Create
Notifications

जिंदर महल के मेन इवेंट पुश खत्म होने की 5 वजह

सुर्यकांत त्रिपाठी
visit

प्रोफेशनल रैसलिंग के लिए ये साल काफी मिला-जुला रहा। साल 2017 में WWE यूनिवर्स को अजीब बुकिंग देखने मिली खासकर के टॉप टाइटल के लिए। रॉ की यूनिवर्सल चैंपियनशिप अधिकतर समय शो से गायब रही तो वहीं स्मैकडाउन पर WWE चैंपियनशिप ज्यादतर समय जिंदर महल के पास थी।

जिंदर महल को कंपनी का टॉप स्टार बनने की ओर कंपनी ने काफी समय और पैसे लगाए है। वो छह महीनों तक चैंपियन रहे, कई पीपीवी के मुख्य इवेंट में रहे तो उन्हें कंपनी के टॉप स्टार के रूप में पेश किया गया। वहीं उन्हें भारत मेx मार्केटिंग के नज़रिए से भी पुश किया गया लेकिन क्या ये कारगर रहा? जी नहीं, उनका समय अब खत्म हो चुका हैं।

आइए जानते है जिंदर महल के मेन इवेंट पुश खत्म होने की 5 वजह।

2018 के लिए ज्यादा अच्छे विकल्प मौजूद हैं

21-46-10-49eb5-1513705174-500

जिंदर महल साल 2017 में स्मैकडाउन लाइव के टॉप हील थे। रैंडी ऑर्टन, शिंस्के नाकामुरा और एजे स्टाइल्स जैसे फेस से उनकी भिड़ंत हुई। हालांकि ढेर सारे रैसलिंग प्रसंशक इन फिउड्स को अहमियत नहीं देंगे लेकिन इन्हीं की मदद से ब्लू ब्रैंड को ज्यादा एयर टाइम मिला।

अब समस्या यही है कि जिंदर महल को वापस मुख्य इवेंट में नहीं लाया जा सकता। जिंदर महल का पिछला मुख्य इवेंट दौर काफी फीका रहा था और शो को ना ही ज्यादा टेलीविज़न रेटिंग मिली। चैंपियन के रूप में एजे स्टाइल्स अब नए विरोधी को ढूंढ रहे हैं और शायद उनका फिउड सैमी जेन, केविन ओवंस और शिंस्के नाकामुरा से हो सकता है।

WWE का उन पर से भरोसा उठ चुका है

21-46-31-de006-1513705404-500

एक बात साफ है कि WWE पिछले दो महीनों से जिंदर महल को लम्बे समय के लिए बुकिंग विकल्प के रूप में नहीं देख रही है। सर्वाइवर सीरीज के पहले तक जिंदर महल को ब्रॉक लैसनर के खिलाफ मैच के लिए पुश किया गया और फिर शो के कुछ हफ्तों पहले उनकी जगह ले ली एजे स्टाइल्स ने।

भारतीय मार्केट की नज़र से भी जिंदर महल का काम महत्वपूर्ण था लेकिन अगर उन्हें अहमियत दी जाती तो पार्ट टाइमर, ट्रिपल एच के हाथों दिल्ली में उनकी हार नहीं होती। इससे ज़ाहिर है कि WWE उन्हें मुख्य इवेंट स्टार के रूप में अब नहीं देखती।

वो अच्छे रैसलर नहीं हैं

21-46-56-3c9f9-1513705496-500

सीना बानम स्टाइल्स, ड्यूने बानम बेट और ओकाड़ा बनाम ओमेगा के रैसलिंग समय मे दर्शक उन्हीं मैचों को याद रखते हैं जिसमें कुछ ज्यादा रोमांचक होता हो। इसमें जिंदर महल के मैचेस शामिल नहीं होते।

जिंदर महल का शायद ही कोई यादगार मैच रहा है। ना ही उनके पास कोई आकर्षक मूव सेट है। उनकी रैसलिंग ज्यादातर समय रेस्ट होल्ड होती जिसे बदलते समय मे ज्यादा अहमियत नहीं मिलती।

उनका हर प्रोमो एक जैसा होता है

21-47-16-69864-1513705569-500

जिंदर महल के लिए बुरा लगता है। 2017 में उन्हें विदेशी हील कर रूप में पेश किया गया। जब दुनिया भर के प्रसंशक WWE देखते हैं तो वहां किसी भी नॉन-अमेरिकन को हील के रूप में क्यों पेश किया जाता है। इससे लम्बे समय को ध्यान में रखते हुए जिंदर महल की कोई मदद नहीं हुई और ना ही उनके प्रोमो बेहतर हुए।

जिंदर महल अपने हर प्रोमो में कहा करते थे, "तुम मेरा सम्मान नहीं करते। मैं भारत से हूं इसलिए तुम मुझ से नफरत करते हो। अब मैं अपने देशवासियों से हिंदी में बात करूंगा।"

जिंदर महल बोलते अच्छा हैं लेकिन हर बार वहीं बातें बोलते हुए उनमें आत्मविश्वास की कमी नज़र आती है। वो कुछ नया नहीं दिखा पाते।

दर्शकों को अपनी ओर नहीं खींच पाते

21-47-38-d5e23-1513705650-500

एक जॉबर को इतना बड़ा पुश देना एक बढ़िया एक्सपेरिमेंट था। ऐसा नहीं है कि WWE ने उन्हें भरपूरे समय नहीं दिया। महाराजा के पास करीब सात महीनों का समय था जहां वो रिंग में अपनी काबिलियत दिखा सकते थे। कंपनी के टॉप गा के रूप में आपका एक काम होता है कि आप दर्शकों को मैच की ओर खींच सकें। जिंदर महल ये करने में नाकामयाब रहे।

इसका सबूत है स्मैकडाउन लाइव शो के दौरान दिखने वाली खाली सीटें। ये खाली सीटें जिंदर महल के ख़िताबी दौर के समय ही देखने मिला। इसका असर टेलीविज़न रेटिंग पर भी देखने मिला।

उस समय स्मैकडाउन की रेटिंग काफी कम रही और भारत में दो दिन के लाइव शो को रद्द करते हुए एक दिन का करना पड़ा।

लेखक: ब्रैंडन, अनुवादक: सूर्यकांत त्रिपाठी

Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now