Create

यूएस ओपन : रुब्लेव को हराकर करियर के पहले सेमीफाइनल में पहुंचे फ्रांसेस टियाफो

16 सालों के बाद टियाफो के रूप में कोई अमेरिकी पुरुष खिलाड़ी सेमिफाइनल में पहुंचा है।
16 सालों के बाद टियाफो के रूप में कोई अमेरिकी पुरुष खिलाड़ी सेमीफाइनल में पहुंचा है
Hemlata Pandey

अमेरिका के फ्रांसेस टियाफो यूएस ओपन पुरुष सिंगल्स सेमीफाइनल में पहुंच गए हैं। 22वीं सीड टियाफो ने साल के आखिरी ग्रैंड स्लैम के तीसरे क्वार्टरफाइनल में रूस के एंड्री रुब्लेव को 7-6,7-6, 6-4 से हराया। 24 साल के टियाफो के करियर का पहला ग्रैंड स्लैम सेमीफाइनल होगा। इससे पहले साल 2019 में वो ऑस्ट्रेलियन ओपन के क्वार्टरफाइनल में पहुंचे थे। टियाफो ने दो दिन पहले ही राफेल नडाल को चौथे दौर में हराकर बाहर किया था।

Millie Rocking his way to the semis 🔥 @FTiafoe | @usopen | #usopen https://t.co/60uRog4iTZ

दोनों खिलाड़ियों के बीच काफी आक्रामक खेल देखने को मिला, लेकिन 9वीं सीड रुब्लेव लगातार अपना आपा खोते रहे और इसका फायदा साफ तौर पर टियाफो को मिलता रहा। पहले सेट के टाईब्रेक में टियाफो ने संयम दिखाया और सेट जीता। दूसरे सेट में दोनों खिलाड़ी अपनी सर्व पर गेम जीतते रहे और टाईब्रेक में रुब्लेव की गलतियों का फायदा टियाफो को मिला। इस सेट का टाईब्रेक टियाफो ने 7-0 से जीता।

.@FTiafoe isn't done.He knows how many matches are left to win #USOpen title. https://t.co/3ICd3qcXLt

तीसरे और आखिरी सेट में 3-3 से बराबरी के बाद टियाफो ने अहम मौके पर रुब्लेव की सर्विस ब्रेक की। रुब्लेव लगातार गुस्से में दिखे और अपने खेल से बेहद निराश दिखे। एक बार तो गुस्से में आकर उन्होंने टेनिस बॉल को दांतो से काटने तक की कोशिश की, जबकि एक बार खराब रिटर्न देने पर अपने ही पैरों पर टेनिस रैकेट मारने लगे। मैच जीतने के बाद पूरा स्टेडियम टियाफो के लिए तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा।

Frances Tiafoe becomes the first Black 🇺🇸 man to reach a #USOpen semifinal since Arthur Ashe in 1972.He did it on the court named after Ashe. #BeOpen https://t.co/IEJtqCe2vo

साल 2006 के बाद यूएस ओपन के सेमीफाइनल में पहुंचने वाले टियाफो पहले अमेरिकी पुरुष खिलाड़ी हैं। 2006 में एंडी रॉडिक अंतिम 4 में पहुंचे थे। यही नहीं टियाफो से पहले आखिरी बार 1972 में आर्थर ऐश के रूप में कोई अश्वेत खिलाड़ी यूएस ओपन के सेमीफाइनल में पहुंचे थे। खास बात ये है कि जिस स्टेडियम में टियाफो ने रुब्लेव को हराया उसका नाम भी आर्थर ऐश के नाम पर ही है।


Edited by Prashant Kumar

Comments

Fetching more content...