बचपन के दोस्त रुब्लेव को हराकर डेनिल मेदवेदेव ने जीता दुबई ओपन

दुबई ओपन के खिताब के साथ मेदवेदेव (बाएं) और उपविजेता रुब्लेव (दाएं)।
दुबई ओपन के खिताब के साथ मेदवेदेव (बाएं) और उपविजेता रुब्लेव (दाएं)

पूर्व विश्व नंबर 1 टेनिस खिलाड़ी रूस के डेनिल मेदवेदेव ने दुबई टेनिस चैंपियनशिप यानी दुबई ओपन का पुरुष सिंगल्स खिताब जीत लिया है। विश्व नंबर 7 मेदवेदेव ने फाइनल में गत विजेता और अपने बचपन के दोस्त रूस के ही एंड्री रुब्लेव को 6-2, 6-2 से मात दी। मेदवेदेव का यह इस सीजन का तीसरा हार्ड कोर्ट खिताब है।

टूर्नामेंट में तीसरी वरीयता प्राप्त मेदवेदेव ने सेमीफाइनल में मौजूदा विश्व नंबर 1 खिलाड़ी नोवाक जोकोविच को सीधे सेटों में मात दी थी। इसके बाद फाइनल में उनकी जीत तय मानी जा रही थी। रुब्लेव के खिलाफ महज 68 मिनट चले मुकाबले में मेदवेदेव ने बेहतरीन खेल दिखाया। यह मौजूदा सीजन में उनकी लगातार 14वीं जीत है। साल 2021 में यूएस ओपन जीतने वाले मेदवेदेव के लिए 2022 का साल काफी खराब रहा। ऐसे में 2023 की शुरुआत में ही तीन खिताब जीतकर उन्होंने बाकी बचे सीजन के लिए अपनी मजबूत दावेदारी पेश की है। मेदवेदेव ने जीत के बात इस बात पर खुशी जाहिर की। उन्होंने कहा,

यह शानदार है क्योंकि साल की शुरुआत ज्यादा परफेक्ट नहीं रही थी। टेनिस में जब आप मैच नहीं जीत पाते हो तो आप खुद की काबिलियत पर संदेह करने लग जाते हैं। लेकिन अब मुझे बेहतर महसूस हो रहा है। मुकाबला काफी तकनीकी रहा। मैं जानता हूं कि एंड्री किसी के लिए भी मुश्किल खड़ी कर सकते हैं। लेकिन आज मैंने कोशिश ज्यादा की। ऐसे में पिछले तीन हफ्तों में किए गए प्रदर्शन से मैं काफी खुश हूं।

27 साल के मेदवेदेव पहली बार दुबई ओपन के फाइनल में पहुंचे थे और इस जीत के बाद एटीपी रैंकिंग में उन्हें एक स्थान का फायदा हुआ है और वह सातवें स्थान पर आ गए हैं। वहीं एंड्री रुब्लेव ने पिछले साल यहां खिताब जीता था लेकिन इस बार खिताब नहीं जीत पाए। इस कारण उन्हें रैंकिंग अंकों का नुकसान हुआ और वह एक स्थान गिरते हुए छठे नंबर पर पहुंच गए हैं।

App download animated image Get the free App now