Create

विनेश फोगाट ने जीता गोल्‍ड मेडल और फिर बनी नंबर-1

विनेश फोगाट
विनेश फोगाट

भारत की स्‍टार महिला पहलवान विनेश फोगाट ने माटियो पैलिकोन रैंकिंग कुश्ती सीरीज में जीत दर्ज करके लगातार दूसरे सप्ताह दूसरा गोल्‍ड मेडल अपने नाम किया। इसके साथ ही विनेश फोगाट 53 किग्रा वर्ग में फिर से टॉप पर पहुंच गई हैं। याद दिला दें कि वर्ल्‍ड चैंपियनशिप की ब्रॉन्‍ज मेडलिस्‍ट 26 साल की विनेश फोगाट टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाली भारत की एकमात्र महिला पहलवान हैं।

विनेश फोगाट ने 53 किग्रा के फाइनल में कनाडा की डायना मैरी हेलन वीकर को 4-0 से हराया। विनेश फोगाट ने अपने सभी अंक पहले पीरियड में हासिल किए और दूसरे पीरियड में अपनी बढ़त बरकरार रखकर गोल्‍ड मेडल जीता।

पता हो कि विनेश फोगाट ने पिछले सप्ताह कीव में गोल्‍ड मेडल जीता था और इससे उन्हें यह विश्वास हो गया होगा कि ओलंपिक के लिए उनकी तैयारियां अच्‍छी चल रही हैं। इस भारतीय महिला पहलवान ने प्रतियोगिता में विश्व की नंबर तीन पहलवान के रूप में प्रवेश किया और 14 अंक हासिल करके फिर से नंबर-1 बनीं।

विनेश फोगाट ने टूर्नामेंट में एक भी अंक नहीं गंवाया। उन्होंने तीन में से अपने दो मुकाबलों में प्रतिद्वंद्वी को चित किया। वहीं सरिता मोर ने शनिवार को 57 किग्रा में सिल्‍वर मेडल जीता था।

विनेश फोगाट के अलावा बजरंग का दमदार प्रदर्शन

विनेश फोगाट के अलावा भारत के स्‍टार पहलवान बजरंग पूनिया ने पुरूष 65 किग्रा स्पर्धा के फाइनल में स्थान पक्‍का किया। बजरंग पूनिया ने सेमीफाइनल में अमेरिका के जोसफ क्रिस्टोफर मैक केना को 6-3 से मात दी और फाइनल में जगह पक्‍की की।

इससे पहले बजरंग पूनिया ने तुर्की के पूर्व कैडेट विश्व चैम्पियन सेलिम कोजान को 7-0 से मात दी थी। बजरंग के 'लेग डिफेंस' में काफी सुधार दिखा, पर फिर भी अमेरिकी पहलवान ने उनके दायें पैर को तीन बार पकड़ लिया। हालांकि बजरंग ने इस पकड़ पर मैक केना को अंक नहीं जुटाने दिये।

भारतीय पहलवान ने पटखनी देकर अंक जुटाये और 4-2 से बढ़त हासिल कर ली। मैक केना ने दूसरे पीरियड में स्कोर के अंतर को 3-4 कर दिया पर बजरंग ने दो अंक जुटाकर जीत हासिल की। अब उनका सामना मंगोलिया के तुल्गा तुमुर ओचिर से होगा, जिन्होंने 65 किग्रा के दूसरे सेमीफाइनल में भारत के रोहित को 4-0 से हराया। रोहित अब ब्रॉन्‍ज मेडल के लिये भिड़ेंगे।

वहीं 74 किग्रा के क्वार्टरफाइनल में नरसिंह यादव ने इटली के फिनिजियो पर तकनीकी श्रेष्ठता से आसान जीत दर्ज की, लेकिन सेमीफाइनल में वह 2012 ओलंपिक चैम्पियन और चार बार के विश्व चैम्पियन जोर्डन अर्नस्ट बुरोघ से हार गये। नरसिंह भी ब्रॉन्‍ज मेडल के लिए खेलेंगे।

Quick Links

Edited by Vivek Goel
Be the first one to comment