Create
Notifications

रेसलिंग की दुनिया की 10 बड़ी हस्तियां जिनकी साल 2019 में मौत हुई 

ऐश्ले मसारो
ऐश्ले मसारो
Subham Pal

साल 2019 प्रोफेशनल रेसलिंग के लिए काफी महत्वपूर्ण साल रहा है। इस साल रेसलिंग जगत में इतना कुछ घटा है जो आने वाले कई सालों तक याद रखा जाएगा। साथ ही इस साल कई रेसलर्स की मौत हुई, इसलिए हम कह सकते हैं कि यह साल रेसलिंग जगत के लिए काफी खराब साल भी रहा है।

इन रेसलर्स ने बिज़नस में काफी योगदान दिया है ताकि फैंस का मनोरंजन हो सके। इस आर्टिकल में हम ऐसे 10 रेसलिंग हस्तियों के बारे में बात करने वाले हैं कि जिनकी साल 2019 में मौत हुई।

#10 डिक 'द डैस्ट्रॉयर' बेयर

11 जुलाई 1930 - 7 मार्च 2019
11 जुलाई 1930 - 7 मार्च 2019

डिक बेयर ने 1950 की दशक में अपने प्रो रेसलिंग करियर की शुरुआत की और उन्होंने करीब 3 दशक तक फैंस का मनोरंजन किया। 1960 के दशक में उन्होंने 'द डैस्ट्रॉयर' के रूप में रेसलिंग की और उन्होंने फ्रेडी ब्लेसी के खिलाफ मास्क पहनकर मैच लड़ते हुए उन्हें हराकर उनका पहला WWA वर्ल्ड टाइटल जीता।

यह भी पढ़े: 3 बड़ी चीजें जो अगले हफ्ते रॉ में देखने को मिल सकती है

1963 में उन्होंने जापानी लैजेंड रिकीडोज़न के खिलाफ मैच लड़ा। आपको बता दें, इस मैच को करीब 7 मिलियन टेलीविज़न दर्शकों ने देखा और स्पोर्ट्स के इतिहास में सबसे ज्यादा देखे गए मैचों में से एक बन गया। 7 मार्च, 2019 को बेयर की 88 वर्ष की आयु में मौत हो गई।

#9 यूसूके 'वैली' यामागुची

5 मई 1958 - 9 मार्च 2019
5 मई 1958 - 9 मार्च 2019

यामागुची ने अपने करियर की शुरुआत 70 के दशक में गॉन्ग मैगज़ीन के लेखक के रूप में की। वह प्रोफेशनल रेसलिंग के बहुत बड़े फैन थे और 80 के दशक में उन्होंने कई जापानी रेसलिंग प्रमोशंस में रेफरी, मैनेजर और कमेंटेटर के रूप में काम किया।

यामागुची ने मार्च 1998 में WWE के साथ डील साइन की और वह जापानी स्टेबल कैइंटाई के मैनेजर बने। यूसूके यामागुची की 9 मार्च, 2019 को 60 वर्ष की उम्र में एक अनजान बीमारी के कारण मौत हो गई।

WWE News in Hindi, RAW, SmackDown के सभी मैच के लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

#8. सैल्वाटोर बेलोमो

18 जून 1951 - 9 फरवरी 2019
18 जून 1951 - 9 फरवरी 2019

सैल्वाटोर बेलोमो ने 1983 में WWE जॉइन की। अपने करियर के दौरान उन्होंने जेसी 'द बॉडी' वेंचुरा, बॉब बैकलन और बॉबी द ब्रेन जैसे सुपरस्टार्स के साथ रेसलिंग की।

बेलोमो ने इसके अलावा NWA ईस्टर्न चैंपियनशिप रेसलिंग(ECW) में भी 1993 से 1994 तक रेसलिंग कर चुके हैं। साल 1993, में उन्होंने जिमी स्नूका के खिलाफ ECW चैंपियनशिप मैच लड़ा, हालांकि, वह यह मैच जीतने में नाकामयाब रहे। 9 फरवरी 2019 को 67 वर्ष के उम्र में बेलोमो की कैंसर के कारण मौत हो गई।

#7 एल विल्सन

एल विल्सन
एल विल्सन

एल विल्सन, WWE हॉल ऑफ़ फेमर टोरी विल्सन के पिता थे। वह 2002 से 2003 तक स्मैकडाउन में नजर आए थे और कंपनी में उनका सबसे यादगार क्षण तब आया, जब उन्होंने 2 जनवरी, 2003 के स्मैकडाउन के एपिसोड के दौरान डॉन मैरी से शादी की।

2019 हॉल ऑफ़ फेमर के दौरान टोरी विल्सन ने अपने पिता के बारे में कहा-

"मैं बहुत सौभाग्यशाली हूं कि मुझे यहां उनके साथ यह अनुभव करने का मौका मिला।"

#6 सिल्वर किंग

सिल्वर किंग
सिल्वर किंग

सिल्वर किंग एक लूचा लैजेंड थे जिन्होंने पूरे दुनिया भर के फैंस का मनोरंजन किया और 90 के दशक में वह वर्ल्ड चैंपियनशिप रेसलिंग के क्रूजरवेट डिवीजन का महत्वपूर्ण हिस्सा हुआ करते थे। उन्होंने यूनिवर्सल रेसलिंग एसोसिएशन, CMLL, AAA, WCW, AJPW, NJPW जैसे कई प्रमोशन में काम किया और उन्होंने दुनिया भर के कई प्रमोशंस में कई चैंपियनशिप जीती।

