Create
Notifications

WWE इतिहास में सबसे लम्बे समय तक इंटेरकॉन्टिनेंटल चैंपियन बने रहने वाले 5 रैसलर्स

सुर्यकांत त्रिपाठी
visit

WWE ख़िताब की ओर बढ़ने के लिए सबसे पहला और बड़ा कदम है, इंटेरकॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप। कंपनी का दूसरा सबसे बड़ा ख़िताब करीब 35 सालों से कंपनी का हिस्सा रहा है। WWE के बड़े स्टार्स ने अपने करियर में किसी न किसी समय इस ख़िताब को हासिल किया है। इसमें द रॉक, स्टोन कोल्ड, ट्रिपल एच, अल्टीमेट वारियर जैसे कई रैसलर्स शामिल हैं। लेकिन जब बात सबसे लम्बे समय तक इंटेरकॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप को अपने पास रखने की आती है तो इनमें कोई भी नाम टॉप में नहीं है। इससे ये बात साबित होती है कि ख़िताब ज्यादा समय तक अपने पास रखे बिना भी आप कामयाब हो सकते हैं। लेकिन फिर इससे एक बात ये भी झलकती है कि लम्बे समय तक इंटेरकॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप जीतने वाले रैसलर को कम आंका गया है। इन स्टार्स ने आगे बढ़कर WWE ख़िताब अपने नाम किया। इसलिए भले ही आप इनके प्रशंसक हों या ना हो, इंटेरकॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप के साथ उनके दौर को नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता। यहां पर हम WWE ये इतिहास में सबसे लंबे समय तक चैंपियन रहनेवाले टॉप 5 रैसलर्स के बारे में आपको बताएंगे। #5 ग्रेग वैलेंटाइन (285 दिनों तक) valentine-1486594207-800 65 वर्षीय, ग्रेग वैलेंटाइन ने करीब चार दशक तक WWE में काम करते हुए कंपनी में अपना नाम बना लिया। दुनिया भर में उन्होंने करीब 40 ख़िताब जीते और वहीं विर्ल्ड रैसलिंग इंटेरटेन्मेंट में उन्हें तीन बार चैंपियन बनाया गया। जिसमें उनका इंटेरकॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप दौर भी शामिल है। सितम्बर 1984 में मेपल लीफ रैसलिंग के साथ ग्रेग वैलेंटाइन ने पहली बार इस ख़िताब को अपने नाम किया। उन्होंने इसे टीटो सैन्टाना को हराकर जीता, जिनके पास ये ख़िताब 200 दिनों तक था। वहीं 1985 के बाल्टिमोर के हाउस शो पर अपना बदला लेते हुए सैन्टाना ने इस ख़िताब को वापस हासिल किया। लेकिन फिर भी आपको ग्रेग वैलेंटाइन के काम की सराहना करनी होगी। #4 डॉन मुराको (385 दिनों तक) muraco-1486594186-800 डॉन मुराको जब पहली बार इंटरकांटिनेंटल चैंपियन बने तब कुछ खास चर्चा नहीं हुई, लेकिन फिर टाइटल के साथ उनका दूसरा दौर कमाल का था। इस हॉल ऑफ़ फेमर ने कंपनी में सात साल काम किया और पेड्रो मोरालेस से ख़िताब जीतने के बाद इसे करीब एक साल तक अपने पास रखा। उन्होंने इसे न्यूयॉर्क में जीता और फिर 97 मिल दूर फ़िलेडैल्फ़िया में इसे हार गए। डॉन मुराको से ये ख़िताब टीटो सैन्टाना ने जीता, जिनका आगे जाकर ग्रेग वैलेंटाइन से फ्यूड हुआ। #3 रैंडी सैवेज (414 दिनों तक) savage-1486594167-800 रैंडी "माचो मैन" सैवेज, WWE के एक जाने माने रैसलर हैं। कंपनी में रहते हुए उन्होंने हल्क हॉगन, रिकी स्टीमबोट जैसे रैसलर्स के साथ किया है। जहां तक बात इंटेरकॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप की है उन्होंने इसे टीटो सैन्टाना के खिलाफ बोस्टन में जीता और इसे 414 दिनों तक अपने पास बचाए रखा। उन्होंने ख़िताब रैसलमेनिया 3 तक अपने पास रखा। मेनिया पर स्टीमबोट ने ये कमाल के मैच में उन्हें हराकर ख़िताब उनसे जीता। उस मैच कल आज भी प्रोफेशनल रैसलिंग में लेजेंडरी माना जाता है। सैवेज का खिताब के साथ दौर हमेशा यादगार रहेगा। #2 पेड्रो मोरालेस (425 दिनों तक) morales-1486594150-800 इस आर्टिकल में पेड्रो मोरालेस का कई बार जिक्र किया गया है और इससे हम समझ सकते हैं कि वो इंटेरकॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप में कितने असरदार थे। पेड्रो मोरालेस को कंपनी में WWE चैंपियनशिप जीतने के लिए जाना जाता है। इसलिए इस आर्टिकल में उनका कई बार जिक्र होने पर हमें हैरानी नहीं होनी चाहिए। इसलिए हम यहां पर दर्शकों को याद दिलाना चाहेंगे कि 80 के दौर में उन्होंने इंटेरकॉन्टिनेंटल चैंपियन रहते हुए कमाल का काम किया। नवंबर 1981 में पेड्रो मोरालेस ने ख़िताब को न्यूयॉर्क में डॉन मुराको को हराकर जीता और इसे 425 दिनों तक अपने पास बचाए रखा। फिर जनवरी 1983 में डॉन मुराको ने इसे वापस जीत लिया। पेड्रो मोरालेस में हमेशा से ख़िताब के लिए चाहत दिखी। जब भी बात लम्बे ख़िताबी दौर की हो तो आप पेड्रो मोरालेस पर दांव लगा सकते हैं। इसके साथ साथ उनके मैच भी कमाल के हुआ करते थे। #1 होंकी टोंक मैन (454 दिनों तक) honky-1486594138-800 होंकी टोंक मैन जिनका गिम्मिक एल्विस इम्पेरसोनाटोर का था, वो 1987 से लेकर 1988 तक इंटेरकॉन्टिनेंटल चैंपियन बने रहे। उनके मैच में विरोधी के जीत की संभावना होने के बावजूद, वे किसी न किसी तरीके से ख़िताब हमेशा जीत लिया करते थे। होंकी टोंक मैन ने हील के रूप में अच्छा काम किया और जब उन्हें ख़िताब दिया गया तो किसी को उम्मीद नहीं थी की वो इसके साथ इतना अच्छा काम करेंगे। समरस्लैम 1988 में द अल्टीमेट वारियर की वापसी के बाद होंकी टोंक मैन को स्क्वाश मैच में ख़िताब हारना पड़ा। यहां से हम एक बात समझ सकते हैं कि WWE में कुछ भी मुमकिन है। होंकी टोंक मैन को अपने आप को खुशकिस्मत समझना चाहिए की उन्हें ये मौका मिला।

Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now