Create

यूएस ओपन : कड़े मैच में हारे निक किर्गियोस, खाचानोव पहली बार अंतिम 4 में

26 साल के खाचानोव पहली बार किसी ग्रैंड स्लैम के सेमिफाइनल में पहुंचे हैं।
26 साल के खाचानोव पहली बार किसी ग्रैंड स्लैम के सेमिफाइनल में पहुंचे हैं।
reaction-emoji
Hemlata Pandey

रूस के कैरन खाचानोव यूएस ओपन पुरुष सिंगल्स के दूसरे सेमीफाइनलिस्ट बन गए हैं। विश्व नंबर 28 खाचानोव ने क्वार्टरफाइनल में फैन फेवरेट निक किर्गियोस को पांच सेट तक चले कड़े मैच में मात दी और अपने करियर में पहली बार किसी ग्रैंड स्लैम के सेमीफाइनल में पहुंचने में कामयाब हुए।

That semifinal feeling.@karenkhachanov fights past Nick Kyrgios in five intense sets. https://t.co/c0vfZ5XbNf

न्यूयॉर्क के आर्थर ऐश स्टेडियम में हजारों दर्शकों की मौजूदगी में खाचानोव ने मुकाबले को 7-5, 4-6, 7-5, 6-7, 6-4 से जीता। मैच देखने आए दर्शकों में से अधिकतर का समर्थन निक किर्गियोस के साथ था, लेकिन खाचानोव ने पूरे मैच में संयम बनाए रखा, बेहतरीन फोरहैंड विनर्स और बैकहैंड विनर्स लगाए।

किर्गियोस ने भी शानदार टेनिस खेली, और मुकाबले में लगातार जान डालते रहे, लेकिन अपने जाने-पहचाने अंदाज में किर्गियोस लगातार कुछ न कुछ बड़बड़ाते रहे, रैकेट पटकते रहे। कहीं न कहीं खाचानोव की जीत में किर्गियोस के इस गुस्से का हाथ भी रहा।

3 घंटे 39 मिनट तक चले मैच में खाचानोव ने 30 तो कर्गियोस ने 31 एस लगाए। खाचानोव ने मैच के बाद दर्शकों पर उन्हें समर्थन नहीं देने के लिए तंज भी कसा।

मैंने कर दिखाया, मैं यहां लड़ने और जीतने के इरादे से आया था और मुझे अपने प्रदर्शन पर काफी गर्व है। जनता का धन्यवाद देता हूं कि कम से कम मैच जीतने के बाद तो वो मुझे अपना प्यार दे रहे है।

खाचानो इससे पहले कभी भी यहां तीसरे दौर से आगे नहीं बढ़े थे, और पिछले साल तो पहले ही दौर में बाहर हो गए थे। इस जीत के बाद एटीपी रैंकिंग में खाचानोव टॉप 20 में एंट्री कर लेंगे। पिछले साल रूस के ही डेनिल मेदवेदेव ने यहां खिताब जीता था, अब अगर खाचानोव फाइनल में पहुंचकर टाइटल जीतते हैं, तो पहली बार ऐसा होगा जब लगातार दो बार यूएस ओपन रूसी खिलाड़ियों के नाम रहा हो। सेमीफाइनल में खाचानोव का मुकाबला नॉर्वे के कैस्पर रूड से होगा।


Edited by Prashant Kumar
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...