Create

क्वींस क्लब चैंपियनशिप का फाइनल जीते मतेओ बेरेतिनी, विम्बल्डन के लिए की दावेदारी पेश

बेरेतिनी ने लगातार दूसरे साल क्वींस क्लब चैंपियनशिप का खिताब अपने नाम किया है।
बेरेतिनी ने लगातार दूसरे साल क्वींस क्लब चैंपियनशिप का खिताब अपने नाम किया है।

इटली के मतेओ बेरेतिनी ने क्वींस क्लब चैंपियनशिप के पुरुष सिंगल्स का खिताब लगातार दूसरी बार जीत लिया है। दूसरी सीड बेरेतिनी ने फाइनल में सर्बिया फिलिप क्राजिनोविच को 7-5, 6-4 से मात दी। विश्व नंबर 11 बेरेतिनी ने एटीपी टूर 500 लेवल की इस प्रतियोगिता को जीतकर अगले हफ्ते शुरु हो रही विम्बल्डन चैंपियनशिप के लिए अपनी मजबूत दावेदारी पेश की है।

BACK-TO-BACK CHAMPION! 🏆 🏆@MattBerrettini remains undefeated at Queen's as he gets through Filip Krajinovic 7-5 6-4!@QueensTennis | #cinchChampionships https://t.co/nPyFDU24fy

लंदन में ग्रास कोर्ट पर होने वाली इस प्रतियोगिता को विम्बल्डन के वॉर्म अप टूर्नामेंट के तौर पर देखा जाता है। बेरेतिनी ने पिछले साल भी इस प्रतियोगिता को जीता था । खास बात ये है कि 2021 में वो पहली बार इस टूर्नामेंट का हिस्सा बने थे और ओपन ऐरा के पहले पुरुष खिलाड़ी हैं जिन्होंने पहली दो बार में न सिर्फ इस प्रतियोगिता में भाग लिया बल्कि इसे लगातार जीता भी है। बेरेतिनी के करियर का ये 7वां एटीपी टूर लेवल खिताब है।

Repeat @QueensTennis Champions in Open Era@MattBerrettini 2021-22Ex-No. 1 @Andy_Murray 2015-16Ex-No. 1 @AndyRoddick 2003-05Ex-No. 1 @LleytonHewitt 2000-02Ex-No. 1 Ivan Lendl 1989-90Ex-No. 1 @TheBorisBecker 1987-88Ex-No. 1 @JimmyConnors 1982-83Ex-No. 1 @JohnMcEnroe 1979-81

बेरेतिनी ने मैच में कुल 14 एस लगाए और फर्स्ट, सेकेंड सर्वे में क्राजिनोविच से आगे रहे। ग्रास कोर्ट पर बेरेतिनी के भागने-दौड़ने के तरीके से साफ दिख रहा है कि वो इस सतह पर कितना सहज महसूस करते हैं। बेरेतिनी ने पिछले ही हफ्ते जर्मनी में स्टटगार्ट ओपन को जीता था और ये भी ग्रास कोर्ट का ईवेंट है। फाइनल में बेरेतिनी ने दो बार के विम्बल्डन चैंपियन एंडी मरे को हराया। इससे पहले पिछले 3 महीनों से बेरेतिनी टेनिस कोर्ट से गायब थे क्योंकि उनके हाथ में चोट थी। ऐसे में अब इस शानदार वापसी के बाद बेरेतिनी इस साल विम्बल्डन के प्रबल दावेदारों में शामिल हो गए हैं।

26 साल के बेरेतिनी पिछले साल विम्बल्डन के उपविजेता रहे थे। फाइनल में नोवाक जोकोविच ने उन्हें हराया था, ऐसे में ग्रास कोर्ट पर इस इटालियन खिलाड़ी की महारत किसी से छुपी नहीं है और अब लगातार दो खिताब जीतकर बेरेतिनी जोकोविच समेत सभी बड़े खिलाड़ियों के लिए खतरा बन सकते हैं।

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment