Wimbledon - ट्यूनिशिया की जेबूर सेमीफाइनल में पहुंचने वाली पहली अफ्रीकी खिलाड़ी

ओंस जेबूर इस सीजन ग्रास कोर्ट पर कोई भी मैच नहीं हारीं हैं।
ओंस जेबूर इस सीजन ग्रास कोर्ट पर कोई भी मैच नहीं हारीं हैं।

विश्व नंबर 2 टेनिस खिलाड़ी ओंस जेबूर विम्बल्डन महिला सिंगल्स के सेमीफाइनल में पहुंच गई हैं। टूर्नामेंट में तीसरी वरीयता प्राप्त जेबूर ने क्वार्टरफाइलन मुकाबले में चेक रिपब्लिक की मारिया बुजुकोवा को तीन सेट तक चले मैच में 3-6, 6-1, 6-1 से हराया और पहली बार अपने करियर में किसी ग्रैंड स्लैम सेमीफाइनल में स्थान पक्का किया। जेबूर ऐसा करने वाली पहली अरब और अफ्रीकी महिला खिलाड़ी बन गई हैं।

विश्व नंबर 66 बुजुकोवा का ये किसी भी ग्रैंड स्लैम का पहला क्वार्टरफाइनल मुकाबला था और पहले सेट में बुजुकोवा ने जेबूर को हराकर सभी को चौंका दिया। लेकिन जेबूर ने शानदार टॉप स्पिन रिटर्न और नेट गेम के चलते अगले दोनों सेटों में बुजुकोवा की सर्विस लगातार ब्रेक की और 6-1, 6-1 से सेटों को जीतकर अंतिम 4 में जगह बना ली। टॉप सीड ईगा स्वियातेक और दूसरी सीड कोंतावित के हारने के बाद जेबूर टूर्नामेंट में सबसे ऊंची रैंकिंग वाली महिला सिंगल्स खिलाड़ी हैं और फिलहाल खिताब की प्रबल दावेदार हैं।

27 साल की जेबूर पिछले साल विम्बल्डन के क्वार्टरफाइनल में पहुंची थीं जबकि साल 2020 में ऑस्ट्रेलियन ओपन के क्वार्टरफाइनल तक पहुंचने में भी कामयाब रहीं थीं। जेबूर का ये पांचवा विम्बल्डन है। मौजूदा सीजन में जेबूर ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया है। पिछले साल बर्मिंघम क्लासिक जीतकर जेबूर कोई भी WTA खिताब जीतने वाली पहली अरब महिला खिलाड़ी बनीं। इसके बाद इसी साल मेड्रिड ओपन के रूप में जेबूर ने करियर का पहला WTA 1000 खिताब अपने नाम किया।

इसके बाद जेबूर एक और WTA 1000 टूर्नामेंट इटालियन ओपन के फाइनल तक पहुंची जहां विश्व नंबर 1 ईगा स्वियातेक से हारीं थीं। हालांकि इसके बाद फ्रेंच ओपन के पहले ही दौर में जेबूर को हार का सामना करना पड़ा, लेकिन इसके ठीक बाद जेबूर ने जर्मन ओपन का खिताब अपने नाम किया और अब विम्बल्डन में इतिहास रच रही हैं। सेमीफाइनल में जेबूर का सामना जर्मनी की तात्याना मारिया से होगा जो जेबूर की काफी अच्छी दोस्त भी हैं।