Create
Notifications

5 बातें जो आपको WWE सुपरस्टार ट्रिपल एच के बारे में जाननी चाहिए

WWE सुपरस्टार और सीओओ ट्रिपल एच
WWE सुपरस्टार और सीओओ ट्रिपल एच
Amit Shukla
visit

WWE सुपरस्टार ट्रिपल एच (Triple H) किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं। रेसलिंग रिंग में जो धमाल इन्होंने किया है वो करना हर किसी के लिए मुमकिन नहीं है। रेसलिंग में इनकी एंट्री महज 19 वर्ष में हो गई थी जबकि इन्होंने रेसलिंग के लिए अपने शरीर पर काम करना महज 14 साल की उम्र में शुरू कर दिया था।

इन्हें सरीबल असैसिन भी कहा जाता है। एक बात जो शायद बेहद कम लोग जानते होंगे वो ये कि इनका उपनाम 'द गेम' इनके लिए नहीं रखा गया था। इस उपनाम को ओवन हार्ट के लिए रखा गया था लेकिन उनकी असमय मौत के कारण इन्हें वो उपनाम दिया गया क्योंकि ये भी किसी भी चुनौती से नहीं घबराते हैं।

रिंग में चाहे कोई कैसा भी काम करे, जब तक वो काम फैंस के बीच में प्रभाव नहीं ड़ाल पा रहा है तो वो काम किसी काम का नहीं है। ट्रिपल एच भी इसका शिकार हुए थे लेकिन इन्होंने खुद पर काम किया और आज ये दुनिया में रेसलिंग का एक बड़ा नाम हैं। आइए आपको इनसे जुड़ी वो बातें बताते हैं जो आप नहीं जानते होंगे।

#5 WWE सुपरस्टार्स रोमन रेंस और डेनियल ब्रायन को कभी नहीं हरा पाए हैं

रोमन रेंस और डेनियल ब्रायन को कभी नहीं हरा पाए हैं
रोमन रेंस और डेनियल ब्रायन को कभी नहीं हरा पाए हैं

द ट्राइबल चीफ और यस मूवमेंट के लीडर के साथ इनकी कहानियाँ बेहद अच्छी रही हैं। ये भले ही अच्छी कहानियाँ कह पाए हों, लेकिन अगर बात की जाए इनके जीत के रिकॉर्ड की तो वो इन दोनों से जीतने में असफल रहे हैं। रोमन रेंस को हमेशा ही द अथॉरिटी से नुकसान उठाना पड़ा जबकि डेनियल ब्रायन के साथ भी यही स्थिति रही है।

रोमन रेंस और ट्रिपल एच के बीच में एक इंटेंस लड़ाई हमें WrestleMania 32 में देखने को मिली थी। ये कहानी काफी व्यक्तिगत हो चली थी और इसको करने का माद्दा रखने वाले इन दोनों रेसलर्स ने फैंस को अच्छा एक्शन और बेहतरीन एंटरटेनमेंट प्रदान किया था। रिंग में तो ये धमाल ही करते हैं।

वहीं बात करें WrestleMania 30 की तो ये वो समय था जब डेनियल ब्रायन के साथ ट्रिपल एच की एक लड़ाई हुई थी। इसकी शुरुआत शो से पिछले साल SummerSlam में हुई थी जब ट्रिपल एच ने डेनियल ब्रायन को धोखा दे दिया था। इसकी वजह से वो अपना टाइटल रैंडी ऑर्टन के हाथों हार गए थे। ये मैच आज भी याद किया जाता है।

#4 इन्होंने 2021 में सिर्फ एक मैच ही लड़ा है

2021 में सिर्फ एक मैच ही लड़ा है
2021 में सिर्फ एक मैच ही लड़ा है

WWE Raw के 11 जनवरी वाले एपिसोड में इन्होंने रैंडी ऑर्टन से इसलिए लड़ाई की क्योंकि उस समय ड्रू मैकइंटायर कोविड पॉजिटिव टेस्ट हो चुके थे। उन्हें रिंग से दूरी बनानी पड़ी थी और इसकी वजह से ट्रिपल एच को एक मैच लड़ने के लिए रिंग में आना पड़ा, पर ये मैच ज्यादा समय तक नहीं चला।

दरअसल रैंडी ऑर्टन इस समय एलेक्सा ब्लिस के साथ एक लड़ाई का हिस्सा थे और वो काफी अच्छा काम कर रहे थे। इस मैच के दौरान जब ट्रिपल एच ने अपने अटैक को करना चाहा तो उसी समय अँधेरा हो गया और एलेक्सा ब्लिस नजर आईं जिन्होंने रैंडी ऑर्टन पर अटैक किया जिससे सबको काफी अच्छा लगा।

#3 ये कंपनी में लगभग हर चैंपियनशिप को जीत चुके हैं

लगभग हर चैंपियनशिप को जीत चुके हैं
लगभग हर चैंपियनशिप को जीत चुके हैं

1995 से ही कंपनी के साथ काम कर रहे ट्रिपल एच ने हर चैंपियनशिप को अपने नाम किया हुआ है। इसका अर्थ सिर्फ बड़ी और महत्वपूर्ण चैंपियनशिप से है। यदि आप बात करें 24/7 चैंपियनशिप की तो ये उसे अपने नाम नहीं कर सके हैं लेकिन वो चैंपियनशिप इनके किरदार से मेल भी नहीं खाती है।

इन्होंने WWE चैंपियनशिप को 9, वर्ल्ड चैंपियनशिप को 5, इंटरकांटिनेंटल चैंपियनशिप को 5, यूरोपियन चैंपियनशिप को 2, यूनिफाइड चैंपियनशिप को शॉन माइकल्स के साथ 1, और WWF टैग टीम चैंपियनशिप को 2 बार अपने नाम किया है। ये एक महान रेसलर हैं और इसमें कोई दोराय नहीं है।

#2 इनका रिंग में पहला नाम हंटर हेल्म्स हेल्म्सली नहीं था

पहला नाम हंटर हेल्म्स हेल्म्सली नहीं था
पहला नाम हंटर हेल्म्स हेल्म्सली नहीं था

जब इन्होंने रेसलिंग करनी शुरू की तो इनका कुछ और नाम था लेकिन जब ये WWE में आए तो इन्हें रेजीनल्ड ड्यूपॉइंट हेल्म्सली नाम दिया गया था। इन्हें ये नाम पसंद नहीं आया पर इन्होंने फिर भी अपने काम को किया। इन्होंने रेसलिंग के एक्सपर्ट्स से नाम को बदलने की अपील की जिसे स्वीकार कर लिया गया।

इस नाम को बाद में हंटर हेल्म्स हेल्म्सली कर दिया गया जिसे हम सब आज ट्रिपल एच के नाम से पुकारते हैं। वैसे ये बदलाव अच्छा ही साबित हुआ क्योंकि इस नाम से इन्हें काफी ख्याति मिली और फैंस भी अब इस नाम से ही इनको जानते हैं। रिंग में एक्सपर्ट ट्रिपल एच अब रिंग के बाहर के काम के भी एक्सपर्ट हैं।

#1 इन्होंने 1992 में रेसलिंग डेब्यू किया था

1992 में रेसलिंग डेब्यू किया था
1992 में रेसलिंग डेब्यू किया था

24 मार्च 1992 को इन्होंने इंटरनेशनल रेसलिंग फेडरेशन में टेरा राइजिंग के नाम से एंट्री की थी। ये रेसलिंग में इनका पहला कदम था और ये तबसे सिर्फ आगे ही बढ़ते रहे हैं। रिंग में इन्होंने काफी सुधार किया है जो इस बात को दर्शाता है कि ये अपने काम को लेकर हर तरह से काफी संजीदा हैं।

आज भी इनके काम की मिसाल दी जाती है। ये शराब का सेवन नहीं करते हैं और कोई भी ऐसी चीज नहीं खाते हैं जो इनकी सेहत को नुकसान पहुंचाए और शायद यही वजह है कि ये वाकई में 'द गेम' की असली परिभाषा बन चुके हैं। रिंग में ये अब बेहद कम ही लड़ते हुए नजर आते हैं।

Edited by Amit Shukla
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now