Create
Notifications

जॉन सीना के लिए साल 2017 की 5 सबसे बेकार बातें

मोहिनी भदोरिया
visit

2017 में बिताए गए जॉन सीना के नकारात्मक और सकारात्मक मोमेंट की सीरीज हम आपको दिखा रहें हैं। द सीनेशन लीडर ने इस साल 16वीं बार वर्ल्ड चैंपियनशिप का रिकॉर्ड बनाकर रिक फ्लेयर के बराबरी पर जा पहुंचे। वहीं इस साल हमें ये भी पता चला कि एक इंसान कितना प्रतिरोधी हो सकता है। हालांकि उनका कंपनी में अभी भी थोड़ा बहुत हक है, कि वो पार्ट टाइमर के रूप में काम कर सकते हैं। सीना ने जितना समय इस साल WWE में बिताया, उसकी काफी चारी चीजें अच्छी नहीं रही।

1. मिज़ को रैसलमेनिया में हराना

miz 1

हाल ही में आपको 2017 में जॉन सीना के WWE रन की 5 सकारात्मक बातें बताई गईं थी, सीना का पूरे साल में मिज़ के साथ हुआ रैसलमेनिया 33 मुकाबला उनका बेहतरीन काम रहा है। हालांकि अगर मैच की बात आती है तो, सब कुछ पलट के वापिस बुरी चीज़ों पर चली जाती है, सीना से काफी उम्मीदें थी। वहीं मिज़ ने मैच में बेबीफेस के रूप में एंट्री की थी, जहां जॉन सीना ने मैच में शानदार प्रदर्शन दिया, वो भी बिना विलन बने। दरअसल मैच में प्रतिद्वंदी के खिलाफ लड़ने से पहले सीना ने अपना समय बैकफुट पर बिताया। लड़ाई के दौरान मिज़ ने काफी अच्छा प्रदर्शन दिया, ये उनके लिए काफी बेहतरीन अवसर था, जहां उन्हें 16वीं बार वर्ल्ड चैंपियन रहे सीना के खिलाफ ग्रेंड स्टेज पर लड़ने का मौका मिला।

2. सीना द्वारा निक्की बेला को प्रपोज़ करना

2

क्या सीना को मिज़ के खिलाफ मैच इसलिए जीतना था, ताकि वो लड़ाई के अंत में प्रपोज़ल सीन बना सकें, जोकि अगर वो हार जाते तो नहीं बना पाता। ये बातें दोनों लेवल पर ही गलत है। पहली बात, ये बहुत शर्म की बात है कि WWE के बेस्ट परफॉर्मर को जॉन और निकी बैला की वजह से हार का सामना करना पड़ा, ताकि जॉन निकी को प्रोपोज़ कर सकें, जबकि लोगों को इन सबसे फर्क नहीं पड़ा और ना ही वो देखना चाहते थे। दूसरी बात, मैच के नतीजे में कोई भी फर्क नहीं पड़ा, हालांकि ये जॉन और बैला के लिए एक हार हो सकती थी, लेकिन अब देखा जाए तो दोनों को ही सारी जिंदगी साथ में रहना है। वहीं इन सबस से अलग, जो प्रपोजल था वो बेहद नकारात्मक था, क्योंकि वो काफी बुरी तरह दिखाया गया था। रैसलमेनिया से पहले ही ये दोनों एंगेज्ड हो चुके थे, जोकि बहुत फैंस जानते हैं कि ये शादी के लिए वास्तविक प्रपोजल नहीं था। लेकिन सच तो ये है कि दोनों की काफी अच्छे एंटरटेनर हैं। निकी बैला वहां इस तरह खड़ी थीं, जैसे उन्हें कुछ पता ही नहीं था, लेकिन उनके चहरे पर एक सरप्राइज दिख रहा था। हां, बहुत कम लोग थे शायद, जो ये सब देखना चाहते थे, लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि वो स्पेशल था।

3. सीना वो सब काम कर रहे हैं, जिसके लिए द रॉक की बुराई करते थे

THE ROCK

2011 और 2012 की बात करें तो, रॉक ने रैसलमेनिया 28 में जॉन सीना की काफी इंसल्ट की थी, जिसके बाद द लीडर ऑफ सीनेशन को अपने प्रति काफी फैंस देखने को मिले। सीना ने फैंस को वापसी लेने के वादे करने की बजाय उस फेक्ट को उठाया। द रॉक शायद ही स्मैकडाउन और रॉ में शारीरिक रूप से नजर आए हों। 2017 की बात करें तो, सीना ने अपने आपको एक परिचित स्थिति में देखा। सीना वही काम 2017 में कर रहे हैं, जिसके लिए वो रॉक को ताना देते थे। सीना काफी समय तक ब्रेक पर रहे और अभी भी वहीं दिखावा कर रहें हैं कि वो बिजनेस से बहुत प्यार करते हैं और उसे सबसे पहली प्रायोरिटी देते हैं।

4. सर्वाइवर सीरीज में उनका खास योगदान नहीं

His pointless contribution at Survivor Series

जॉन सीना पिछले महीने हुई सर्वाइवर सीरीज पीपीवी के दौरान नजर आएंगे, इसका पता शो से कुछ समय पहले लगा। पीपीवी बेचने में मदद करने के लिए आप अपने सबसे लोकप्रिय नामों में क्यों नहीं लाएंगे? रैसलिंग की स्टोरीलाइन के मुताबिक, सीना को अपने आपको इससे जोड़े जाने पर कोई फर्क ही नहीं पड़ता। उनकी मौजूदगी कहीं और ही नजर आती है, डेनियल ब्रायन ने उन्हें रॉ की उन कोशिशों की भरपाई के लिए टीम में डाला क्योंकि रॉ ने अपनी टीम में ट्रिपल एच और कर्ट एंगल को शामिल किया था।

5. रोमन रेंस के साथ हुई उनकी फाइट

ROMAN

WWE के लिहाज से देखें तो, इस जनरेशन के रोमन रेंस बनाम जॉन सीना का मैच रॉक बनाम होगन और माइकल्स बनाम ऑस्टिन के समान है। ये शायद कंपनी के ब्रैंड न्यू एरा होने का संकेत देते हैं। हालांकि, सीना बनाम रेंस ने 2017 में ये सबित कर दिया है कि वो इस समय सबसे ज्यादा स्टोरी का हिस्सा रहें हैं। प्रोमो में वो कभी-कभी मेजोरिटी से हट जाते हैं, लेकिन फिर भी स्क्रिप्टेड और फॉर्मूला के रूप में आए था। मामले की और गहराई में जाते हुए, हमें जॉन से मैच के अंत में भी कुछ अच्छा हासिल नहीं हुआ। बहरहाल दोनों ही रैसलर्स के बीच की केमिस्ट्री अच्छी नहीं है, लेकिन ये पीपीवी में आयोजित किया गया था, जिसमें मेन इवेंट में उन्हें किसी भी मामले में मदद नहीं मिली। कौन जानता है कि ये दोनों दोबारा मिलेंगे या नहीं, लेकिन अगर मिलते हैं तो, ये पहले से कई गुना बेहतर होगा। लेखक- डेनियल क्रंप, अनुवादक- मोहिनी भदौरिया

Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now