Create

5 बातें जो साबित करती है कि रोमन रेंस को आईसी चैंपियन बनाना एक गलत फैसला नहीं है

07-35-47-2dd5c-1511893423-500

पिछले हफ्ते द मिज़ को हराकर रोमन रेन्स इंटरकॉन्टिनेंटल चैंपियन बने थे। इसके साथ वो ग्रैंडस्लैम चैंपियन भी बन गए। यह कारनामा करने वाले वो शील्ड के दूसरे मेंबर बने थे।

इससे एक बात तो साफ है कि विंस मैकमैहन के 'द गाय' जल्द ही कंपनी के टॉप ख़िताब की ओर बढ़ेंगे। मंडे नाइट रॉ को एक दमदार चैंपियन की ज़रूरत थी और रोमन रेन्स के रूप में उनकी ये ज़रूरत पूरी हो रही है।

ये रहे रोमन रेन्स के इंटरकॉन्टिनेंटल चैंपियन बनने की 5 अच्छी बातें:


खिताब का स्तर बढ़ेगा

द मिज़ माइक पर बहुत अच्छा काम किया करते थे। लेकिन एक ख़िताब की अहमियत केवल माइक के काम से नहीं बल्कि हर हफ्ते उसे बचा कर बनाई जाती है। मिज़ अपने सैगमेंट में ख़िताब से ज्यादा खुद की बातें किया करते थे। इससे पूरा फोकस उनपर होता, ना कि ख़िताब पर।

इससे साफ है कि सुपरस्टार के रूप में दर्शक उन्हें पसंद किया करते थे लेकिन शायद से दर्शक उन्हें इंटरकॉन्टिनेंटल चैंपियन के रूप में नहीं अपना पाए थे।

इसके अलावा उन्हें पहले स्ट्रोमैन और फिर द शील्ड के हाथों मात खानी पड़ी थी। इंटरकॉन्टिनेंटल ख़िताब के लिए एक मजबूत चैंपियन चाहिए जो हर हफ्ते ख़िताब बचा सके। रोमन रेन्स इसके लिए बिल्कुल सही विकल्प हैं और उनके चैंपियन बनने के बाद खिताब की अहमियत बढ़ेगी।

नए टैलेंट्स को मौका मिलेगा

07-36-03-27632-1511893480-500

रोमन रेन्स के चैंपियन बनने की एक खास बात है, वो युवा स्टार्स को पुश देते हैं। उदाहरण के तौर पर इलियास को कभी हमने अच्छा रैसलर नहीं समझा था लेकिन पिछले हफ्ते उन्होंने जिस तरह ख़िताब को चुनौती देते हुए प्रदर्शन किया उससे ये साफ हो गया कि वो रिंग में अच्छा काम कर सकते हैं।

भले ही मैच में इलियास की हार हुई लेकिन उन्होंने उस रात जो प्रदर्शन किया उसके बाद उनके काम को सभी पसंद करेंगे। पिछले कुछ महीनों से गिटार बजा रहे थे, उससे उन्हें कोई फायदा नहीं हुआ था।

इससे एक बात साफ है कि जो स्टार रोमन रेन्स को इंटरकॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप के लिए चुनौती देगा उसका काफी फायदा होगा।

रैसलमेनिया 34 की तैयारी

07-36-24-50391-1511893630-500

हम सब जानते हैं कि रैसलमेनिया 34 के मुख्य इवेंट में रोमन रेन्स का सामना ब्रॉक लैसनर से होगा। लेकिन उसके साथ साथ WWE ये भी चाहती है कि दर्शकों के बीच रोमन की लोकप्रियता बढ़े और सभी उन्हें बीस्ट के टक्कर के स्टार के रूप में देखें।

वहीं इंटरकॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप जीतकर रोमन रेन्स अब ग्रैंडस्लैम चैंपियन बन गए हैं और रैसलमेनिया के मंच पर वो इसी रूप में लैसनर से लड़ने उतरेंगे। इससे इंटरकॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप में भी थोड़ा बदलाव आया है जिसकी अभी ज़रूरत थी।

रॉ में एक ख़िताब बचाने की ज़रूरत है

07-36-40-b8c48-1511894004-500

ब्रॉक लैसनर अपने हिसाब से आते हैं और चले जाते है। कभी कभार ही किसी बड़े पीपीवी पर अपना ख़िताब बचाते दिखाई देते हैं जो काफी नहीं है। रॉ पर थोड़े समय मे कम से कम एक ख़िताब तो बचाने की ज़रूरत है।

ये काम करने के लिए मिज़ सही विकल्प नहीं हैं। ये काम रोमन रेन्स करने में सक्षम हैं। जहां इस हफ्ते उन्होंने इलियास के खिलाफ ख़िताब बचाया तो आने वाले हफ्ते में समोआ जो उन्हें ख़िताब के लिए चुनौती देते दिखाई देंगे।

ख़िताब के लिए चुनौती मिलेगी

07-37-01-efa06-1511894176-500

अब जब रोमन रेन्स को काफी आगे आ गए हैं तो उन्हें अब किसी रैसलर को चुनौती देने की ज़रूरत नहीं है। बल्कि उन्हें अब दूसरों से चुनौती मिलेगी।

इसमें एक फायदा ये है यहां पर हम रोमन रेन्स के जीत की उम्मीद रहेगी और इससे वो दमदार दिखाई देंगे। इससे वो आगे तक चैंपियनशिप अपने पास रखेंगे और उन्हें मिलने वाली सभी चुनौतियों को पार करते रहेंगे।

लेखक: आदित्य रंगारंजन, अनुवादक: सूर्यकांत त्रिपाठी

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment