Create

5 बड़े कारण जिनसे WWE को कभी भी दूसरा स्टोन कोल्ड नहीं मिल पाएगा

vince be

अपनी उम्र के अनुसार आप एक अलग ढंग से WWE से जुड़ेंगे। जब पुराने फैंस कहते हैं कि युवा पीढ़ी रैसलिंग को उतना महत्व नहीं देती तो सुनकर थोड़ा अजीब लगता है। इसमें अब हमारी क्या गलती? स्टोन कोल्ड स्टीव ऑस्टिन उन चुनिंदा स्टार्स में से एक हैं, जिन्हें सभी आयुवर्ग के दर्शक पसंद करते हैं। हम जैसे कईयों के लिए WWE की सभी मौजूदा समस्यों का हल है, स्टोन कोल्ड स्टीव ऑस्टिन जैसे स्टार की कमी। लेकिन क्या इसके होने की संभावना है? ये रही 5 वजह क्यों WWE में स्टोन कोल्ड स्टीव ऑस्टिन जैसा कोई दूसरा स्टार नहीं हो सकता:

#1 विंस मैकमैहन को अब विवादों में फंसना पसंद नहीं

ऑस्टिन के साथ एक इंटरव्यू में विंस मैकमैहन ने बताया कि आज उनकी कंपनी पहले जैसी लोकप्रिय नहीं है क्योंकि आज के सुपरस्टार पहले के सुपरस्टार जैसे प्रेरित नहीं है। लेकिन यहां पर विंस मैकमैहन ये बताना भूल गए कि प्रेरणा की कमी के पीछे मैनेजमेंट का दोष है। WWE का आज कोई बड़ा विरोधी नहीं है इसलिए आज वो किसी तरह के विवाद का हिस्सा नहीं बनना चाहते। WWE आज एक विशाल राक्षस है जो सो रहा है। एटीट्यूड एरा में जब स्टोन कोल्ड काम किया करते थे तब कंपनी जोखिम मोल लेने के लिए तैयार और इसलिए दर्शक रॉ देखना पसंद करते थे। आज के समय में इस तरह की स्टोरीलाइन बनाना WWE के लिए बेवकूफी होगी। आज उनके दुश्मन WCW जैसा कोई प्रमोशन नहीं बल्कि शेयरहोल्डर और मीडिया है। अगर आज स्टोन कोल्ड जैसा स्टार आ गया कि विंस मैकमैहन को कईयों को जवाब देना पड़ सकता है।

#2 सुपरस्टार्स को उनके प्रोमो तक सीमित किया गया है

07-43-57-2c5eb-1506623854-500

विवादों की कमी का एक बड़ा असर ये है कि प्रोमो वर्क में पहले जैसी जान नहीं बची। भले ही स्टोन कोल्ड एक अच्छे तकनीकी रैसलर न रहे हों, लेकिन दर्शकों माइक पर उनके द्वारा किया काम बेहद पसंद था। आज के रैसलर्स की तुलना में स्टोन कोल्ड बेबाकी से सबकुछ कह दिया करते थे, ऐसा आज कल नहीं होता। आज 2017 में ज्यादातर सुपरस्टार्स एक जैसा प्रोमो देते हैं। किसी भी स्टार को मौका नहीं मिलता की वो खुलकर बातें कर सकें। इससे इसका विवाद कम होता है। भले ही रैसलिंग में ज्यादा काम रिंग एक्शन का हो, लेकिन किसी हील और फेस को कामयाब होने के लिए माइक पर अच्छा काम करने की ज़रूरत है। अगर कंपनी को एक और स्टोन कोल्ड बनाना हो तो उसे उसका खुद का प्रोमो बोलने की इजाजत देनी चाहिए और इसलिए इसकी संभावना कम है।

#3 दर्शकों में बदलाव आया है

07-44-55-3c1b2-1506623941-500

पहले बताए गए दोनों पॉइंट सही है लेकिन जिस तरह की मांग होती है उसी तरह की ज़रूरत पूरी की जाती है। कहीं न कहीं हम दर्शक स्टोन कोल्ड स्टीव ऑस्टिन को सेंटर स्टेज पर देखना नहीं चाहते। ऑस्टिन उनके दौर में एक अमेरिकी का किरदार निभाते थे, जिसे किसी चीज़ की परवाह नहीं थी, लेकिन आज अमेरिका वैसा नहीं है। ऑस्टिन एक ऐसा किरदार निभाते थे जो पुराने ख्यालात का था। वो बीयर पीते और झगड़े से अपनी समस्या सुलझाते। आज के स्टार्स ऐसा काम नहीं करते। जॉन सीना आज सभी के आदर्श बनकर कामयाब हुए हैं, तो वहीं डेनियल ब्रायन को लोगों का प्यार और समर्थन मिला। दर्शकों के तौर पर हम में भी काफी बदलाव आया है और हम 90 के दौर से बाहर निकल चुके हैं और नए तरह की स्टोरीलाइन पसंद करते हैं।

#4 अच्छी अथॉरिटी की कमी

vince-mcmahon-wwe-family-triple-h-stephanie-1499507294-800

हर हीरो के लिए एक विलेन होता है। स्टोन कोल्ड एक प्रतिभाशाली रैसलर थे लेकिन विंस मैकमैहन जैसे अथॉरिटी के बिना वो शायद इतने कामयाब नहीं होते। स्टीव ऑस्टिन जिस तरह अथॉरिटी के विरोध में खड़ा हुआ करते थे, उसे देख दर्शकों ने उन्हें पसंद किया। इस तरह की स्टोरीलाइन हमेशा दर्शकों को पसंद आती है। सीएम पंक, जॉन सीना और डेनियल ब्रायन ने इसी तरह की स्टोरीलाइन की मदद ली और कामयाब हुए। वो सब नए स्टोन कोल्ड बनने की ओर बढ़ने लगे थे। 90 के दौर की तुलना में आज अथॉरिटी पर हमें विंस मैकमैहन की जगह स्टेफ़नी मैकमैहन हैं और सच कहूं तो बाप और बेटी में जमीन आसमान का अंतर है। आज जो रैसलर्स स्टेफ़नी का विरोध करते हैं उन्हें दबाया जाता है और फिर अंत मे उनकी जीत होती है। लेकिन ये कहानी 90 में दौर जैसा असर नहीं कर पा रही। जहां तक बात ट्रिपल एच की है वो अथॉरिटी फिगर में ज्यादा काम नहीं करते। वो हील ज़रूर हैं लेकिन दर्शक उनका सम्मान करते हैं और इसलिए उनका विरोध नहीं कर सकते।

#5 वो कमाल के हैं

07-47-03-25942-1506624341-500

आज भले ही हमारे पास कई बड़े स्टार्स क्यों न हों, लेकिन आज भी द रॉक और स्टोन कोल्ड स्टीव ऑस्टिन जैसे स्टार्स की कमी रहेगी। ये स्टार्स इसलिए खास हैं क्योंकि उन्होंने खुद अपनी प्रतिभा के दम पर अपनी जगह बनाई थी। WWE करीब 60 के दशक से वजूद में हैं और इसने कई बड़े सुपरस्टार्स को जन्म दिया है, लेकिन हल्क हॉगन, द रॉक और स्टोन कोल्ड स्टीव ऑस्टिन जैसे स्टार्स कुछ ही होते हैं। उनमें रैसलिंग बिज़नेस को बदलकर आइकॉन बनने की कमाल की खूबी होती है और इसे आप किसी और को नहीं सीखा सकते। ये देखना पड़ेगा कि क्या कोई दूसरा रैसलर आकर इन स्टार्स की श्रेणी में अपना जगह बनाता है या नहीं। हमे इसका इंतज़ार रहेगा। लेखक: डेनियल क्रम्प, अनुवादक: सूर्यकांत त्रिपाठी

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment