Wimbledon : दो बार के विजेता एंडी मरे का अपमान, आयोजकों ने विशेष पेंटिंग से किया बाहर, फैंस हुए नाराज

मरे ने साल 2013 और 2016 में विम्बल्डन का पुरुष सिंगल्स खिताब जीता है।
मरे ने साल 2013 और 2016 में विम्बल्डन का पुरुष सिंगल्स खिताब जीता है।

पूर्व विश्व नंबर 1 टेनिस खिलाड़ी ब्रिटेन के एंडी मरे ने अपने करियर में दो बार विम्बल्डन का पुरुष सिंगल्स खिताब जीता, और इस कारण वही सबसे ज्यादा सफल ब्रिटिश टेनिस खिलाड़ियों में गिने जाते हैं। लेकिन इस साल प्रतियोगिता के आयोजकों की एक हरकत ने मरे की ना सिर्फ बेइज्जती की बल्कि उनके फैंस को भी खासा नाराज कर दिया।

दरअसल 3 जुलाई से इस साल शुरु हो रही विम्बल्डन चैंपियनशिप के प्रचार-प्रसार करने के लिए ऑल इंग्लैंड क्लब ने एक खास पेंटिंग बनाई जिसमें पूर्व विम्बल्डन विजेताओं और नए उभरते खिलाड़ियों की तस्वीरें हैं। लेकिन फैंस तब हैरान रह गए जब उन्हें पेंटिंग में एंडी मरे नहीं दिखे।

विम्बल्डन की इस पेंटिंग में इटली के युवा खिलाड़ी यैनिक सिनर और विश्व नंबर 1 कार्लोस अल्कराज सामने दिखाई दे रहे हैं और यह टेनिस का युवा वर्तमान दर्शा रहे हैं। उनके ठीक पीछे नोवाक जोकोविच, रॉजर फेडरर और राफेल नडाल को साथ चलते दिखाया गया है। लेकिन साल 2013 और 2016 में विम्बल्डन का खिताब जीतने वाले एंडी मरे पेंटिंग में नहीं हैं।

2013 में मरे ने जीत के प्रबल दावेदार जोकोविच को हराकर खिताब जीता था।
2013 में मरे ने जीत के प्रबल दावेदार जोकोविच को हराकर खिताब जीता था।

फैंस इसलिए नाराज हैं कि क्योंकि मरे खुद ब्रिटेन के निवासी हैं और विम्बल्डन का आयोजन इंग्लैंड में ही होता है। मरे साल 2012 में पहली बार विम्बल्डन के फाइनल में पहुंचे थे और 74 सालों में टूर्नामेंट का फाइनल खेलने वाले पहले ब्रिटिश खिलाड़ी बने। हालांकि तब वह फाइनल में रॉजर फेडरर के हाथों हार गए थे। इसके बाद लंदन ओलंपिक खेलों में रॉजर फेडरर को हराकर उन्होंने पुरुष सिंगल्स का गोल्ड जीता और साल 1908 के बाद टेनिस ओलंपिक गोल्ड जीतने वाले पहले ब्रिटिश पुरुष खिलाड़ी बने।

मरे ने साल 2012 में यूएस ओपन जीता और इसके बाद साल 2013 में मरे ने जोकोविच को हराकर विम्बल्डन का खिताब जीता। साल 2016 में मरे फ्रेंच ओपन के उपविजेता बने जबकि इसी साल विम्बल्डन का खिताब फिर जीता। इन उपलब्धियों के बाद भी मरे का विम्बल्डन की पेंटिंग पर ना होना फैंस को नहीं भा रहा। खुद मरे के परिवार के सदस्यों ने भी इस पूरे प्रकरण में आयोजकों से नाराजगी जाहिर की है।

कुछ फैंस का तो यह तक मानना है कि क्योंकि मरे स्कॉटिश हैं इसी कारण से इंग्लैंड के आयोजकों ने उन्हें पेंटिंग में शामिल नहीं किया है। विम्बल्डन की यह पेंटिंग इसलिए भी विवादों में है क्योंकि इसमें मार्टिना नवरातिलोवा, वीनस विलियम्स, सेरेना विलियम्स जैसी चैंपियन महिला सिंगल्स खिलाड़ियों को पुरुष खिलाड़ियों के काफी पीछे जगह दी गई है।

Edited by निशांत द्रविड़
App download animated image Get the free App now