Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

बैकी लिंच के बारे में 5 बातें जो आपको शायद ही पता होंगी

Modified 15 Sep 2016, 17:12 IST
Advertisement
WWE बैकलैश पर महिलाओं के सिक्स-पैक मैच में जीत दर्ज कर के बेकी लिंच स्मैकडाउन विमेंस चैंपियनशिप जीतने वाली पहली पूर्ण आयरिश महिला रैसलर बनी। बेकी के लिए ये राह आसान नहीं थी, क्योंकि इसे जीतने के लिए उन्होंने कई मुश्किलों का सामना करना पड़ा। मैच जीतने के बाद बेकी ने उनके सभी प्रसंशकों का शुक्रिया अदा किया। बेकी साल 2013 में NXT से जुडी थी और उसके बाद लगातार उनके स्टारडम में बढ़ोतरी होती गयी। फोर हॉर्सवीमेन की एक सदस्य रही बेकी सबसे ज्यादा पसंद की जानेवाली WWE सुपरस्टार भी हैं। इसका सबूत हमे बैकलैश पर उनकी जीत से मिला। जैसे ही रिंग में आखरी दो महिला बेकी और कार्मेल्ला बची, तबसे बेकी के चैंट्स शुरू हो गए और ये तब तक जारी रहे जब तक बेकी की जीत नहीं हुई। स्मैकडाउन विमेंस रॉस्टर पर बेकी एरा के शुरुआत के साथ ही हम यहाँ पर बेकी से जुडी 5 बातें आपको बताना चाहते हैं: 5: जापान, यूरोप और कनाडा सहित वें दुनिया भर में रैसलिंग कर चुकी हैं becky1-1473780225-800 मौजूदा रॉस्टर में से बेकी लिंच ने सबसे ज्यादा सफर किया है। आयरलैंड में साल 2005 में डेब्यू के बाद वें पुरे यूरोप में घूमकर रैसलिंग करने लगी जैसे इंग्लैंड वर्ल्ड एसोसिएशन रैसलिंग, फ्रांस में क्वीन ऑफ़ चाओस प्रमोशन और जर्मनी में जर्मन स्टैंपीड रैसलिंग। साल 2005 में बेकी जापान भी जा चुकी हैं जहाँ पर वें इंटरनेशनल विमेंस ग्रैंड प्रिक्स में हिस्सा लिया। उसके बाद वें 18 रैसलर्स के बीच हुए बैटल रॉयल भी जीत चुकी हैं। इस टूर को वें अपने रैसलिंग के शुरूआती दिनों की तरह याद रखेंगी। 2006 में उन्होंने वापस जापान का दौरा किया। अटलांटिक पार कर के वें शिम्मेर विमेंस एथेलीट और सुपरगर्ल्स रैसलिंग में हिस्सा लिया।
Advertisement
4: 2006 में उनके सर पर गंभीर चोट लगी जिससे उनका करियर खत्म हो जाता becky2-1473780972-800 WWE बैकलैश पर बेकी लिंच स्मैकडाउन विमेंस चैंपियनशिप जीतने वाली पहली पूर्ण आयरिश महिला रैसलर बनी। फोर हॉर्सवीमेन की एक सदस्य रही बेकी सबसे ज्यादा पसंद की जानेवाली WWE सुपरस्टार भी हैं। लेकिन आज ऐसा कुछ नहीं हो पाता, क्योंकि 2006 में उनके सर पर गंभीर चोट लगी थी जिससे उनका करियर खतरे में पड़ गया। बेकी का करियर अच्छा जा रहा था, लेकिन फिर उनका सामना नौसिखए फ़िनलैंड की रैसलर किसु से जर्मनी में साल 2006 में हुआ। किसु बुरी तरह से उनके सर पर जा गिरी। बेकी के सर पर लगी चोट को देखकर डॉक्टरों को ये लगने लगा कहीं बेकी का ब्रेन डैमेज न हो जाये। जाँच में पता चला की उन्हें सर के आठवें नर्व पर चोट है और इसके कारण वें करीब साल भर तक रिंग से दूर रही। इस गंभीर चोट के और भी कई दुष्परिणाम रहे जैसे दिखाई कम देना और महीनों तक उनके कान बजते रहे। इसके बाद वें अपने रैसलिंग भविष्य के बारे में सोचने लगी। साल 2008 में उन्होंने वापसी भी नहीं की और करीब 5 साल रिंग से दूर रही। 3: वापसी के बाद वें पेज की मैनेजर थी becky5-paige-1473780568-800 बेकी ने रैसलिंग में वापसी मैनेजर के रूप में की। उनके नैसर्गिक करिश्मे और खूबसूरती ने उन्हें अच्छी मैनेजर बनाया और उसके बाद वें साल 2011 में आल-वीमेन प्रमोशन शिम्मेर विमेंस एथेलीट से जुड़ गई। वें आई और WWE प्रसंशकों की चहेती पेज की मैनेजर बन गयी। उस समय पेज ब्रिटनी नाइट केनाम से रैसलिंग किया करती थी। NXT के डेवलपमेंट करार के पहले तक वें केवल मैनेजर का काम किया करती थी। 2: बेकी एक कलाकार थी और उन्होंने एक्टिंग की डिग्री डबलिन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी से ली becky-1473743802-800 रैसलिंग से दूर रहने की दौरान बेकी वापस अपने पढाई की ओर मुड़ गयी। उन्होंने डबलिन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी से एक्टिंग का कोर्स किया और कुछ समय शिकागो कोलंबिया कॉलेज में भी बिताया। एयर होस्टेस के रूप में काम करने के अलावा बेकी ने कई स्टेज प्ले में हिस्सा लिया और हिस्ट्री चैनल के शो वाइकिंग में स्टंटवीमेन का काम किया। इसमें कोई दो राय नहीं की बेकी ने अपने एक्टिंग करियर और अनुभव का WWE में अच्छा इस्तेमाल किया। [embed]https://www.instagram.com/p/xmllKjC_ZF/[/embed] 1: फिन बैलर ने उन्हें ट्रेनिंग दी finn-balor-becky-lynch-1473781189-800 बेकी लिंच और फिन करीब 14 साल से दोस्त हैं। फिन ने ही बेकी को ट्रेनिंग दी है। बेकी लिंच ने साल 2002 में फिन के ट्रेनिंग स्कूल में अपने भाई के साथ दाखिला लिया। उसके बाद उन्हें रैसलिंग से प्यार हो गया और रैसलिंग में अपना करियर आगे बढ़ाने के लिए उन्होंने 17 साल की उम्र में कॉलेज छोड़ दिया। बेकी लिंच ने ऐसा कई बार कहा है कि आज वो जो कुछ भी हैं, फिन बलोर के कारण हैं। वें शेमस को अपना रोल मॉडल मानती है और उन्ही के कहने पर कंपनी से जुडी। लेखक: प्रत्यय घोष, अनुवादक: सूर्यकांत त्रिपाठी Published 15 Sep 2016, 17:12 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit