Create
Notifications

भारतीय पैडलर साथियान गणनाशेखरन का COVID की चुनौतियों के बाद अगला लक्ष्य टोक्यो का टिकट है

साथियान गणनाशेखरन (Sathiyan Gnanasekaran)
साथियान गणनाशेखरन (Sathiyan Gnanasekaran)
Irshad
ANALYST
Modified 11 Feb 2021
फ़ीचर

भारतीय स्टार टेबल टेनिस खिलाड़ी साथियान गणनाशेखरन (Sathiyan Gnanasekaran) की नज़र टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालिफ़ाई करने पर है और इसके लिए उन्हें राष्ट्रीय प्रतियोगिता में बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद है।

फ़रवरी के महीने में होने वाले नेशनल को जीतकर साथियान टोक्यो 2020 का टिकट हासिल करना चाहते हैं। हरियाणा के पंचकुला में 14 से 23 फरवरी तक आयोजित होने वाले नेशनल में साथियान अगर अच्छा प्रदर्शन करते हैं तो फिर जुलाई में होने वाले टोक्यो ओलंपिक में वह क्वालिफ़ाई भी करने की ओर एक क़दम बढ़ा देंगे।

हालांकि साथियान ने अभी तक नेशनल ख़िताब नहीं जीता है, लेकिन वह इसके लिए पूरी तरह से तैयार हैं और अपना मक़सद द हिन्दु के साथ हुई बातचीत में साझा किया।

“नेशनल काफ़ी महत्वपूर्ण टूर्नामेंट है और ये निश्चित रूप से उस सूची में है जिसे मुझे अभी हासिल करना है। मुझे अपनी पूरी कोशिश करनी होगी। ये एक विशेष साल है क्योंकि कोरोना वायरस (COVID-19) के कारण इस बार सिर्फ सिंगल्स मुक़ाबले होने हैं और हमें टेबल से कम अवसर मिलेंगे। ये मानसिक रूप से अधिक चुनौतीपूर्ण होगा, हमें जल्दी ही परिस्थितियों में ढलना होगा।“

इस स्टार भारतीय पैडलर के अंतरराष्ट्रीय करियर में दो अंतरराष्ट्रीय टेबल टेनिस महासंघ (ITTF) प्रो टूर खिताब हैं। और विश्व रैंकिंग में साथियान टॉप-25 में पहुंचने वाले पहले भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी भी हैं। लेकिन इस भारतीय पैडलर के हाथों में अब तक नेशनल ख़िताब नहीं आया है, उन्हें फाइनल में और सेमीफाइनल में कई बार हार का सामना करना पड़ा है।

28 वर्षीय साथियान नेशनल के तुरंत बाद दोहा के लिए रवाना होंगे जहां उन्हें 4 अलग अलग प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेना है। साथियान WTT कंटेंडर (3 से 6 मार्च), WTT स्टार कंटेंडर (8 से 13 मार्च), विश्व सिंगल्स क्वालिफिकेशन टूर्नामेंट (14 से 17 मार्च) और एशियाई ओलंपिक क्वालिफ़ायर्स (18 से 20 मार्च) में शिरकत करेंगे।

इनमें से आख़िरी दो टूर्नामेंट के ज़रिए साथियान के पास टोक्यो ओलंपिक के लिए जगह हासिल करने का मौका होगा।

टोक्यो ओलंपिक में जगह बनाने को लेकर साथियान पूरी तरह से आश्वस्त हैं। उन्होंने इसे मुश्किल तो बताया लेकिन नामुमकिन नहीं।

“ये सच है कि ये काफ़ी थका देने वाला होगा लेकिन मैं तैयार हूँ। मुझे उम्मीद है कि मैं नेशनल जीतने के साथ अपने दोनों लक्ष्यों को पूरा कर सकता हूं और ओलंपिक के लिए अपनी जगह पक्की कर सकता हूं।”

साथियान गणनाशेखरन के लिए पिछले कुछ समय जिस तरह से शानदार गए हैं, उसे देखते हुए टोक्यो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करने का उनका सपना साकार होने की आशा बिल्कुल है।

Published 11 Feb 2021
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now