Create

5 सुपरस्टार्स जिनकी जीत की स्ट्रीक को WWE ने काफी जल्दी तोड़ दिया

रुसेव और शार्लेट ने स्ट्रीक बनाई थी
रुसेव और शार्लेट ने स्ट्रीक बनाई थी

हाल ही में WWE रॉ (Raw) के एपिसोड में कैरियन क्रॉस (Karrion Kross) को जैफ हार्डी (Jeff Hardy) द्वारा एक चौंकाने वाली हार मिली। NXT चैंपियन ने इससे पहले WWE में कोई भी मैच हारा नहीं था लेकिन इस मैच ने उनकी स्ट्रीक को पूरी तरह तोड़ दिया। देखकर साफ तौर पर लगा कि उनकी स्ट्रीक काफी जल्दी टूट गई है और जो लोग NXT नहीं देखते हैं, उनकी नजरों में क्रॉस काफी कमजोर दिखाई दिए।

उनके लिए यह एक निराशाजनक चीज़ रही क्योंकि प्रशंसक उन्हें WWE में टॉप स्टार बनते हुए देखना चाहते थे। WWE में ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि किसी सुपरस्टार की स्ट्रीक टूटी हो और उन्हें खराब तरीके से बुक किया गया हो। कई सारे NXT स्टार्स मेन रोस्टर पर आने के बाद सफल नहीं हुए। खैर, इस आर्टिकल में हम 5 स्ट्रीक्स के बारे में बात करेंगे जिन्हें WWE ने काफी जल्दी खत्म कर दिया।

5- WWE स्टार बो डैलस

बो डैलस को NXT में काफी ज्यादा सफलता मिली थी और वो NXT चैंपियन भी बने थे। NXT से जाने के बाद उन्होंने मेन रोस्टर पर डेब्यू किया और अपनी एक स्ट्रीक बनाई। वो लगातार 17 मुकाबले जीतने में सफल रहे थे और हर कोई उनकी स्ट्रीक को लंबा होते हुए देखना चाहता था। हालांकि, WWE ने अपने सभी फैंस को काफी ज्यादा निराश किया। 28 जुलाई 2014 को Raw के एक एपिसोड में बो डैलस को आर-ट्रुथ के खिलाफ मैच में हार मिली।

मैच में डैलस की हार रोल-अप की मदद से हुई थी। बो की स्ट्रीक को काफी पसंद किया जा रहा था और उनके सैगमेंट रोचक रहे थे। इस वजह से सभी उनकी स्ट्रीक को आगे बढ़ते हुए देखना चाहते थे। WWE ने अपने सभी फैंस को निराश किया। इसके बाद वो कभी भी टॉप पर नहीं पहुंच पाए। काफी समय से वो WWE में दिखाई नहीं दे रहे थे और कुछ समय पहले कंपनी ने उन्हें रिलीज करने का निर्णय ले लिया। बो डैलस की स्ट्रीक अगर जारी रहती तो वो WWE में काफी सफल होते।

4- मंसूर

अगर आप WWE NXT या 205 Live ज्यादा नहीं देखते हैं तो आपको पता नहीं होगा की मंसूर काफी टैलेंटेड स्टार हैं। वो दो साल से भी ज्यादा समय तक अनडिफिटेड रहे थे। इसके अलावा उन्होंने सिजेरो और डॉल्फ ज़िगलर जैसे बड़े WWE स्टार्स को भी पराजित किया था और Super ShowDown 2019 में 51 मैन बैटल रॉयल मैच भी जीता था।

कुछ महीने पहले Raw में उनका डेब्यू देखने को मिला था। सभी को लग रहा था कि उनकी स्ट्रीक कायम रहेगी। शेमस के खिलाफ उनका मेन रोस्टर डेब्यू मैच DQ द्वारा खत्म हो गया और उनकी बड़ी हार हुई। उनकी दो साल की स्ट्रीक सिर्फ हम्बर्टो कारिलो के हमले की वजह से टूट गई। WWE उनकी स्ट्रीक को जारी रख सकता था।

3- शार्लेट फ्लेयर

शार्लेट फ्लेयर ने लगातार मैच जीतकर अनडिफिटेड स्ट्रीक नहीं बनाई थी। दरअसल, उन्हें अपने डेब्यू के बाद से किसी भी पीपीवी में हार नहीं मिली थी। अपने डेब्यू से WWE Fastlane 2017 तक उन्होंने 16 मैच लगातार जीते थे। वो WrestleMania से सिर्फ एक इवेंट दूर थीं। अगर वो WrestleMania जैसे इवेंट में अनडिफिटेड जाती तो यह बेहतर विकल्प रहता।

बड़े इवेंट में उनकी स्ट्रीक टूटती तो यह रोचक चीज़ होती। बेली ने पहले ही Raw के एक एपिसोड में फ्लेयर को हराकर Raw विमेंस चैंपियनशिप जीत ली थी। इसके बाद Fastlane में बेली अपना टाइटल फ्लेयर के खिलाफ डिफेंड कर रही थीं। सभी को लग रहा था कि फ्लेयर की स्ट्रीक जारी रहेगी लेकिन बेली ने जीत दर्ज करते हुए टाइटल रिटेन किया।

2- रुसेव

एक समय लग रहा था कि रुसेव जरूर भविष्य में WWE चैंपियन बनेंगे। दरअसल, वो लगभग एक साल तय किसी भी स्टार द्वारा हारे नहीं थे और लग रहा था कि WWE उन्हें काफी बड़ा पुश देने का प्लान बना रहा है। उन्होंने यूनाइटेड स्टेट्स चैंपियनशिप जीत ली थी और कोई भी सुपरस्टार उन्हें हरा नहीं पा रहा था।

WrestleMania 31 में वो अपने यूनाइटेड स्टेट्स टाइटल को जॉन सीना के खिलाफ डिफेंड कर रहे थे। इस मैच में सीना ने उन्हें पराजित किया और टाइटल पर कब्जा किया। रुसेव इसके बाद कभी भी उतने प्रभावशाली दिखाई नहीं दिए। अब देखकर लगता है कि उनकी यह स्ट्रीक लंबी चलनी चाहिए।

1- असुका

WrestleMania में कई सारे उभरते हुए स्टार्स के सपने टूट जाते हैं। रुसेव की स्ट्रीक जॉन सीना ने WrestleMania में तोड़ी थी। इसके अलावा असुका की स्ट्रीक भी WrestleMania में ही टूटी थी। WrestleMania 34 में असुका का सामना शार्लेट फ्लेयर से SmackDown विमेंस चैंपियनशिप के लिए हुआ था।

इसके पहले असुका की कभी भी हार नहीं हुई थी। उन्हें मेन रोस्टर ही नहीं बल्कि NXT में भी कोई सुपरस्टार पराजित नहीं कर पाया था। असुका का चैंपियन बनना लगभग तय दिखाई दे रहा था। इसके बावजूद उनकी स्ट्रीक टूटी और शार्लेट ने अपने टाइटल को रिटेन किया। कई लोगों के हिसाब से यह एक गलत निर्णय था।

Quick Links

Edited by Ujjaval Palanpure
Be the first one to comment