Create
Notifications

22 सालों में पहली बार विश्व रैंकिंग में टॉप 40 से बाहर हुए रॉजर फेडरर, 18 स्थान का हुआ नुकसान

चोट के कारण विम्बल्डन 2021 के बाद फेडरर ने कोई मैच नहीं खेला है।
चोट के कारण विम्बल्डन 2021 के बाद फेडरर ने कोई मैच नहीं खेला है।
Hemlata Pandey
visit

दुनिया के सर्वश्रेष्ठ टेनिस खिलाड़ियों में शुमार और पूर्व विश्व नंबर 1 पुरुष सिंगल्स खिलाड़ी रॉजर फेडरर ताजा जारी एटीपी रैंकिंग में 44वें स्थान पर खिसक गए हैं। साल 2000 के बाद पहली बार ये खिलाड़ी टॉप 40 से बाहर हो चुका है। पिछले साल आखिरी बार विम्बल्डन में खेलते दिखे 40 साल के फेडरर पिछले हफ्ते तक 26वें नंबर पर थे लेकिन मियामी ओपन के बाद जारी ताजा रैंकिंग में उन्हें पूुरे 18 स्थानों का नुकसान हुआ है।

पिछले 22 सालों से फेडरर टॉप 40 खिलाड़ियों की रैंकिंग में शामिल थे। कई बार चोट की वजह से या खराब प्रदर्शन की वजह से भी वो इतनी निचली रैंकिंग में नहीं गिरे थे, लेकिन अब वो चोट के कारण कई महीनों से कोर्ट से बाहर हैं और ऐसे में उनकी रैंकिंग हैरान करने वाली नहीं है। फेडरर के कुल 1120 अंक हैं और हाल ही में कोर्ट पर प्रैक्टिस करते हुए उनका एक वीडियो वायरल हुआ था, लेकिन वो पहले ही साफ कर चुके हैं कि इस साल के मध्य तक वो प्रोफेशनल रूप से कोर्ट पर वापस नहीं आएंगे। ऐसे में वो इस फ्रेंच ओपन के रूप में इस सीजन का दूसरा ग्रैंड स्लैम तो मिस करेंगे ही लेकिन विम्बल्डन तक कोर्ट में वापसी करेंगे या नहीं, ये साफ नहीं है। और अगर ऐसा ही चलता रहा तो फेडरर जल्द टॉप 50 से भी बाहर हो सकते हैं।

जोकोविच टॉप पर,नडाल को एक स्थान का नुकसान

सर्बिया के नोवाक जोकोविच अब भी पुरुष सिंगल्स रैंकिंग में टॉप पर हैं। जोकोविच फरवरी से मार्च के बीच 3 हफ्तों के लिए नंबर 2 बने थे जब रूस के डेनिल मेदवेदेव ने उनका नंबर 1 स्पॉट ले लिया था। लेकिन मेदवेदेव के इंडियन वेल्स में तीसरे दौर में हारने के बाद जोकोविच दोबारा नंबर 1 बन गए थे। जोकोविच के 8420 रैंकिंग प्वाइंट हैं जबकि उनसे सिर्फ 10 अंक पीछे 8410 अंकों के साथ मेदवेदेव दूसरे स्थान पर हैं।

सर्बिया के नोवाक जोकोविच एटीपी रैंकिंग में अब भी नंबर 1 बने हुए हैं।
सर्बिया के नोवाक जोकोविच एटीपी रैंकिंग में अब भी नंबर 1 बने हुए हैं।

स्पेन के राफेल नडाल इंडियन वेल्स का फाइनल खेलने के बाद विश्व नंबर 3 बने थे लेकिन पीठ की चोट के कारण वो मियामी ओपन में नहीं खेल पाए और फिलहाल एक स्थान के नुकसान के साथ नंबर 4 बन गए हैं। एलेग्जेंडर ज्वेरेव दोबारा नंबर 3 बन गए हैं। मियामी ओपन जीतने वाले 18 साल के कार्लोस अलकराज को 5 स्थान का फायदा हुआ है और वो 11वें स्थान पर हैं वहीं कार्लोस के हाथों फाइनल में हारने वाले नॉर्वे के कैस्पर रूड एक स्थान के फायदे के साथ 7वें नंबर पर आ गए हैं।

भारत के रामकुमार रामनाथन 170वें नंबर पर हैं और देश के सर्वोच्च रैंकिंग प्राप्त पुरुष खिलाड़ी हैं। प्रग्नेश गुन्नेश्वरन (239), सुमित नागल (251), मुकुंद ससिकुमार (385) टॉप 400 में शामिल हैं।


Edited by निशांत द्रविड़
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now