3 कारण जो साबित करते हैं कि रोमन रेंस की जगह बॉबी लैश्ले को यूनिवर्सल चैंपियनशिप मैच में शामिल होना चाहिए

WWE का मौजूदा प्लान देखे तो कम्पनी समरस्लैम में एक बार फिर रोमन रेंस और लैसनर का मैच करना चाहती है। जहां तक उम्मीद की जा रही है, यह मैच ब्रॉक लैसनर के UFC में लौटने से पहले WWE में आखिरी मैच भी होगा। WWE को अभी भी लग रहा है कि रोमन रेंस कम्पनी के सबसे बड़े चेहरे साबित होने वाले हैं और वह अपने आलोचकों को चुप करा सकते हैं। WWE के हिसाब से ऐसा करने का सबसे बढ़िया तरीका रोमन रेंस का समरस्लैम में लैसनर को हराना हो सकता है। लेकिन देखा जाए तो रेंस का लैसनर को हराने के समय जा चुका है। कम्पनी बॉबी लैश्ले को भी एक बड़े स्टार के रूप में बिल्ड कर रही है और शायद उन्हें भी समरस्लैम में लैसनर के विरोधी के रूप में पेश करना चाहती है। इससे रोमन रेंस और लैसनर का लगातार तीसरा मैच नहीं होगा जो काफी अच्छा विचार लगता है। रोमन भले ही बेस्ट हों लेकिन उनके लिए समरस्लैम चैंपियनशिप जितने के लिए सही समय नहीं है। आइये जानते हैं कि ऐसा क्यों है


3. रोमन रेंस का लैसनर के ऊपर जीत हासिल करना विश्वशनीय नहीं लगता है

रैसलमेनिया 2015 में रोमन रेंस और ब्रॉक लैसनर का आमना सामना हुआ था। यह मैच उम्मीद से ज्यादा अच्छा मैच था। एक बार को ऐसा लग रहा था कि रेंस लैसनर को हरा सकते हैं लेकिन ऐन वक्त पर रॉलिंस ने दखल देते हुए अपना मनी इन द बैंक ब्रीफ़केस कैश इन किया था। इसके बाद से लोगों को इनके रीमैच का इंतजार था लेकिन यह मैच होने में 3 साल लग गए। रैसलमेनिया 2018 पर हुए मैच में लैसनर ने रेंस को बहुत बुरी तरह पीटा था और एकतरफा तरीके से मैच जीत लिया था। इस मैच पर काफी नकारात्मक प्रतिक्रियाएं सामने आई थी और इस मैच को आज तक का सबसे बुरा रैसलमेनिया मेंन इवेंट बताया गया था। इसके बाद ग्रेटेस्ट रॉयल रम्बल पर भी एक रीमैच हुआ जो थोड़ा अच्छा था मगर फिर भी उम्मीदों पर खरा नहीं उतरा था। तीन मैचों में रेंस लैसनर को हरा नहीं पाए और जिस तरह से वह रैसलमेनिया पर हारे थे उसके बाद उनका लैसनर को हरा देना विश्वास से परे हैं।

2.आज तक बॉबी लैश्ले और ब्रॉक लैसनर का मैच नहीं हुआ है

भले ही बॉबी लैश्ले WWE में उतने मशहूर नहीं रहे हैं लेकिन उनके भी काफी सारे प्रशंसक और आलोचक है जो काफी सालों से चाहते हैं कि लैश्ले और लैसनर का कहीं न कहीं किसी भी रूप में आमना सामना हो। बॉबी ने जब से WWE को छोड़ा था और वह TNA में गए थे तब से वह इस मैच की बात कर रहें है। उन्होंने लैसनर के साथ MMA की फाइट को अपना सबसे बड़ा लक्ष्य बताया था। चूंकि अब MMA मैच की बात नही हो सकती है, इनके बीच एक रैसलिंग मैच तो बनता ही है। इन दोनों के बीच में होने वाला पहला मैच बेशक बेहतरीन साबित होगा। बॉबी लैश्ले रिंग में काफी कुशल एथलीट हैं जबकि डीन एम्ब्रोज़ और रेंस के द्वारा दिये गए इंटरव्यू की माने तो लैसनर काफी आलसी हैं। अब जबकि लैसनर के सामने एक MMA फाइटर होगा जिसका वह काफी सम्मान करते हैं, ऐसे में यह जायज है कि वह भी रिंग में जी जान लगा देंगे क्योंकि यह उनका WWE में आखिरी मैच भी हो सकता है।

1. लैश्ले वास्तविक हकदार हैं

सबसे पहली चीज जो इस बात के समर्थन में है वो यही है कि लैश्ले टाइटल मैच के वास्तविक हक़दार हैं। बॉबी लैश्ले, ब्रॉक लैसनर के लिए एक परफेक्ट विरोधी साबित होंगे क्योंकि लेसनर के बाद पूरे रॉ रोस्टर पर वहीं सबसे मजबूत रैसलर हैं। जैसा कि पहले भी बताया जा चुका है कि 10 साल पहले भी बॉबी लैश्ले का WWE कार्यकाल काफी सम्मानजनक रहा था और उन्होंने फिनले, बुकर टी, जॉन सीना, और दिवंगत उमागा के साथ काफी अच्छे मैचेस दिए थे। सिर्फ इतना ही नहीं, बॉबी लैश्ले की कदकाठी काफी मजबूत है। उनके पास शानदार मूव्स के साथ ही साथ काफी सारी ताक़त भी है। यह सभी बातें न सिर्फ उन्हें ब्रॉक लैसनर के लिए अच्छा प्रतिद्वंद्वी बनाती हैं बल्कि ब्रॉक के WWE छोड़ने पर बॉबी को WWE में उनका विकल्प भी बनाती हैं। लेखक: डेविड कुलेन अनुवादक: उत्कर्ष मिश्रा

App download animated image Get the free App now