Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

5 कारण क्यों सोशल मीडिया और इंटरनेट रैसलिंग बिज़नेस के अभिशाप की तरह हैं

Amit Shukla
ANALYST
Modified 27 May 2018, 10:02 IST
Advertisement

एक समय था जब WWE फैंस को पर्दे के पीछे की बातें नहीं जानने देता था। एक समय केफेब एक अच्छी बात थी। वो हील को और बेहतर होने का मौका देते था, जबकि उन लोगों को एक बेहतर जवाब मिलता था जो ये सोचते थे कि रैसलिंग फेक है, जब कई रैसलर्स टूटे दांत लेकर चलते थे। इस कांसेप्ट से पर्दा उस समय उठा जब ब्रेकिंग द मैट ने इन चीजों की हकीकत को ज़ाहिर किया। इसके बाद विंस द्वारा ये स्वीकारना कि ये फाइट्स असल में स्टेजड परफॉर्मेंसेस हैं, इस बात को और पुख्ता कर गया।
इस समय इस बात को स्वीकारना की इंटरनेट और सोशल मीडिया ने इंडस्ट्री की दिशा और दशा को बदल दिया है, कोई गलत बात नहीं होगी। इस आर्टिकल में हम उससे होने वाले 5 नुकसानों के बारे में बात करेंगे:

कुछ हद तक सस्पेंस खत्म हो जाता है

इस समय फैंस को रैसलिंग के पर्दे के पीछे का इतना जबरदस्त एक्सेस है कि आप ये बता सकते हैं कि ये फिउड वाकई में हुआ है या नहीं, या फिर कोई वाकई में चोटिल हुआ है या ये सिर्फ एक कहानी है। रैसलमेनिया 4 के बिल्डअप के समय किंग कॉन्ग बंडी से लड़ते समय आंद्रे द जायंट ने आकर हल्क होगन पर जबरदस्त वार किया और उन्हें एकदम शीथिल कर दिया। उस दिन NBC को कई फोन आए जिनमें हल्क की तबीयत के बारे में पूछा गया और ये जानने का प्रयास किया गया कि क्या वो ठीक हैं। आज अगर कुछ हो, तो ऐसा होने की संभावनाएं शायद कम हैं।
1 / 5 NEXT
Published 27 May 2018, 10:02 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit