5 चीजें जो अब तक WWE के न्यू एरा में देखने को नहीं मिली

WWE के न्यू एरा में सैथ रॉलिंस, डीन एम्ब्रोज़ और एजे स्टाइल्स जैसे सुपरस्टार ने WWE के में इवेंट में अपनी जगह से बना ली हैं। इस बात का अंदाज़ा इसी बात से लगाया जा सकता है कि जॉन सीना और रैंडी ऑर्टन जैसे सुपरस्टार को ड्राफ्ट में काफी देर से चुना गया। लेकिन इसका यह मतलब नहीं की यह न्यू एरा है, तो यह ओल्ड एरा से बेहतर हो गई। आइये नज़र डालते है उन 5 चीजों पर, जोकि न्यू एरा में देखने को नहीं मिली रही। 1- आकर्षक सुपरस्टार्स की कमी e066eb098ac793deb25cb3e5841d94af-1469950064-800 प्रो रैसलिंग में हमेशा से ही एक बात देखी जाती है कि यहाँ बैड बॉयज को ज्यादा महत्व दिया जाता है । WWE का सबसे सफल पीरियड वो था जब विंस मैकमैहन बॉस होने का फायदा उठाते थे और सुपरस्टार्स को डोमिनेट करते थे। लेकिन उनके सामने हमेशा ही स्टोन कोल्ड स्टीव ऑस्टिन आते थे, जो उन्हें अक्सर झटका ही देते थे। एटिट्यूड एरा में सुपरस्टार आसानी से मैनेजमेंट के खिलाफ हो जाते थे, जिससे चीजें काफी अच्छी लगती थी। न्यू एरा में स्टेफनी अपने पिता के राह पर चलने की कोशिश कर रही है, टैलंट को थप्पड़ मारकर, उनकी इंसल्ट करकर, लेकिन अपने पिता की तरह उन्हें कभी भी वो रिएक्शन नहीं मिला। सीएम पंक के जाने के बाद से ऐसा कोई सुपरस्टार नज़र नहीं आया, जोकि अथॉरिटी के खिलाफ गया हो। WWE रोस्टर अब एक ऐसा स्कूल बन चुका है, जहां सिर्फ अथॉरिटी की ही चलती हैं। आने वाले सालों में रोमन रेंस और सैथ रॉलिंस जैसे न्यू एरा के स्टार कभी भी अथॉरिटी के खिलाफ नहीं जाएंगे। 2- बेबीफेस को गिराना cesaro-andre-1469950163-800 WWE के मौजूदा समय में बेबीफेस को गिराया ही जा रहा हैं। कई सुपरस्टार ऐसे रहे हैं, जिन्हें क्राउड़ का अच्छा सपोर्ट मिला है, लेकिन अंत में उसका कुछ फायदा नहीं हो रहा। सिजेरो ने पिछले कुछ समय से काफी अच्छा किया है और वो निश्चित ही एक सॉलिड पुश डिजर्व करते है, लेकिन उन्हें किसी भी पे-पर-व्यू में कोई अच्छी कहानी नहीं मिल रही। वहीं दूसरी तरफ मिज जोकि पिछले 5 महीने से इंटरकॉन्टिनेन्टल चैम्पियन है, जिसमें से वो एक महीन बाहर भी रहे, फिर भी उन्हें पुश देना यह बात समझ के परे है। डॉल्फ जिगलर का पिछला एक साल काफी निराशाजनक रहा है और यह देखना दिलचस्प होगा कि जो पुश उन्हें समरस्लैम के लिए मिला है, उससे वो कहाँ तक पहुँच पाते है। जैक रायडर को जो पुश अब मिला है, वो उन्हें दो साल पहले मिलना चाहिए था और उन्हें रुसेव ने बुरी तरह से पीटा भी। वहीं डेमियन सैनडो जैसे स्टार, जिनसे फैंस काफी प्यार करते थे, उनके लिए कंपनी में कोई जगह ही नहीं है। 3- डोमिनेंट टीम evolution-600x250-1469950306-800 पिछले 5 सालों में द शील्ड, द नेक्सस और द वायट तीनों ही टैग टीम टूट गई, लेकिन तीनों में से कोई भी टीम स्टेबल नहीं रह पाई। अथॉरिटी पिछले दो सालों से लगातार WWE के मेन इवेंट में छेड छाड़ करने में लगी हुई है, लेकिन जो तरीका ट्रिपल एच और स्टेफनी ने सुपरस्टार को संभालने के लिए अपनाया, वो काफी गलत था। इस समय WWE में कोई भी ऐसी डोमिनेंट टीम होम जैसे की एक समय में इवोलुशन थी। हालांकि उस टीम में अनुभवी रिक फ्लेयर, अथॉरिटी ट्रिपल एच, फ्यूचर रैंडी ऑर्टन और बतिस्ता शामिल थे। मौजूदा समय में जितने भी ग्रुप आ रहे है, वो NXT से ही आ रहे हैं। 2009 में लेगेसी ने काफी प्रभावित किया, जिसमें ऑर्टन, कोडी रोड्स और टेड डीबाइस शामिल थे। 4- पार्ट टाइमर्स sting-triple-h-wwe-fastlane-1469950374-800 रैसलमेनिया 17 और 18 के पास फैंस को काफी मैच का इंतज़ार था, हर एक मैच में कुछ न कुछ दिलचस्प बातें छिपी थी। हालांकि एक दशक के बाद चीजें बदल गई है। अब जब फैंस रैसलमेनिया की तरफ देखते हैं, तो उन्हें पता है यहाँ पर उन WWE लेजेंड का मैच देखने को मिलेगा, जोकि कभी कबार ही नज़र आते हैं। द अंडरटेकर, ट्रिपल एच और ब्रॉक लैसनर तीनों ही साल में एक हाथ बार ही नज़र आएंगे, लेकिन ट्रिपल एच क्या पता एक बार मेन इवेंट में लड़ते नज़र आ जाए। द रॉक को लगातार दो रैसलमेनिया में जॉन सीना के खिलाफ लड़ते देखा गया और तब से वो हर साल ही नज़र आते है। पहले के समय में और आज के समय में जो फर्क हैं, वो यह है रैसलमेनिया 17 में हमें ऑस्टिन और रॉक के बीच मैच देखने को मिला, मेनिया 18 में जेरिको Vs ट्रिपल एच, मेनिया 19 एंगल Vs लैस नर और मेनिया 20 में बेनो Vs माइकल Vs ट्रिपल एच। इन सब फाइट को अच्छे से बिल्ड किया गया और साथ ही में जो प्रोमोज शूट हुए वो भी शानदार थे। 5- कंपनी को आगे ले जाने के लिए कोई भी फेस या विलन नहीं है bret-hart-intercontinental-champions-1454354080-1469950440-800 हल्क होगन, ब्रेट हार्ट, शॉन माइक्ल्स, स्टोन कोल्ड, द रॉक और जॉन सीना इन सभी ने अपनी प्राइम पर कंपनी को लीड किया हैं यह WWE में हमेशा ही एक मेन किरदार में नज़र भी आए हैं। हालांकि मौजूदा समय में ऐसा कोई भी सुपरस्टार नज़र नहीं आ रहा। सैथ रॉलिंस वो सुपरस्टार बन सकते है, लेकिन जिस तरह की बुकिंग उनके लिए की जा रही है, ऐसा होना काफी मुश्किल ही नज़र आ रहा है। अब जब फैंस उन्हें एक बेबीफेस के रूप में देखना चाहते है, तब भी अथॉरिटी उन्हें विलन ही बनाए रखना चाहती है। रोमन रेंस तब तक वो सुपरस्टार नहीं बनेंगे, जब तक कि उन्हें विलन नहीं बनाया जाता और रही अबाट डीन एमरोज की, तो वो बस कुछ समय के लिए ही चैम्पियन है। इसमें उनकी गलती नहीं है, बस उन्हें सही तरह से इस्तेमाल नहीं किया जा रहा। जॉन सीना अभी भी वहाँ मौजूद है, लेकिन वो युवा टैलंट को आगे आने का मौका दे रहे है और वो खुद एक पार्ट टाइमर ही बन गए है। बात वहीं अटकती है कि रॉ में स्मैकडाउन में ऐसा कोई सुपरस्टार है ही नहीं, सीएम पंक और डेनियल ब्रायन के रिटायरमेंट के बाद तो यह जगह और खाली नज़र आ रही है, अगर फिन बैलर को सही तरह से बुक किया जाता है, तो वो इस किरदार के लिए बिल्कुल सही विकल्प बैठते है।