फ्रेंच ओपन से ठीक पहले नोवाक जोकोविच ने गंवाई टॉप रैंकिंग, अल्कराज बने नंबर 1 खिलाड़ी

जोकोविच और अल्कराज को इस बार फ्रेंच ओपन का सबसे प्रबल दावेदार माना जा रहा है।
जोकोविच और अल्कराज को इस बार फ्रेंच ओपन का सबसे प्रबल दावेदार माना जा रहा है।

साल के दूसरे ग्रैंड स्लैम फ्रेंच ओपन के मुख्य ड्रॉ के मुकाबले शुरु होने के ठीक पहले नोवाक जोकोविच विश्व रैंकिंग में नंबर 1 से नीचे खिसक गए हैं। इटालियन ओपन के क्वार्टर-फाइनल में हारने के कारण नोवाक को 820 अंकों का नुकसान हुआ और वह अब एटीपी रैंकिंग में नंबर 3 पर आ गए हैं। नोवाक जोकोविच की हार का फायदा स्पेन के कार्लोस अल्कराज को हुआ जो अब नए विश्व नंबर 1 बन गए हैं।

नोवाक जोकोविच इटालियन ओपन के गत विजेता थे और इस टूर्नामेंट के जरिए पिछले साल जीते 1000 एटीपी अंको को बचाने के लिए उन्हें खिताब जीतना जरूरी था। लेकिन जोकोविच क्वार्टरफाइनल में 20 साल के डेनिश खिलाड़ी होल्गर रूने के हाथों हार गए, इसी कारण उन्हें रैंकिंग अंकों का नुकसान हुआ। कार्लोस अल्कराज इस टूर्नामेंट के दूसरे दौर में हार गए थे लेकिन क्योंकि पिछले साल वह टूर्नामेंट का हिस्सा नहीं बने थे। ऐसे में दूसरे दौर में पहुंचने के लिए उन्हें 45 अंक प्राप्त हुए जिस कारण कुल 6815 रैंकिंग अंकों के साथ अल्कराज एक बार फिर विश्व नंबर 1 बन गए हैं।

इटालियन ओपन का खिताब जीतने वाले रूस के डेनिल मेदवेदेव रैंकिंग में दूसरे स्थान पर आ गए हैं। मेदवेदेव के 6330 अंक हैं। चौथे स्थान पर नॉर्वे के कैस्पर रूड कायम हैं जबकि पांचवे स्थान पर ग्रीस के स्टेफानोस सितसिपास हैं। इटालियन ओपन में नोवाक जोकोविच को हराने वाले उपविजेता होल्गर रूने एक स्थान की बढ़त के साथ छठे नंबर पर पहुंच चुके हैं। खिलाड़ियों की रैंकिंग का असर फ्रेंच ओपन के मुख्य ड्रॉ पर पड़ेगा।

भारत की बात करें तो सुमित नागल एटीपी रैंकिंग में 256वें स्थान पर हैं और फिलहाल भारत के नंबर 1 सिंगल्स प्लेयर हैं। उनके बाद 379वें स्थान पर मुकुंद ससिकुमार हैं जबकि 453वें नंबर पर प्रज्ञनेश गुन्नेश्वरन मौजूद हैं। वहीं रोहन बोपन्ना पुरुष डबल्स की रैंकिंग में दो स्थान की उछाल के साथ 9वें नंबर पर आ गए हैं।

App download animated image Get the free App now