Create

सर्बिया ओपन का खिताब जीतने को तैयार नोवाक जोकोविच

नोवाक जोकोविच 2 बार सर्बिया ओपन जीत चुके हैं और पिछले साल सेमीफाइनल में हार गए थे।
नोवाक जोकोविच 2 बार सर्बिया ओपन जीत चुके हैं और पिछले साल सेमीफाइनल में हार गए थे।

दुनिया के नंबर 1 टेनिस खिलाड़ी अपने देश में होने वाले सर्बिया ओपन का खिताब जीतने के इरादे से टूर्नामेंट में उतरेंगे। टॉप सीड जोकोविच को 32 खिलाड़ियों के बीच होने वाली इस प्रतियोगिता के पहले दौर में बाई मिली है। पिछले हफ्ते सीजन के पहले क्ले कोर्ट मास्टर्स टूर्नामेंट मोंटे-कार्लो के अपने पहले ही मैच में हार का सामना करने वाले जोकोविच इस 250 रैंकिंग प्वाइंट वाले ईवेंट को दो बार साल 2009 और साल 2011 में जीत चुके हैं। खास बात ये है कि इस टूर्नामेंट की शुरुआत नोवाक जोकोविच के परिवार ने ही की और जिस स्टेडियम में ये मुकाबला खेला जाता है वो भी जोकोविच के नाम से ही है।

जोकोविच को दूसरे राउंड में सर्बिया के वाइल्ड कार्ड धारकल हमाद मेदेदोविच और लास्लो डेरे के बीच होने वाले मैच के विजेता से भिड़ेंगे। ये मुकाबला 20 अप्रैल को खेला जाएगा। जोकोविच के अलावा विश्व नंबर 8 रूस के एंड्री रुब्लेव को भी टूर्नामेंट में जगह मिली है। रुब्लेव दूसरी वरीयता प्राप्त खिलाड़ी हैं और उन्हें भी पहले दौर में बाई मिली है। इनके अलावा 2021 में जोकोविच को सेमीफाइनल में हराने वाले उपविजेता रूस के असलान करात्सेव, इटली के फेबियो फोग्निनी, ऑस्ट्रिया के डॉमिनिक थिएम और फ्रांस के रिचर्ड गास्केट जैसे नाम भी टू्र्नामेंट में शिरकत करेंगे। पिछली बार के विजेता बेरेतिनी ने इस सीजन टूर्नामेंट से हटने का फैसला किया है।

साल 2009 में पहली बार इस खिताब का आयोजन किया गया था जिसके बाद 2010, 2011 और 2012 में इसे सफलतापूर्व आयोजित किया गया। साल 2013 से 2020 तक ये प्रतियोगिता आयोजित नहीं हो पाई और पिछले साल सर्बिया के बेलग्रेड में एक बार फिर इस टूर्नामेंट को आयोजित किया गया, जिसमें इटली के मतेओ बेरेतिनी ने जीत हासिल की।

पिछली बार के चैंपियन मतेओ बेरेतिनी इस बार टूर्नामेंट में भाग नहीं ले रहे हैं।
पिछली बार के चैंपियन मतेओ बेरेतिनी इस बार टूर्नामेंट में भाग नहीं ले रहे हैं।

इस सीजन जोकोविच अपने पहले खिताब की तलाश में हैं। जनवरी में कोविड-वैक्सीनेशन न करवाने को लेकर हुए विवाद के बाद जोकोविच ऑस्ट्रेलियन ओपन में अपने खिताब की रक्षा के लिए नहीं उतर पाए थे। इसके बाद फरवरी में दोहा ओपन के क्वार्टरफाइनल में हारकर उन्हें नंबर 1 रैंकिंग गंवानी पड़ी, जो उन्हें मियामी ओपन के बाद वापस मिल गई। जोकोविच इंडियन वेल्स, मियामी ओपन जैसे दो बड़े टूर्नामेंट में भाग नहीं ले पाए। इसके बाद पिछले हफ्ते मोंटे-कार्लो मास्टर्स के पहले दौर में बाई पाने वाले जोकोविच को दूसरे दौर में स्पेन के गैर वरीय एलाहांद्रो फोकीना ने हराया जो आगे चलकर उपविजेता बने। ऐसे में जोकोविच मई-जून में होने वाले दूसरे ग्रैंड स्लैम फ्रेंच ओपन से पहले कुछ मोमेंटम पाने की कोशिश में हैं।

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment