Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

WWE के 5 सफ़ेद झूठ

Modified 08 Apr 2016, 17:58 IST
Advertisement

इंसान की पहचान उसके चरित्र से होती है, नाकि उसके कपड़ो से। हर चमकती चीज़ सोना नहीं होती। काले और सफ़ेद धारियां का मतलब सफ़ेद शेर भी हो सकता है। मैं ऐसे उदहारण पूरे दिन दे सकता हूँ। WWE के चकाचौंध के बीच हम उसकी बुराईयां देखना ही भूल जाते हैं। ये बात आप पहली बार नहीं सुन रहे होंगे, ये WWE में मुख्य बिज़नस से जुड़ा हुआ है। भले ही WWE मनोरंजन की दुनिया में अच्छी हो, लेकिन असली ज़िन्दगी में इसके उल्ट है। लेकिन बंद दरवाजे के पीछे क्या होता है, वो किसे पता? लेकिन अब ऐसा नहीं रहा। ये रहे WWE के 5 सफ़ेद झूठ जिसे उन्होंने हमसे छुपाने की कोशिश की:

#1 ये सब झूठ है!!

wm14-austin-tyson-michaels-1460029606-800 70 और 80 के दशक में WWE आकर्षक थी। दर्शकों को रैसलर्स के की लड़ाई उन्हें किसी देवताओं के बीच की लड़ाई जैसी लगती थी। लेकिन 90 के दशक में लोगों के सामने सच्चाई आई। स्टेरोइड विवाद के समय विंस मैकमैहन को ये कबुल करना पड़ा था कि WWE की रैस्लिंग स्क्रिप्टेड होती है। इसे रैसलर्स एक्टिंग करते हैं। इससे WWE का भांडा फूटा और उन्हें इसके बाद आगे विकसित होकर बढ़ना पड़ा। एटिट्यूड एरा इसका उदहारण है।
1 / 5 NEXT
Published 08 Apr 2016, 17:58 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit