जानिए 2 कारणों से WWE को अनडिस्प्यूटेड यूनिवर्सल चैंपियनशिप को अलग-अलग कर देना चाहिए और 2 क्यों नहीं करना चाहिए

अनडिस्प्यूटेड WWE यूनिवर्सल चैंपियन रोमन रेंस
WWE में इस समय रोमन रेंस अनडिस्प्यूटेड यूनिवर्सल चैंपियन हैं

Roman Reigns: WWE रेसलमेनिया (WrestleMania 38) के मेन इवेंट में यूनिवर्सल चैंपियन रोमन रेंस (Roman Reigns) ने WWE चैंपियन ब्रॉक लैसनर (Brock Lesnar) को हराया था। रेंस दोनों वर्ल्ड चैंपियनशिप को यूनिफाई कर कंपनी के पहले अनडिस्प्यूटेड WWE यूनिवर्सल चैंपियन बने थे।

कई जानकारों का मानना है कि दोनों वर्ल्ड चैंपियनशिप को मिला देने से कई काबिल सुपरस्टार्स वर्ल्ड चैंपियन बनने से चूक रहे हैं। हालांकि, कुछ लोग कंपनी में एक ही वर्ल्ड चैंपियनशिप के पक्ष में हैं। इस आर्टिकल में हम 2 कारण जानेंगे कि क्यों कंपनी को अनडिस्प्यूटेड WWE यूनिवर्सल चैंपियनशिप को फिर से अलग-अलग कर देना चाहिए और 2 क्यों ऐसा नहीं करना चाहिए।

#2- अनडिस्प्यूटेड WWE यूनिवर्सल चैंपियनशिप को फिर से अलग-अलग करना चाहिए : रोमन रेंस का बहुत ही कम चैंपियनशिप को डिफेंड करना

रोमन रेंस अब कम ही प्रोग्रामिंग का हिस्सा होते हैं
रोमन रेंस अब कम ही प्रोग्रामिंग का हिस्सा होते हैं

Clash at the Castle प्रीमियम लाइव इवेंट में ड्रू मैकइंटायर को हराने के बाद मेन रोस्टर में रोमन रेंस के लिए बहुत ही कम काबिल प्रतिद्वंदी बचे हैं। कंपनी के पास यूके मेगा शो में नया वर्ल्ड चैंपियन बनाने एक सुनहरा मौका था। हालांकि, कंपनी ने होमक्राउड होने के बावजूद भी ड्रू मैकइंटायर की जगह ट्राइबल चीफ को जीत के लिए बुक किया।

रोमन रेंस की कंपनी के साथ हुई नई डील के अनुसार वो WWE प्रोग्रामिंग का हिस्सा नियमित अंतराल पर नहीं बनेंगे। कंपनी रेंस को ही सबसे बड़ा स्टार दिखाना चाहती है लेकिन इसके कारण कई सुपरस्टार्स वर्ल्ड चैंपियन नहीं बन पा रहे हैं। कंपनी को दोनों वर्ल्ड चैंपियनशिप को अब अलग कर देना चाहिए, जिससे फैंस को एक वर्ल्ड चैंपियन हमेशा देखने मिले।

#2- अनडिस्प्यूटेड WWE यूनिवर्सल चैंपियनशिप को फिर से अलग-अलग नहीं करना चाहिए : यूनिफाइड वर्ल्ड चैंपियनशिप का ज्यादा मजबूत दिखना

youtube-cover

कंपनी समय-समय पर वर्ल्ड चैंपियनशिप और उसके फॉर्मेट को बदलती रहती है। यह पहली बार नहीं है कि कंपनी ने दो वर्ल्ड चैंपियनशिप को एक साथ यूनिफाई किया है। कंपनी के सबसे टॉप चैंपियनशिप की पहचान अनडिस्प्यूटेड वर्ल्ड चैंपियनशिप के रूप में ज्यादा मजबूत और प्रभावशाली दिखाई देती है।

दो वर्ल्ड चैंपियन के होने से कंपनी यह नहीं बता सकती कि दोनों में से कौन सर्वश्रेष्ठ है। इस समय रोमन रेंस अनडिस्प्यूटेड वर्ल्ड चैंपियन हैं। वो ही निश्चित तौर पर कंपनी के टॉप सुपरस्टार हैं। सभी सुपरस्टार्स जानते हैं कि वो ट्राइबल चीफ को हराकर कंपनी के इतिहास में अपनी पहचान बना सकते हैं।

#1- अनडिस्प्यूटेड WWE यूनिवर्सल चैंपियनशिप को फिर से अलग-अलग करना चाहिए : Raw ब्रांड के पास वर्ल्ड चैंपियनशिप का नहीं होना

ट्राइबल चीफ रोमन रेंस
ट्राइबल चीफ रोमन रेंस

रोमन रेंस के वर्ल्ड चैंपियन होने का सबसे ज्यादा नुकसान Raw ब्रांड को उठाना पड़ रहा है। रोमन रेंस ऑफिशियली SmackDown ब्रांड का हिस्सा हैं और इस वजह से अनडिस्प्यूटेड WWE यूनिवर्सल चैंपियनशिप ज्यादातर ब्लू ब्रांड पर ही दिखती है और इसी ब्रांड के सुपरस्टार्स के खिलाफ डिफेंड भी की जाती है।

रोमन रेंस बहुत ही कम मौकों पर Raw ब्रांड में नजर आते हैं। रेड ब्रांड के रोस्टर में बॉबी लैश्ले, एजे स्टाइल्स जैसे कई सुपरस्टार हैं जो वर्ल्ड चैंपियन बनने की काबिलियत रखते हैं। मौजूदा स्थति में Raw के पास अपनी वर्ल्ड चैंपियनशिप होनी चाहिए और इसी वजह से अनडिस्प्यूटेड यूनिवर्सल चैंपियनशिप को अलग कर दिया जाना चाहिए।

#1- अनडिस्प्यूटेड WWE यूनिवर्सल चैंपियनशिप को फिर से अलग-अलग नहीं करना चाहिए : ब्रांड स्प्लिट खत्म हो सकता है

youtube-cover

WWE ने साल 2016 में फिर से ब्रांड स्प्लिट की शुरूआत की थी, जिसके बाद दोनों ब्रांड में अलग-अलग सुपरस्टार्स थे और दोनों ही ब्रांड की अपनी-अपनी चैंपियनशिप भी थी। कई बार फैंस को प्रीमियम लाइव इवेंट में दो वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच भी देखने मिलते थे जिसके कारण कंपनी को मेन इवेंट के मैच को तय करने में परेशानी होती थी।

WrestleMania 38 के बाद से कंपनी में एक ही वर्ल्ड चैंपियनशिप है। कंपनी के दोनों वीकली शो में वर्ल्ड चैंपियनशिप से जुड़े सैगमेंट को लेकर फैंस ज्यादा उत्साहित रहते हैं। कुछ रिपोर्ट्स के अनुसार कंपनी ब्रांड स्प्लिट को खत्म कर सकती है। अगर ऐसा होता है तो सभी सुपरस्टार्स के पास अनडिस्प्यूटेड WWE यूनिवर्सल चैंपियन बनने का मौका होगा।

WWE और रेसलिंग से जुड़ी तमाम बड़ी खबरों के साथ-साथ अपडेट्स, लाइव रिजल्ट्स को हमारे Facebook page पर पाएं।