'मेरे लिए सबसे खराब ग्रैंड स्लैम है विम्बल्डन' - पूर्व विश्व नंबर 1 डेनिल मेदवेदेव

विम्बल्डन में मीडिया डे के दौरान अपनी बात रखते डेनिल मेदवेदेव।
विम्बल्डन में मीडिया डे के दौरान अपनी बात रखते डेनिल मेदवेदेव।

पूर्व विश्व नंबर 1 टेनिस खिलाड़ी रूस के डेनिल मेदवेदेव ने विम्बल्डन को अपने प्रदर्शन के लिहाज से सबसे खराब ग्रैंड स्लैम बताया है। मौजूदा रैंकिंग में नंबर 3 पर काबिज मेदवेदेव के अनुसार वह इस बार इस टूर्नामेंट में अच्छा खेलना चाहते हैं और कम से कम चौथे दौर से आगे बढ़ने की उम्मीद कर रहे हैं।

3 जुलाई को विम्बल्डन के मुख्य ड्रॉ के मुकाबले शुरु होने से पहले हुए मीडिया डे में पूर्व यूएस ओपन चैंपियन मेदवेदेव ने बताया कि ग्रास कोर्ट पर वैसे भी उनका खेल ज्यादा खास नहीं रहता और ग्रास कोर्ट पर ही होने वाले इस ग्रैंड स्लैम में आज तक वह चौथे दौर से आगे नहीं बढ़ पाए हैं।

मैं इस साल काफी उम्मीदों के साथ विम्बल्डन खेलूंगा क्योंकि साल का यह तीसरा ग्रैंड स्लैम है। शुरुआती दोनों ग्रैंड स्लैम में मेरा प्रदर्शन खास नहीं रहा। मैं अपना सर्वश्रेष्ठ खेल दिखाने का प्रयास करुंगा और मेरी कोशिश रहेगी कि टूर्नामेंट में अधिक से अधिक मैच जीत सकूं।

विम्बल्डन परिणाम के लिहाज से मेदवेदेव के लिए सबसे खराब ग्रैंड स्लैम रहा है। 2021 में वह चौथे दौर तक पहुंचे थे और यह इस टूर्नामेंट में उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। यह इकलौता ग्रैंड स्लैम है जहां मेदवेदेव क्वार्टर-फाइनल या उससे आगे नहीं जा पाए हैं। साल 2021 और 2022 में ऑस्ट्रेलियन ओपन का फाइनल खेल चुके मेदवेदेव ने साल 2021 में यूएस ओपन के रूप में अपना इकलौता ग्रैंड स्लैम जीता।

27 साल के मेदवेदेव इस सीजन अभी तक 5 खिताब जीत चुके हैं जिनमें रोम मास्टर्स, मियामी मास्टर्स, दुबई ओपन, दोहा ओपन और रॉटरडैम ओपन शामिल हैं। अब इसी प्रदर्शन को दिमाग में रखते हुए मेदवेदेव विम्बल्डन में उतरना चाहेंगे। पिछले साल रूसी खिलाड़ियों पर ऑल इंग्लैंड क्लब ने प्रतिबंध लगाया था जिस कारण मेदवेदेव यहां नहीं खेल पाए थे। अब 2023 में अपने खेल के जरिए यह रूसी खिलाड़ी ग्रास कोर्ट पर अपनी पकड़ मजबूत करने के लिए उतरेगा।

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment