग्रुप में तीसरे स्थान पर रहते और अब शायद उन्हें लीग स्टेज के बाद चौथे स्थान पर रहना होगा। गोल्फ  पहले दिन अच्छे करने के बाद एसएसपी चौरसिया दूसरे दिन काफी संघर्ष किया और राउंड खत्म होने तक वो 30वें स्थान पर रहे, वह दूसरी तरफ अरिंबन लहिरी दूसरे दिन लगातार संघर्ष किया और राउंड खत्म होने तक वो 51वें स्थान पर रहे। अगर भारत को गोल्फ में मेडल जीतना है, तो तीसरे दिन भारतीय गोल्फर्स को अपने प्रदर्शन में सुधार करना होगा। शूटिंग  पुरुष स्कीट के क्वालिफ़ाइंग राउंड के पहले दिन भारतीय शूटर मेराज अहमद खान 10वें स्थान पर रहे और क्वालिफ़ाइंग राउंड के दूसरे दिन वो अपने प्रदर्शन और अच्छा करना चाहेंगे और टॉप 6 में जगह बनाकर फ़ाइनल में पहुँचना चाहेंगे। पुरुष 25 मीटर रेपिड फायर पिस्टल इवेंट के पहले दिन गुरमीत सिंह 10वें स्थान पर रहे और अगर उन्हें फ़ाइनल में जगह बनानी है, तो क्वालिफ़ाइंग राउंड के दूसरे दिन और अच्छा करना होगा। 50 मीटर राइफल प्रोन में गगन  नारंग और चेन सिंह क्वालिफ़ाइंग राउंड से आगे नहीं बढ़ पाए और क्रमश 13 वें और 36वें स्थान पर रहकर फ़ाइनल राउंड में जगह बनाने से चूक गए। एथलेटिक्स  रियो ओलंपिक 2016 में भारतीय एथलेटिक्स अपनी चमक बिखेरने में नाकाम रहे और किसी भी इवेंट में भारतीय एथलीट फ़ाइनल में जगह नहीं बना पाए और क्वालिफ़ाइंग राउंड से ही बाहर हो गए। रियो गेम्स में भारत ने 34 सदस्यों का दल एथलेटिक्स में भेजा था। बैडमिंटन  भारतीय पुरुष और महिला युगल ने अपने दूसरे मैच में भी निराश ही किया और डबल्स में भारत का आगे बढना अब काफी मुश्किल हो गया हैं। जहां महिला डबल्स में ज्वाला गट्टा और अश्वनी पोनप्पा नीदरलैंड्स की ईफ़्जे मुसकेंस और सेलेना पीक से 16-21, 21-16 और 17-21 से हारकर अपना दूसरा लीग मैच भी हर गई। वहीं पुरुष में मनु अत्री और सुमित रेड्डी चाइना के चाइ बायो और हाँग वे से 21-13 और 21-15 से सीधे सेटों में मैच गवां दिया। Published 13 Aug 2016, 13:37 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit