हैमबर्ग ओपन : अल्कराज को हरा मुसेटी ने जीता करियर का पहला खिताब, बोपन्ना डबल्स फाइनल में हारे

हैमबर्ग ओपन की ट्रॉफी के साथ 20 साल के लोरेंजो मुसेटी।
हैमबर्ग ओपन की ट्रॉफी के साथ 20 साल के लोरेंजो मुसेटी।

20 साल के लोरेंजो मुसेटी ने जर्मनी में खेले जा रहे हैमबर्ग ओपन टेनिस टूर्नामेंट के पुरुष सिंगल्स का खिताब जीत लिया है। मुसेटी ने टॉप सीड स्पेन के कार्लोस अल्कराज को फाइनल में 6-4, 6-7, 6-4 से हराकर अपने करियर का पहला एटीपी टाइटल जीता। इस जीत से पहले मुसेटी की विश्व रैंकिंग 62 थी जो अब इस जीत के बाद 31 स्थान ऊपर पहुंच गई है और मुसेटी अब विश्व नंबर 31 खिलाड़ी बन गए हैं।

मुसेटी ने अल्कराज के खिलाफ काफी अच्छा खेल दिखाया लेकिन दूसरे सेट के अंत में काफी डगमगाते दिखे। मुसेटी ने पहला सेट जीता और दूसरे सेट में भी जीत दर्ज कर लेते लेकिन उन्होंने 5 चैंपियनशिप प्वाइंट गंवाए जिसका फायदा अल्कराज को हुआ और मैच तीसरे सेट तक गया। लेकिन यहां अल्कराज की सर्विस तोड़कर मुसेटी ने जीत दर्ज कर ली।

जीत के बाद मुसेटी ने कहा कि उन्होंने पूरे मैच में अपना धैर्य नहीं खोया और यही उनकी जीत की असली वजह थी। मुसेटी का ये पहला फाइनल भी था और ऐसे में इसे जीतना उनके लिए काफी खास रहा। वहीं 19 साल की टेनिस सनसनी अल्कराज अपने करियर में पहली बार किसी एटीपी टूर फाइनल में हारे। इससे पहले अल्कराज ने करियर में कुल 5 टूर्नामेंट के फाइनल खेले और जीते भी। इनमें से 4 फाइनल तो अल्कराज ने इसी सीजन में जीते। फाइनल में हार के बाद भी अल्कराज मौजूदा जारी एटीपी रैंकिंग में 5वें नंबर पर पहुंच गए हैं और साल 2005 में नडाल के बाद टॉप 5 में आने वाले सबसे युवा खिलाड़ी बन गए हैं।

बोपन्ना खिताब जीतने से चूके

हैमबर्ग ओपन के पुरुष डबल्स फाइनल में चौथी सीड भारत के रोहन बोपन्ना और नीदरलैंड्स के मात्वे मिडिलकूप को हार झेलनी पड़ी। बोपन्ना-मिडिलकूप को फिनलैंड के हिलियोवारा और ब्रिटेन के ग्लासपूल की जोड़ी ने 6-2, 6-4 से सीधे सेटों में मात दी। भारतीय-डच जोड़ी सेमीफाइनल में टॉप सीड जोड़ी को मात देकर खिताब मुकाबले में आई थी, लेकिन फाइनल में इस जोड़ी का तालमेल काफी टूटा हुआ दिखा।