WWE के इतिहास के 5 बेहतरीन सबमिशन मैच

सबमिशन मैचेस खास होते हैं। इस मैच में रैसलर को अपने विरोधी को टैप आउट करवाना होता ताकि वो हार मान ले। इसलिए इसमें कई खतरनाक और बेरहम मैचेस देखने मिले हैं। यहाँ पर मैं ये बता दू की सबमिशन मैचेस कमज़ोर दिलवालों के लिए नहीं होता। इस मैच के खतरे को सहना कोई आसान काम नहीं है। सबमिशन विशेषज्ञों को इस मैच में मजा आता है। नताल्या और शार्लेट ने सबमिशन विशेषज्ञ रिक फ्लेयर और ब्रेट हार्ट से इसके गुण सीखें हैं और अब इन दोनों महिलाओं के बीच WWE विमेंस चैंपियनशिप के लिए सबमिशन मैच होनेवाला है। यहाँ पर मैच लेवल शार्लेट और नताल्या के बीच नहीं होगा, बल्कि रिक फ्लेयर की फिगर फोर बनाम ब्रेट हार्ट की शार्पशूटर के बीच है। (हालांकि इसका इस्तेमाल और भी कई रैसलर्स में की है) ये रही WWE के इतिहास की बेहतरीन सबमिशन मैचेस: 1). डेनियल ब्रायन बनाम द मिज बनाम जॉन मॉरिसन: ट्रिपल थ्रेट सबमिशन काउंट एनीवेयर मैच, हैल इन ए शैल 2010। mizvsbryanvsmorison-1464001578-800 इस मैच के पहले डेनियल ब्रायन ने अपने आप को बड़ा स्टार साबित कर लिया था, जो लोग उन्हें इंडी सर्किट में फॉलो करते थे उन्हें उनकी तकनीकी काबिलियत का पता होगा। निकाले जाने के बाद जब वें वापस आएं रब उनका फिउड मिज के साथ शुरू हुआ। येस! लॉक की मदद से उन्होंने मिज को नाईट ऑफ़ चैंपियंस में टैप आउट करवाया। जॉन मॉरिसन को भी ख़िताब के लिए मौका मिला जिससे ये ट्रिपल थ्रेट काउंट एनीवेयर मैच बन गया। मैच कमाल का लिखा गया था, एक ओर आपके पास सबमिशन विशेषज्ञ डेनियल ब्रायन हैं, मजेदार रैसलर जॉन मॉरिसन हैं तो इसके साथ ही घमंडी मिज भी थे। मैच में एक्शन की कोई कमी नहीं थी। एक समय पर मॉरिसन लोअर बीम से कूद कर तितंत्रों पर गए। लेबेल लॉक की मदद से ब्रायन ने मिज को टैप आउट करवाया। 2). कर्ट एंगल बनाम क्रिस बैन्वा : 30 मिनट अल्टीमेट सबमिशन मैच, बैकस्लैश 2001 benoit-vs-kurt-1464001825-800 दो सबमिशन मास्टर्स इस मैच में थे। इस मैच के नियम थोड़े बहुत आयरन मैन मैच की तरह ही थे। 30 मिनट के अंत तक जो रैसलर सबसे कम टैप आउट करेगा वो विजेता होगा। क्रिस बैन्वा ने साबित किया कि वें PPV का हिस्सा बन सकते हैं यहाँ से उनके करियर ने रफ़्तार पकड़ी। बीच में रुकने के कारण ये मैच काफी लम्बा चला और दोनों रैसलर्स ने इसमें अपनी पूरी ताकत झोंक दी। बैन्वा एंगल से थोड़े अच्छे रहे, लेकिन ये करीबी मामला था। एंगल ने बैन्वा को तीन बार टैप आउट करवाया और बैन्वा ने एंगल को चार बार। इस मैच में हमे क्रॉस-आर्मब्रेकर, सिंगल लेग क्रैब और एंगल लॉक देखने मिला। 3.) क्रिस बैन्वा बनाम क्रिस जेरिको: इंटरकॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप, जजमेंट डे 2000। benoit-vs-jericho-1464002064-800 एक और फिउड और एक और बड़ा मैच। इन दोनों ने हमे निराश नहीं किया। दूसरे को दर्द पहुँचाने के लिए दोनों ने अपने सभी हथियारों का इस्तेमाल किया। दोनों ने एक दूसरे के शारीर के चोटिल हिस्से को निशाना किया। बैन्वा ने तो जेरिको के घायल कंधे पर डाइविंग हेडबट की कोशिश की जो जाकर पोस्ट पर लग गयी। जेरिको ने रस्सियों की मदद से वाल्स ऑफ़ जेरिको आजमाया। अंत में बैन्वा ने जेरिको को क्रॉसफेस में पकड़ लिया लेकिन जेरिको ने हार नही मानी और बाद में उनका चेहरे का रंग बदला और वें बेहोश हो गए। इससे बैन्वा ने अपना ख़िताब बचा लिया। 4). बॉब बकलैंड/ ओवन हार्ट बनाम ब्रेट हार्ट/डेव बॉय स्मिथ- WWE चैंपियनशिप मैच backlund-vs-bret-1464002908-800 ऐसे मैचेस कम होते हैं, लेकिन इसके नियम सरल थे। रैसलर के साथ आएं हुए इंसान को मजबूर करना होगा की वो रिंग में टॉवल फेंक कर मैच बंद करवाये। बॉब एक दिग्गज थे तो वहीँ ब्रेट हार्ट अपने पूरे फॉर्म में थे और अच्छे मचय दे रहे थे। ओवन और ब्रेट के माता-पिता पहली लाइन में बैठे थे। दर्शक बेबीफेस चैंपियन हिटमैन का साथ दे रहे थे। ब्रेट ने बॉब को शार्पशूटर में पकड़ लिया लेकिन ओवन ने पीछे से हमला कर दिया। डेव बॉय स्मिथ ने ओवन हार्ट को दौड़ाया और वें स्टील स्टेप्स से टकरा कर बेहोश हो गए। बॉब ने होश में आकर ब्रेट को चिकनस्विंग क्रॉस फेस में पकड़ लिया। वहीँ खड़े होने में असमर्थ ओवन ने अपने माता-पिता ने टॉवल फेंकने को कहा। उनकी माँ हेलेन अपने बच्चे की स्तिथि देखकर अंदर टॉवल फेंक देती है। 5.) स्टोन कोल्ड स्टीव ऑस्टिन बनाम ब्रेट हार्ट- आई क्विट मैच, जे शैमरॉक गेस्ट रेफरी। step0001 केवल इस लिस्ट का ही नहीं बल्कि WWE के सबसे बेहतरीन मैचों में से ये एक है। इस मैच में फिउड, कॉमेंट्री और एक्शन भरपूर और अच्छा था। शुरू से ही दर्शकों ने इस मैच को पसंद किया। जैसे ही ऑस्टिन इ बागी तेवर दिखाए दर्शकों ने ब्रेट को बू करना शुरू कर दिया। ऑस्टिन इस मैच में बेहद खतरनाक थे। लेकिन ब्रेट ने भी उन्हें करारा जवाब दिया। दर्शकों का भरपूर मनोरंजन होता रहा। गार्डरेल में मार खाने के बाद ऑस्टिन का खून बहने लगा। बाद में ऑस्टिन के सर पर और ज्यादा चोट लग गयी। अंत में ब्रेट ने ऑस्टिन को शार्पशूटर में पकड़ लिया, जिससे ऑस्टिन छूट नहीं पाएं। ऑस्टिन ने हार मान ली और ब्रेट की जीत हुई। खून से लटपट ऑस्टिन रिंग में गिरे पड़े रहे। इससे न केवल ऑस्टिन का बल्कि WWE का करियर भी बदला। लेखक: वैभव शर्मा, अनुवादक: सूर्यकांत त्रिपाठी