Create
Notifications

नई एटीपी रैंकिंग जारी, मेदवेदेव बने जोकोविच की जगह दुनिया के नंबर 1 टेनिस खिलाड़ी

मेदवेदेव नंबर 1 बनने वाले तीसरे रूसी खिलाड़ी हैं।
मेदवेदेव नंबर 1 बनने वाले तीसरे रूसी खिलाड़ी हैं।
Hemlata Pandey
visit

रूस के डेनिल मेदवेदेव आधिकारिक रूप से दुनिया के नंबर 1 पुरुष टेनिस खिलाड़ी बन गए हैं। सोमवार को एटीपी की ओर से जारी नई रैंकिंग में मेदवेदेव का नाम जोकोविच से एक स्थान ऊपर हो गया है। फरवरी 2020 के बाद से जोकोविच लगातार नंबर 1 की कुर्सी पर थे, लेकिन दुबई ओपन के क्वार्टर-फाइनल में क्वालिफायर जिरी वेसली के हाथों हार के बाद साफ हो गया था कि जोकोविच अब नंबर 1 नहीं रहेंगे और आधिकारिक एटीपी रैंकिंग में टेनिस के नए बादशाह मेदवेदेव बन गए हैं। आखिरी बार टेनिस रैंकिंग में रॉजर फेडरर, राफेल नडाल, एंडी मरे, जोकोविच यानि Big Four के अलावा कोई नया नाम टॉप पर साल 2004 की शुरुआत में था जब अमेरिका के एंडी रॉडिक नंबर 1 थे। अब 18 सालों के बाद मेदवेदेव के रूप में टेनिस प्रेमियों को नंबर 1 की कुर्सी पर नया नाम दिखा है।

मेदवेदेव 8615 अंकों के साथ नंबर 1 बन गए हैं, जबकि जोकोविच के अब 8465 अंक हैं और वो नंबर 2 हैं। तीसरे स्थान पर जर्मनी के ऐलेग्जेंडर ज्वेरेव हैं जबकि हाल ही में ऑस्ट्रेलियन ओपन के रूप में रिकॉर्ड 21वां सिंगल्स ग्रैंड स्लैम जीतने वाले स्पेन के राफेल नडाल नंबर 4 पर आ गए हैं। ग्रीस के स्टेफानोस सितसिपास एक स्थान खिसककर नंबर 5 पर आ गए हैं।

नोवाक जोकोविच ऑस्ट्रेलियन ओपन में नहीं खेल पाए थे जिसका असर उनकी रैंकिंग पर पड़ा।
नोवाक जोकोविच ऑस्ट्रेलियन ओपन में नहीं खेल पाए थे जिसका असर उनकी रैंकिंग पर पड़ा।

23 अगस्त 1973 से Association of Tennis Professionals यानि एटीपी की ओर से एक कम्प्यूटराइज्ड सिस्टम के जरिए रैंकिंग जारी की जाती रही है। मेदवेदेव 1973 के बाद नंबर 1 बनने वाले दुनिया के 27वें खिलाड़ी हैं। येवगेनी कफेलनिकोव और मरात साफिन के बाद रूस की ओर से नंबर 1 बनने वाले वो तीसरे खिलाड़ी भी हैं। सबसे ज्यादा कुल 361 हफ्तों तक नंबर 1 बनने का रिकॉर्ड जोकोविच के नाम था जो रिकॉर्ड 7 सालों की समाप्ति पर नंबर 1 पर काबिज थे। मेदवेदेव के लिए नंबर 1 बनना एक खास उपलब्धि जरूर है लेकिन उन्हें ये कुर्सी कायम रखने के लिए अब काफी मेहनत करनी होगी क्योंकि उनके और जोकोविच के बीच का अंतर ज्यादा नहीं है। वहीं राफेल नडाल जिस अंदाज में अब खेल रहे हैं, वो मेदवेदेव को पछाड़ते हुए खुद नंबर 1 बन सकते हैं।

कैसे मिलती है रैंकिंग

टेनिस जगत में पुरुषों के लिए Association of Tennis Professionals यानि एटीपी आधिकारिक संघ के रूप में काम करता है। एटीपी साल में होने वाले टूर्नामेंट्स जैसे - ग्रैंड स्लैम, एटीपी टूर मास्टर्स 1000 (साल में कुल 8), एटीपी टूर 500, एटीपी टूर 250, एटीपी चैलेंजर, डेविस कप जैसे टूर्नामेंट में प्रदर्शन के आधार पर अंक खिलाड़ी अर्जित करते हैं। इसमें खिलाड़ियों के इसी टूर्नामेंट के पिछले साल का परिणाम भी देखा जाता है। इसी के आधार पर हर सोमवार को आधिकारिक रूप से प्वाइंट्स के अनुसार रैंकिंग जारी होती है। इसी प्रकार महिला खिलाड़ियों को WTA की ओर से रैंकिंग दी जाती है।

महिलाओं में बार्टी नंबर 1

महिला खिलाड़ियों में ऑस्ट्रेलियन ओपन 2022 विजेता ऐश्ली बार्टी नंबर 1 की कुर्सी पर काबिज हैं। बेलारूस की आर्यना सबालेंका दूसरे और चेक रिपब्लिक की बारबरा क्रेजिकोवा तीसरे नंबर पर बनी हुई हैं।स्पेन की पॉला बडोसा चौथे नंबर पर आ गई हैं।

रैना, रामनाथन टॉप भारतीय

भारत की बात करें तो महिलाओं में देश की टॉप रैंकिंग खिलाड़ी अंकिता रैना हैं जो विश्व नंबर 290 हैं। वहीं पुरुष खिलाड़ियों में रामकुमार रामनाथन 7 स्थान चढ़कर 170वें नंबर पर आ गए हैं और देश के टॉप खिलाड़ी हैं। सुमित नागल 205वें नंबर पर हैं। प्रग्नेश गुन्नेश्वरन 246वें स्थान पर काबिज हैं।


Edited by निशांत द्रविड़
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now