ऑस्ट्रेलियन ओपन क्वालीफ़ायर के पहले दौर में जीते भारत के सुमित नागल

(Photo Courtesy: IANS)
(Photo Courtesy: IANS)

भारत के टॉप रैंकिंग टेनिस सिंगल्स खिलाड़ी सुमित नागल ने ऑस्ट्रेलियन ओपन के क्वालीफायर्स के पहले दौर में जीत दर्ज कर ली है। सुमित ने क्वालीफाइंग दौर के पहले मैच में फ्रांस के जेफ्री ब्लैंकेनॉक्स को 6-3, 7-5 से हराया जो एटीपी रैंकिंग में 238वें नंबर पर हैं। पहला सेट 6-4 से जीतने वाले सुमित दूसरे दौर में एक समय 4-5 से पीछे थे, लेकिन वह सेट को बचाने में कामयाब रहे।

सुमित को अब क्वालीफायर्स के दूसरे दौर में ऑस्ट्रेलिया के युवा खिलाड़ी 19 वर्षीय एडवर्ड विंटर का सामना करना होगा। विश्व रैंकिंग में 753वें स्थान पर काबिज एडवर्ड विंटर को क्वालीफायर्स में भी बतौर वाइल्ड कार्ड एंट्री दी गई है।

क्यों होते हैं क्वालीफायर्स?

एटीपी की ओर से आयोजित होने वाले सभी रैंकिंग टूर्नामेंट्स में एक निश्चित सीमा में कुछ खिलाड़ियों की एंट्री क्वालीफायर मुकाबलों के जरिए होती है। इससे अधिक रैंकिंग वाले खिलाड़ियों को टूर्नामेंट में खेलने का मौका मिलता है। ऑस्ट्रेलियन ओपन और बाकी तीन ग्रैंड स्लैम के मुख्य ड्रॉ से पहले बड़े स्तर पर क्वालीफायर आयोजित होते हैं। एकल स्पर्धा में कुल 128 खिलाड़ी क्वालीफायर खेल रहे हैं। इनमें से 16 को मुख्य ड्रॉ में जगह मिलेगी।

खत्म होगा सुमित का इंतजार ?

सुमित नागल ने साल 2019 के यूएस ओपन में पहली बार क्वालीफायर मुकाबलों को जीतते हुए मुख्य ड्रॉ में जगह बनाई थी जहां पूर्व विश्व नंबर 1 रॉजर फेडरर से उनका सामना हुआ था। 2020 में नागल ने यूएस ओपन के मुख्य ड्रॉ में न सिर्फ पहले दौर का मैच खेला बल्कि इसे जीत दूसरे दौर में भी पहुंचे थे। तब दूसरे दौर में नागल को ऑस्ट्रिया के डॉमिनिक थिएम ने हराया था, जो टूर्नामेंट को जीतने में भी कामयाब रहे थे। साल 2021 में नागल को ऑस्ट्रेलियन ओपन के पहले दौर में वाइल्ड कार्ड एंट्री मिली थी लेकिन तब वह हार गए थे। अब पूरे 3 साल के इंतजार के बाद नागल पहली बार किसी ग्रैंड स्लैम के मुख्य ड्रॉ में जगह बनाने का प्रयास कर रहे हैं।