11 मई, 2019 को 51 वर्ष की उम्र में मैच के दौरान रिंग में हार्ट अटैक आने से उनकी मृत्यु हो गई।

#5 ऐश्ले मैसारो

ऐश्ले मैसारो
ऐश्ले मैसारो

ऐश्ले मैसारो ने रॉ डीवा सर्च कम्पीटिशन जीतने के बाद साल 2005 में WWE जॉइन की। रेड ब्रांड का सदस्य बनने के बाद उन्होंने कैंडिस मिशेल और टोरी विल्सन के साथ फ्यूड किया और उन्होंने WWE हॉल ऑफ़ फेमर ट्रिश स्ट्रेट्स के साथ टीम बनाकर मैच लड़ा।

मैसारो ने चोट से उबरने के बाद साल 2006 में स्मैकडाउन में वापसी की, इसके अगले साल विंस मैकमैहन पर कॉफ़ी फेंकने के कारण उन्हें सस्पेंड कर दिया गया। साल 2008 में WWE ने उन्हें रिलीज़ कर दिया।

16 मई 2019 को उनके 40वें जन्मदिन से ठीक दिन पहले ऐश्ले मैसारो की मौत हो गई।

#4 किंग कांग बंडी

7 नवंबर 1955 - 4 मार्च 2019
7 नवंबर 1955 - 4 मार्च 2019

किंग कांग बंडी ने 1981 में क्रिस कैनियन के रूप में WWE डेब्यू किया और साल 1995 में WWE के साथ डील साइन करने से पहले उन्होंने WCC, AWA,NWA जैसे कई प्रमोशंस के साथ काम किया था। आपको बता दें, अपने मैचों के दौरान किसी रेसलर को पिन करते वक़्त वह रेफरी को 5 काउंट करने के लिए कहते थे, यह चीज दर्शाती है कि वह कितने शक्तिशाली थे।

बंडी रेसलमेनिया में हल्क होगन और द अंडरटेकर जैसे बड़े सुपरस्टार्स के खिलाफ मैच लड़ चुके हैं, हालांकि इन दोनों ही मैच में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। 63 वर्ष की आयु में डायबिटीज के कारण उनकी मृत्यु हो गई।

#3 पेड्रो मोरालेस

22 अक्टूबर, 1942 - 12 फरवरी 2019
22 अक्टूबर, 1942 - 12 फरवरी 2019

पेड्रो मोरालेस ने WWA और WWWF(अब WWE) दोनों प्रमोशंस में काफी सफलता हासिल की और वह वर्ल्ड हैवीवेट चैंपियनशिप जीतने वाले पहले लैटिन रेसलर बने। उन्होंने WWWF में अपने करियर के दौरान वर्ल्ड हैवीवेट चैंपियनशिप, यूएस चैंपियनशिप, इंटरकॉन्टिनेंटल हैवीवेट चैंपियनशिप और टैग-टीम चैंपियनशिप अपने नाम की।

साथ ही WWE इतिहास के पहले ट्रिपल चैंपियन भी हैं। इसी साल 77 वर्ष की आयु में उन्होंने दुनिया को अलविदा कर दिया।

#2. मीन 'जीन' ओकरलैंड

19 दिसम्बर 1942 - 2 जनवरी 2019
19 दिसम्बर 1942 - 2 जनवरी 2019

मीन जीन ने साल 1984 में एक इंटरव्यूर और कंपनी के टीवी शोज के होस्ट के रूप में WWE जॉइन की। उन्होंने उसी साल अपना इन-रिंग डेब्यू करते हुए हल्क होगन के साथ टीम बनाकर मिस्टर 'फूजी' और जॉर्ज 'द एनिमल' स्टील के खिलाफ टैग टीम मैच लड़ा। हालांकि, रिंग में उनकी तरफ से एक्शन देखने को नहीं मिला लेकिन उन्होंने मिस्टर फूजी को पिन किया।

1993 में कंपनी छोड़ने के बाद उन्होंने एक इंटरव्यूर के रूप में WCW जॉइन की। WWE जॉइन करने से पहले उन्होंने इस प्रमोशन में कई बार प्रमोट किया। एक अप्रैल 2006 को हल्क होगन के द्वारा उन्होंने WWE हॉल ऑफ़ फेम में शामिल किया गया।

#1 हार्ले रेस

11 अप्रैल 1943 - 1 अगस्त 2019
11 अप्रैल 1943 - 1 अगस्त 2019

हार्ले रेस ने 1960 के दशक में अपने प्रो रेसलिंग करियर की शुरुआत की थी। AWA प्रमोशन में रहते हुए उन्होंने वर्ल्ड टैग टीम चैंपियनशिप जीती।

उन्होंने साल 1986 में WWE जॉइन की और उन्होंने 1986 किंग ऑफ़ रिंग टूर्नामेंट जीता। आपको बता दें, वह यह रॉयल पोशाक और मुकुट पहने वाले पहले शख्स बने। यह टूर्नामेंट जीतने के बाद से ही उन्हें आधिकारिक रूप से किंग 'हार्ले' रेस नाम से जाना जाने लगा।

2004 में हार्ले रेस को हॉल ऑफ़ फेम में शामिल किया गया और 1 अगस्त, 2019 को फेफड़े के कैंसर के कारण उनकी मृत्यु हो गई।

Edited by विजय शर्मा

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...