Create

टेनिस स्टार एंडी मरे का बड़ा ऐलान, सालभर की ईनामी राशि देंगे यूक्रेनी बच्चों को दान

मरे UNICEF के साथ मिलकर विशेष रूप से यूक्रेनी बच्चों के लिए काम कर रहे हैं।
मरे UNICEF के साथ मिलकर विशेष रूप से यूक्रेनी बच्चों के लिए काम कर रहे हैं।

पूर्व विश्व नंबर 1 ब्रिटिश टेनिस खिलाड़ी एंडी मरे ने घोषणा की है कि वो इस पूरे साल टेनिस टूर्नामेंट से होने वाली कमाई को रूस-यूक्रेन युद्ध से पीड़ित बच्चों के लिए दान देंगे। मरे ने ट्वीट कर ऐलान किया कि वह UNICEF के साथ मिलकर यूक्रेन के उन बच्चों की मदद करने को तैयार हैं जो रूसी हमले के बाद विस्थापित हो गए हैं। मरे के मुताबिक करीब 75 लाख बच्चे इस युद्ध से प्रभावित होंगे और उनकी स्वास्थ्य, दवाईयों और शिक्षा की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए वो इनामी राशि से मदद करेंगे।

Over 7.5m children are at risk with the escalating conflict in Ukraine, so I’m working with @UNICEF_uk to help provide urgent medical supplies and early childhood development kits. 1/3

3 सिंगल्स ग्रैंड स्लैम विजेता मरे ने सभी से अपील भी की है कि वो मदद को आगे आएं। हाल ही में अपने पुराने कोच ईवान लेंडल के साथ वापस जुड़ने वाले मरे 10 मार्च से शुरु हो रहे इंडियन वेल्स एटीपी 1000 टूर्नामेंट में वाइल्ड कार्ड के रूप में खेलते नजर आएंगे। मरे पिछले काफी समय से बुरी फॉर्म से जूझ रहे हैं और अपनी बेहतर वापसी के लिए तैयारी कर रहे हैं। ऐसे में इस पूरे साल वो जिस भी टूर्नामेंट में खेलेंगे उससे मिलने वाली ईनामी धनराशि का इस्तेमाल यूक्रेन के युद्ध विस्थापित बच्चों के लिए करने के उनके फैसले की फैंस जमकर तारीफ कर रहे हैं।

@andy_murray @UNICEF_uk Well done, Andy. You can add impetus to a desperately needed situation. #UkraineWar is such a ghastly catastrophe.

एटीपी, WTA जैसे टेनिस संघों ने भी यूक्रेन के युद्ध पीड़ितों की मदद के लिए कुल 7 लाख अमेरिकी डॉलर यानी करीब 5.38 करोड़ रुपए की धनराशि दान करने का ऐलान किया है। टेनिस जगत की बाकी हस्तियां भी पिछले दिनों यूक्रेन के लोगों के साथ अपना समर्थन दिखा चुकी हैं। पूर्व विश्व नंबर 1 नोवाक जोकोविच यूक्रेन के रिटायर्ड टेनिस खिलाड़ी सर्गी स्थाकोवस्की को हर संभव मदद देने का वादा कर चुके हैं जो फिलहाल यूक्रेन की रिजर्व सेना में शामिल हुए हैं। खुद रूस के खिलाड़ी एंड्री रुब्लेव और डेनिल मेदवेदेव युद्ध रोकने की अपील कर चुके हैं। एटीपी, WTA और बाकि टेनिस संघों ने अनिश्चित काल के लिए टेनिस टूर्नामेंट में रूस और बेलारूस के राष्ट्रीय ध्वजों के इस्तेमाल पर रोक लगा दी है। साथ ही टीम ईवेंट्स से रूसी और बेलारूसी खिलाड़ियों को बाहर भी कर दिया है।

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment