Create
Notifications

5 WWE सुपरस्टार्स जिनका पीपीवी में रिकॉर्ड काफी खराब है

मोहिनी भदोरिया

WWE के पूर्व और हाल ही के सुपरस्टार्स कहते हैं कि रैसलिंग में हार और जीत मायने रखती है, जिसमें करेक्टर की बुकिंग भी फैंस को प्रभावित करती है। वहीं अगर उदाहरण के तौर पर देखा जाए, तो जैक रायडर का 2011 में एक यूट्यूब शो था, जिसमें उन्हें कई ज्यादा सपोर्ट मिला था, लेकिन वो धीरे-धीरे WWE प्रोग्रामिंग में एक सीरियल लूजर बन गए, जिसकी वजह से उन्होंने अपने फैंस खो दिए और करेक्टर को भी खराब कर लिया। दरअसल अगर दूसरी तरफ देखा जाए, तो असुका ने जबसे अक्टूबर 2015 में NXT में डेब्यू किया है, तब से वो कभी नहीं हारी। वहीं उनके फैंस उन्हें रैसलिंग मशीन भी मानते हैं। लेकिन हम इस आर्टिकल में WWE के उन 5 सुपरस्टार्स के बारे में बताएंगे, जिन्होंने PPV में सबसे बेकार जीत हासिल की।

आर-ट्रुथ (20% जीत प्रतिशत)

आर ट्रूथ ने WWE में अपने समय में हार्डकोर, द यूनाइटेड स्टेट्स और टैग टाइटल्स हासिल किए हैं, लेकिन वो इन सब से नहीं, वो दिग्गज सुपरस्टार्स द्वारा हारे जाने के लिए जाने जाते हैं। WWE में 45 PPV मैच में लड़ने के बाद उनका जीत प्रतिशत सिर्फ 20 ही है। दरअसल उनका सबसे यादगार पीपीवी मैच वो था, जब उन्होंने 2011 के केपिटल पनिशमेंट के मेन इवेंट में WWE चैंपियनशिप के लिए चैलेंज किया था। लेकिन आखिरी में वो जॉन सीना द्वारा हार गए थे।

टाइटस ओ'नील (20% जीत प्रतिशत)

आर ट्रूथ की तरह ही टाइटस ने भी WWE में 20% पीपीवी मैच जीते हैं, लेकिन वो सच्चाई नहीं है क्योंकि उन्होंने के-क्विक से ज्यादा मैच जीते थे। टाइटस वर्ल्ड के लीडर ने पीपीवी में 20 मैच जीते हैं, लेकिन उन्हें सबसे बड़ी जीत तब मिली, जब उन्होंने 2015 के मनी इन द बैंक में डैरेन यंग के साथ न्यू डे से टैग टाइटल मैच जीता था।लदरअसल उनका 16वां PPV और मनी इन द बैंक सबसे यादगार मैच था, जब उन्होंने अपने बच्चों के सामने रुसेव द्वारा यूनाइटेड स्टेट्स टाइटल गंवा दिया था।

जैक रायडर (20%जीत प्रतिशत)

जैक रायडर को WWE में 10 साल हो गए हैं, लेकिन वो उस दौरान केवल 15 मेन-शो पीपीवी मैच में ही नजर आए हैं।सदरअसल पूर्व एजहैड ने केवल 3 ही मैच जीते थे, जिन्हें 20% रेटियो दे सकते हैं, केवल इसलिए क्योंकि उन्होंने रैसलमेनिया 32 में इंटरकॉन्टीनेंटल चैंपियनशिप के लिए सेवन मैन लैडर मैच जीता था। लेकिन वो सिर्फ 4 ही सिंगल्स मैच में नजर आए हैं, जिसमें से सभी यूनाइटेड स्टेट्स टाइटल के लिए थे। वहीं हाल ही में वो 2016 के बैटरग्राउंड में रूसेव द्वारा हार गए थे।

टैमिना (18.8% विन रेटियो)

WWE मेन रोस्टर के 8 साल के सफर में टैमिना ने केवल 16 पीपीवी मैच में से सिर्फ 3 में ही जीत दर्ज की थी। उन्होंने अपने करियर में पीपीवी सिंगल्स मैच के मेन-शो में कभी भी जीत हासिल नहीं की। दरअसल उन्होंने मल्टी-विमेन मैच में ही तीनों जीत हासिल की है, पहला 2012 का मनी इन द बैंक (6 विमेन टैग), 2015 का पैबैक (टैग मैच) और 2017 का बैकलैश (6-विमेन टैग)। पीपीवी में चार बार डीवास चैंपियनशिप के मैच में शामिल होने के अलावा बाद, 2017 में तमीना की सबसे बेहतरीन पीपीवी उपस्थिती थी, जब वो पहली बार होने जा रहे विमेंस मनी इन द लैडर मैच और 5-ऑन-5 विमेंस सर्वाइवर सीरीज एलिमिनेशन मैच में शामिल हुई थी।

जेवियर वुड्स (18.8% जीत प्रतिशत)

पूर्व टैग टीम चैंपियन इतने मैच में नहीं लड़े, जितने बिग ई और कोफी किंग्सटन ने न्यू डे टीम में रहकर रॉ में रिकॉर्ड बनाया था। वुड्स के पास भी टैमिना की तरह ही मेन-शो पीपीवी रिकॉर्ड हैं। उन्होंने अपने 16 मैच में से सिर्फ तीन में ही जीत हासिल की है, जिसमें उनकी 18% जीत प्रतिशत है, जोकि न्यू डे मैंबर बिग ई (42.1%) और कोफी किंग्सटन (42%) से बहुत कम है। दरअसल उनकी सबसे यादगार पीपीवी हार वो थी, जब रैसलमेनिया 32 में द लीग ऑफ नेशन द्वारा द न्यू डे हार गए थे और मैच के बाद वुड्स को स्टीव ऑस्टिन द्वारा स्टोन कोल्ड स्टनर मिला था। लेखक- डैनी हार्ट, अनुवादक- मोहिनी भदौरिया

Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...