Create
Notifications

एंडी मरे को क्वींस ऑनर्स लिस्ट 2016 में मिला नाइटहुड सम्मान

SENIOR ANALYST
Modified 21 Sep 2018
2016 के क्वींस ऑनर्स लिस्ट में  मेंस टेनिस के नंबर एक खिलाड़ी एंडी मरे को नाइटहुड सम्मान मिला है। इस लिस्ट में ओलंपिक चैंपियन धावक मो फराह का भी नाम शामिल है। हेप्थालीट जेसिका एनिस-हिल को डेम की उपाधि दी गई। मरे को अब प्रोफेशनली सर एंडी मरे कहा जाएगा। इस बात की अटकलें तब से ही लगाई जा रही थीं, जब ब्रिटेन के पहले नंबर एक टेनिस खिलाड़ी मरे ने कहा था कि नाइटहुड सम्मान के लिए उनकी उम्र अभी काफी कम है। उस समय एक इंटरव्यू में मरे ने कहा कि नाइटहुड सम्मान देश का सबसे बड़ा सम्मान है, मुझे नहीं पता कि ये मुझे मिलेगा या नहीं लेकिन जहां तक मुझे लगता है मैं अभी इस सम्मान को पाने के लिए काफी छोटा हूं। मरे ने कहा कि मैं अब भी गलतियां कर सकता हूं और खराब खेल सकता हूं, इसलिए मैं जिस तरह से अभी खेल रहा हूं उसी तरह आगे खेलने के लिए कोशिश कर रहा हूं। अगर आपको नहीं पता है तो बता दें मरे के विम्बलडन का खिताब जीतते ही विभिन्न सूत्रों से पता चल गया था कि मरे को ये सम्मान मिल सकता है और अब इस पर मुहर भी लग गई। नाइटहुड सम्मान पाने वाले वो सबसे युवा खिलाड़ियों में से एक हैं और उन्हें ये सम्मान मिलना कई तरह से आसामान्य लग रहा है। 29 साल के मरे और सभी सम्मान पाने वाले खिलाड़ियों से काफी छोटे हैं। ज्यादातर खिलाड़ियों को ये सम्मान उनके करियर के आखिर में जाकर मिला है। जबकि मरे को बहुत कम उम्र में ही ये सम्मान मिल गया है। ग्रेट ब्रिटेन में कई सारे अच्छे टेनिस खिलाड़ी हुए हैं, लेकिन फ्रेड पेरी के बाद कोई नहीं हुआ। फ्रेड पेरी भी नंबर एक खिलाड़ी थे। ब्रिटेन के जो आखिरी मेंस के टेनिस स्टार थे वो टिम हेनमैन थे, जिन्होंने 2007 में संन्यास ले लिया था। 2005 तक हेनमैन ब्रिटेन के नंबर एक टेनिस प्लेयर थे, तब मरे रैंकिंग में उनसे काफी नीचे थे, लेकिन अब वो नंबर एक टेनिस खिलाड़ी हैं। हालांकि हेनमैन का टेनिस करियर मरे जितना सफल नहीं रहा। हेनमैन 6 बार ग्रैंड स्लैम के सेमीफाइनल तक पहुंचे थे, लेकिन इससे आगे वो कभी नहीं बढ़ पाए। लेकिन मरे ने 11 बार ग्रैंड स्लैम के फाइनल तक का सफर तय किया और उनमें से 3 ग्रैंड स्लैम का खिताब अपने नाम किया। द हर्ट ऑफ द मैटर मरे के लिए ये साल काफी अच्छा रहा। उन्होंने इस साल विम्बलडन में अपना तीसरा ग्रैंड स्लैम खिताब जीता। इसके अलावा भी उन्होंने और कई खिताब जीते, जिसके वजह से उनको काफी सारे प्वॉइंट मिले और उन्होंने नोवान जोकोविच को पछाड़कर विश्व का नंबर एक टेनिस प्लेयर होने का तमगा हासिल किया। मरे ने एटीपी वर्ल्ड टूर का फाइनल जीतकर इस साल का अंत शानदार अंदाज में किया। इसकी वजह से वो अपनी नंबर एक की कुर्सी भी बनाए रखने में कामयाब रहे। इस साल मरे ने जोकोविच को कई बार हराया, हाल ही में  लंदन में हुए एटीपी वर्ल्ड टूर के फाइनल मुकाबले में भी उन्होंने जोकोविच को मात दी। मरे के लिए ये साल प्रोफेशनली तो शानदार रहा है वहीं उनके निजी जीवन में भी इस साल कई खुशियां आईं। इस साल फरवरी में मरे के घर एक नन्हीं सी परी ने जन्म लिया, जिसका नाम उन्होंने सोफिया रखा। इससे मरे की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। ब्रिटेन में सालों से मेंस सिंगल्स में कोई बड़ा टेनिस प्लेयर नहीं हुआ, लेकिन मरे ने अब इस सूखे को खत्म कर दिया है और अब वो देश के सबसे बड़े स्टार खिलाड़ी बन गए हैं। अब आगे क्या ? अब आगे एंडी मरे को सर एंडी मरे के नाम से पुकारा जाएगा। लेकिन 2017 में होने वाले विम्बलडन चैंपियनशिप के आयोजकों से उन्होंने आग्रह किया है कि वे उन्हें उनके सामान्य नाम से ही पुकारें। मरे के शानदार फॉर्म का यहां जिक्र करना जरुरी है, क्योंकि 2016 में वो अकेले ऐसे खिलाड़ी रहे जिन्होंने पूरे साल लगातार बेहतरीन खेल दिखाया। वो इस सीजन के इकलौते ऐसे खिलाड़ी रहे जो कभी चोटिल नहीं हुए, कभी उनका फॉर्म खराब नहीं हुआ और कोई भी मैच उन्होंने मिस नहीं किया या आधा-अधूरा नहीं छोड़ा। कई सालों में ऐसा पहली बार हुआ है। मरे के फिटनेस की परीक्षा आगे के मैचों में होगी उन्हें अगल साल अहम टूर्नामेंट खेलने हैं और इसके लिए वो मानसिक रुप से बेहद मजबूत हैं। अगले सीजन में नंबर एक पोजिशन के लिए उन्हें नोवान जोकोविच से कड़ी टक्कर मिलने की उम्मीद है। लेकिन विश्व के नंबर एक टेनिस खिलाड़ी मरे  क्ले कोर्ट सीजन तक अपनी नंबर एक की पोजिशन बनाए रखने में कामयाब रहेंगे। अगर इसके बाद वो अच्छा खेलते हैं तो आगे भी वो नंबर एक खिलाड़ी बने रहेंगे। लेकिन क्ले कोर्ट तक उनकी नंबर एक पोजिशन बरकरार रहेगी। हालांकि हाल ही में अबुधाबी में खेले गए मुबादला वर्ल्ड टेनिस चैंपियनशिप  के सेमीफाइनल मुकाबले में मरे को हार का सामना करना पड़ा। उन्हें डेविड गोफिन ने सीधे सेटों में 7-6 6-4 से हरा दिया। मरे की इस हार से सभी लोग हैरान रह गए। लेकिन इस हार से मरे की रैकिंग पर कोई असर नहीं पड़ने वाला है क्योंकि मुबादला चैंपियनशिप वर्ल्ड एटीपी टूर का हिस्सा नहीं है। स्पोर्ट्सकीड़ा की राय मरे के नाइटहड सम्मान ने किसी को ज्यादा हैरान नहीं किया, क्योंकि सालों से साइक्लिंग, नौकायन में ब्रिटेन से कई सारे स्टार खिलाड़ी हुए हैं, लेकिन टेनिस में ब्रिटेन को एक अच्छे खिलाड़ी की तलाश थी, जो एंडी मरे ने पूरा किया। हाल के सालों में एंडी मरे जैसी सफलता और किसी ब्रिटिश टेनिस प्लेयर को नहीं मिली थी। इस सम्मान को पाने वाले दूसरे खिलाड़ियों की औसत उम्र सीमा को देखते हुए शायद  मरे इस सम्मान  को पाने वाले बेहद कम्र के खिलाड़ी हों, लेकिन इस साल जिस तरह से उन्होंने प्रदर्शन किया है इसके लिए वो इससे भी ज्यादा के हकदार हैं।      
Published 31 Dec 2016
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now