5 मौके जब गलत WWE सुपरस्टार ने बड़ा मैच जीता

WWE में गड़बड़ी के लाखों तरीके है। एक बड़े मैच के लिए गलत विजेता चुनना उनमें से एक है। अगर WWE एक अहम मैच में पे-पर-व्यू या साप्ताहिक शो में गलत विजेता चुनता है, तो यह कोई बड़ी बात नहीं है क्योंकि प्रसंशकों को इसकी आदत है। हालांकि, अगर वो बड़े मैचों में जहां उम्मीदें ज्यादा होती है वहाँ ऐसा करता है, तब यह एक काले दिन के रूप में इतिहास में लिखा जाता है। सालों से डबल्यूडबल्यूई इस तरह की बड़ी गलतियाँ कर रहा है। नीचे के वीडियो में आप कुछ ऐसे विजेता देखेंगे जिनसे मैच की जीत की उम्मीद ना हो। अगर हमने कुछ छोड़ दिया हो तो निश्चिंत होकर हमें कमेंट कर बताएं।

5. रॉयल रम्बल-2014 में बतिस्ता की जीत

ये WWE के द्वारा लिए गए बड़े गलत निर्णयों में से एक है। उस समय खाली जगह भरने की वजह से जब बतिस्ता की वापसी हुई और WWE चाहता था कि फैन्स शानदार तरीके से उनका स्वागत करें। लेकिन WWE का कुछ और ही इरादा था। बतिस्ता के मासूम चहरे की नौटंकी और रिंग में जंगी तरीका उस समय फैन्स को पसंद नहीं आया। इन सब के अलावा, WWE ने रॉयल रम्बल जैसी फाइट में डेनियल ब्रायन को शामिल नहीं किया। इस वजह से माहौल काफी बिगड़ गया और बतिस्ता के रॉयल रम्बल जीतते ही उनका विरोध शुरू हो गया। हालाँकि बाद में WWE ने इस फैसले का बचाव किया लेकिन सही रूप में बतिस्ता सही विजेता नही थे।

4. रेसलमेनिया-22 में रे मिस्टेरियो की जीत

youtube-cover

रेसलमेनिया-22 में रे मिस्टेरियो का वर्ल्ड हैवीवेट चैंपियनशिप जीतना एक आश्चर्यजनक मौका था। हालाँकि ये एक कमजोर समझे जाने वाले की शानदार जीत थी लेकिन मिस्टेरियों को गलत कारणों से जिताया गया था। WWE रे मिस्टेरियों को इसलिए विजेता नहीं बना रहा था, क्योंकि वो उसके लायक थे। बल्कि वो एडी गरेरो कि मौत को भुनाना चाहता था और इसी कारण से मिस्टेरियो को विजेता बनाया गया। उस मैच में कर्ट एंगल और रैंडी ओर्टन जैसे बड़े सुपरस्टार भी खेले थे और यह फिर कभी होता तो विजेता उन दोनों में से ही कोई होता। लेकिन WWE को तो सहानुभूति चाहिए थी और इस कारण उन्होंने रे मिस्टेरियो को वर्ल्ड हैवीवेट चैंपियन बनाने का तय किया। उस समय रे मिस्टेरियों एक क्रूजरवेट से ज्यादा कुछ नही थे।

3. समरस्लैम-2010 में जॉन सीना की जीत

youtube-cover

2010 के समरस्लैम का प्रमुख मैच टीम WWE और नेक्सस के बीच एलिमिनेशन मैच था। नेक्सस की टीम इस मैच में बहुत ही जोश में आई थी और मैच जीतने के इरादे से आई थी। अगर नेक्सस जीतते तो WWE का नजारा बादल जाता, लेकिन अभाग्यवश जॉन सीना, वेड बैरेट से हारने को तैयार नहीं थे। जहाँ पहले नेक्सस के मैच जीतने का तय था, लेकिन सीना ने अपनी तकनीक और नियंत्रण से नतीजे को बादल दिया। सीना ने वेड बैरेट पर STF का इस्तेमाल कर उन्हें हारने पर मजबूर कर दिया और टीम WWE जीत गई। इस हार के बाद नेक्सस का दौर ठंडा पड़ गया और वो वापस कभी ऊंचाइयों पर नहीं पहुँचा।

2. रेसलमेनिया-30 में ब्रॉक लेसनर की जीत

youtube-cover

रेसलमेनिया-30 का अंत अंडरटेकर vs ब्रॉक लेसनर मैच के साथ काफी चौंकाने वाला और विवादों भरा था। WWE के इस फैसले के गलत होने के पीछे काफी कारण रहे। सबसे पहला कारण ये रहा कि अंडरटेकर रेसलमेनिया 30 में भी दिखे पर उनकी मौजूदगी ने पहले जैसा प्रभाव नहीं छोड़ा। दूसरा कारण ये था कि WWE, लेसनर के जोश को लेकर पूरी तरह निश्चित नहीं थी। उनका पार्ट-टाइम कॉन्ट्रैक्ट WWE का कोई खास फायदा नही कर रहा था और कोई रेगुलर खिलाड़ी अंडरटेकर को हराता तो फायदा ज्यादा होता। ब्रॉक लेसनर की जीत ने इन्टरनेट पर कोहराम तो मचाया, पर ज्यादा दिनों तक नहीं टिक सका, और WWE को अपनी इस गलती का बाद में अहसास हुआ।

1. रेसलमेनिया-31 में ट्रिपल एच की जीत

youtube-cover

स्टिंग का WWE का पहला मैच विश्व में काफी ज्यादा चर्चा में रहा था। सभी लोग WCW के महान खिलाड़ी को रेसलमेनिया में खेलते हुये देखना चाहते थे, लेकिन किसी ने भी उनके हारने के बारे में नहीं सोचा था। इस मैच को लेकर काफी उम्मीदें थी लेकिन इसके गलत अंत ने सब गड़बड़ कर दिया। स्टिंग मैच जीत के हकदार थे और इससे उनके आगे के मैच खेलने की संभावनाएं बढती। पर दिन के अंत में विन्स मैकमैन के जिद्द की जीत हुई। उन्होंने सएक बार फिर WCW को हराया और स्टिंग की हार उस ताबूत में अंतिम कील थी। ट्रिपल एच को इस जीत से कुछ खास हासिल नहीं हुआ और रॉक और रोंडा रौसेय वाले भाग में वो मज़ाक का पात्र बन कर रह गये। लेखक: रंजित रविन्द्रन, अनुवादक: आदित्य शर्मा