5 कारण जिसकी वजह से WWE ब्रैंड स्पिलट फेल हो सकती है

1

WWE में बहुत सारे ऐसे मौके बन रहे हैं जिनसे माहौल काफी रोमांचक होता चला जा रहा है। बैटलग्राउंड, द ड्राफ़्ट, शिंज़के नाकामुरा, NXT और स्मैकडाउन जैसे इवेंट से WWE एक अलग दिशा में जा रहा है। इसलिए, इस विचार धारा से आने वाला ब्रैंड स्पिलट सफल हो पाएगा ? इन सब के बावजूद कुछ ऐसे भी कारण है जिनको देखने या पढ़ने के बाद ऐसा महसूस होता है कि आगे होने वाली ब्रांड स्पिलट फेल हो सकती है। यहां ऐसी पाँच वजह दी गई हैं जिनकी वजह से ये साफ हो जाता है कि ब्रैंड स्पिलट काम नहीं करेगी। #5 कितने देर का होगा RAW और SmackDown? स्पिलट की वजह से अभी तक ये पूरी तरह से साफ नहीं हो पाया है कि RAW और स्मैकडाउन कितने घंटों का होगा। RAW दो घंटो और स्मैकडाउन तीन घंटों का हो सकता है। इसके साथ साथ हमें शेन और स्टेफनी के बीच की लड़ाई देखने को मिल सकती है। जिससे ये भी साफ हो जाएगा कि किसका ब्रांड कंपनी को ऊंचाई पर ले जा रहा है। पर अगर सही मायने में देखा जाए तो RAW के लिए तीन घंटे बहुत ज़्यादा हो जाएंगे। वैसे भी ये प्रोग्राम पहले से ही समय को लेकर काफी जूझ रहा है। इसका सबसे सफल उपाय ये होगा कि इन दोनों ब्रैंड्स को हफ्ते में दो-दो घंटों का कर दिया जाए। #4 चैम्पियनशिप रोडब्लॉक 2 अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई है कि ब्रांड स्पिलट के बाद क्या इसमें कोई नया टाईटल जुड़ेगा या नहीं। साथ ही साथ अभी तक ये भी साफ नहीं हो पाया है कि इंटरकोंटिनेटल चैंपियनशिप, द युनाइटेड स्टेट्स टाईटल, द विमेंस चैम्प औए टैग टीम चैंपियनशिप किसके हाथ में जाएगी। ये तब साफ हो पाएगा जब ये साफ हो जाए कि कौन सा प्रोग्राम ज़्यादा मशहूर हो रहा है, जो ज़्यादा मशहूर होगा उस ही अनुसार ये टाईटल बांटे जाएंगे। पर ऐसा माना जा रहा है कि जल्द ही इसमें एक नया चैंपियनशिप जुड़ सकता है, ताकि RAW और स्मैकडाउन के अपने अपने चैम्पियन होंगे। जैसा कि पिछले ब्रांड स्पिलट में देखा गया है वर्ल्ड टाईटल और WWE टाईटल के रूप में। #3 PPV ओवरलोड 3 जैसा कि हमने पिछले आर्टिकल में विचार किया था, बहुत हद तक उम्मीद है कि हमें इस महीने एक एक्सट्रा पे-पर-व्यू जुड़ता हुआ दिखाई दे। जैसा कि ये अभी अभी है PPV हर नए इवेंट के 3 से 4 हफ्तों में घुल मिल जाता है। इसलिए ऐसा माना जा रहा है कि पे-पर-व्यू हर दूसरे हफ्ते देखने को मिल सकता है। बीएस दोनों ही ब्रांड्स को अपने PPV’S एक ही वीकेंड पर करे चाहे एक शनिवार को तो दूसरा रविवार को चलाया जाए। पर इससे समर्थकों पर भी बुरा असर पद सकता है और उनकी दिलचस्पी इस इवेंट से कम हो सकती है। #2 सुपरस्टार्स ओवर एक्सपोजर 4 जैसे अभी हालत चल रहे हैं किसी भी सुपर स्टार को समय लग सकता है के उसे मिस किया जाए। चाहे वो जॉन सीना हो या फिर डीन एम्ब्रूज उनके हफ्तों दूसर रहने के बाद भी वापसी करने पर वो टॉप लेवेल के स्टार रहेंगे। देखा जाए तो शेमस को बीच में लाकर इवेंट का चेहरा बनाना और फिर हर दूसरे हफ्ते उसकी दुश्मनी सबसे कराना सही नहीं होगा। आपको दूसरे फाइटर्स को भी सामने लाना होगा और ऊपर भी नज़र डालनी होगी। भले ही टैलेंट की कमी हो या कुछ और दूसरे स्टार्स को भी मौका देना होगा चाहे वो उसे उस लायक हो या न हो। #1 इतिहास खुद को दोहराता है 5 अगर ईमानदारी से कहा जाए तो ब्रैंड स्पिलट एक सही आइडिया था पर ये पहले के जमाने में कार्यरत था अब नहीं। हमारे पास अभी भी अलग अलग ब्रैंड हैं। अगर हम पहले के कुछ यादें उठा कर देखें तो जब भी इस तरह के प्लान बनाए गए हैं वो हमेशा फेल हुए हैं। जैसा कि मैंने शुरू में ही कहा था ये बेहद ज़रूरी है कि हम उस वजह को देखे जो इस ब्रैंड स्पिलट को कामयाब बना सके। पर साथ ही साथ ये भी ज़रूरी है कि हम इसके लिए भी तैयार रहे अगर ये आइडिया फेल हुआ तो।

App download animated image Get the free App now