Create
Notifications

5 मौके जब WWE ने रैसलमेनिया के मेन इवेंट को अच्छा बना दिया

Ankit Kumar
visit

अब वह समय बीत चुका है जब WWE के फैंस और आलोचकों को कंपनी की गलतियां देखने को मिले। हाल ही के कुछ वर्षो में उन लोगों के लिए खेल को अच्छा बनाने के लिए सर्वश्रेष्ठ काम किया हैं। लेकिन यह WWE नहीं होगा, अगर उन्होंने हमें निराश नही किया, कारण यह है कि हमें इसके बारें में बहुत गुस्सा आता हैं क्योंकि एक माता पिता की तरह देखने पर हमें लगता है कि वह और बेहतर कर सकते हैं। जब WWE के पास टेलेंट होता है तो उस टेलेंट को जब वह स्टार बनाना चाहते हैं तो इसके लिए WWE के पास रैसलमेनिया जैसी जगह मौजूद है। किसी भी रैसलिंग फैंस के पास अब तक के रैलमेनिया के मेंन इवेंट की लिस्ट मौजूद होगी, लेकिन यहां पर कई मैच ऐसे थे जिनको देख कर हम कह सकते है कि वह कितने सही थे। यहां पर हम आपके लिए 5 ऐसे उदाहरण लेकर आ रहे है जब यह रैसलमेनिया के मेन इवेंट एक शानदार स्टोरीलाइन के साथ हुए, जिसके बाद रैसलमेनिया के यह मेन इंवेट काफी शानदार रहे। यहां पर हम रैसलमेनिया 30 को शामिल नहीं कर रहे हैं क्योंकि हमने यहां पर कोई खास स्टोरीलाइन नहीं देखी। तथ्यों के आधार पर देखें तो WWE के तमाम प्रयासो के बाद भी WWE इस रैसलमेनिया में कुछ खास नही कर पाया। शॉन माइकल्स बनाम ब्रेट हार्ट-रैसलमेनिया 12 48d88ac0a2892a2da9d39a04ba971198_crop_north-1486735770-800 अतीत से इतने सारे मेन इवेंट टेलेंट के बाद, 90 के दशक के मध्य में WWF का समय एक विशेष रूप से सफल या मनोरंजक समय नहीं था। उन वर्षो में शायद साल 1996 सबसे अंधकार में था, इतना ही नही एक स्टेरॉयड पीआर आपदा के प्रभाव के बाद कंपनी को फैंस के दूर जाने का खतरा मंडराने लगा, लेकिन प्रतिद्वंद्वी रैसलिंग कंपनी WCW ने वास्तव में कुछ खास निर्माण करने के लिए काम शुरू किया गया। इसके बाद जल्द ही कंपनी को न केवल WCW से बल्कि NCO की लोकप्रियता से मुकाबला करने के लिए मजबूर होना पड़ा। आप संकट के समय क्या करते हैं? यही ना कि आप अपने सबसे विश्वस्त सहयोगी दलों से चीजों को एक लाइन में लाने के लिए बात पूछते हैं। यह ठीक था कि ब्रेट हार्ट और शॉन माइकल्स को रैसलमेनिया 12 के लिए सेट किया गया था, कई कारणों से यह मैच एक परफेक्ट मैच था। वह दोनो रोस्टर पर सबसे दूर दूर तक सबसे प्रतिभाशाली जोड़ी में से एक थे, यहां से पहले बैकस्टेज के पीछे उन दोनों के बीच वास्तविक जीवन में दुश्मनी चल रही थी, और इस चीज को ध्यान में रखते हुए दोनों के बीच मैच कराने के लिए कंपनी देख रही थी और इस दिशा में वह कंपनी का प्रतिनिधित्व करने के लिए तैयार थे। इस कठिन समय में कंपनी ने उनके बीच1 घंटे का आयरन मैन मैच कराने का निर्णय लिया, जो कि एक ही जोखिम भरा कदम था, लेकिन अंत में इसे कराने का फैसला किया गया। यह दोनों उस समय के कलाकार थे जब कंपनी को एक मुस्कान के लिए इनकी सख्त जरुरत थी। शॉन माइकल्स बनाम बनाम अंडरटेकर-रैसलमेनिया 26 undertaker_vs_hbk_at_wrestlemania_26-1-1424715951-1486736341-800 1996 के विपरीत 2010 में WWE टॉप पर थी, और उनकी दृष्टि में कोई भी उनको चुनौती देने के लिए नही था। विंस और उनके बुकर इस बात के लिए स्वतंत्र थे कि वह जो करना चाहते थे वह कर सकते थे, लेकिन इसके साथ वास्तव में कभी-कभी कई बहुत बुरा निर्णय हो जाते थे। यहां पर कई रैसलिंग फैंस के बीच एक पुरानी बहस हैं, कुछ का मानना हैं कि मेनिया के मेन इवेंट को WWE का मेन टाइटल होना चाहिए, वही दूसरी ओर कुछ का मानना है कि यह अपवाद बनाए जाने के लिए किया जा सकता है, और अगर इसके बाद कभी इस अपवाद को बनाने कि कोशिश की गई, तो यह समय रैसलमेनिया 26 के दौरान हुआ। रैसलमेनिया 24 और 25 के मेन इवेंट के असफल होने के बाद यहां पर WWE ने सही समझ दिखाते हुए कंपनी के आखिरी मैच में शॉन माइकल्स को टॉप स्थिति देते हुए दिखी। इन दोनो के बीच मेनिया 25 पर हुआ मैच यकीनन सबसे शानदार मैच था और फैंस के दिमाग में अभी तक उस मैच की यादें थी। अंडरटेकर के रैसलमेनिया के सफर को खत्म करने के लिए शॉन एक मिशन पर थे जिसे उन्होंने अपने करियर के दौरान कभी नही किया था और वह था। आप चाहे मेनिया 25 को या फिर 26 को पंसद करे, हमें लगता है कि आप प्रोफेशनल रैसलिंग के पहलू को सबसे ज्यादा पंसद करते है, हालांकि निश्चित रुप से रैसलमेनिया 26 का शो एक भावनात्मक शो के जैसा था। स्टोन कोल्ड बनाम रॉक-रैसलमेनिया 15 rock-vs-austin-1486736913-800 बहुत सारे फैंस इस बात से सहमत है कि रैसलमेनिया 17 का इवेंट अब तक के सबसे शानदार इवेंट में से एक हैं। जब आप कंपनी के दो मेगा स्टार स्टीव ऑस्टिन और रॉक को एक साथ देखते है तो आपको उस पल को कैश करने की जरुरत होती है. इसी के साथ रैसलमेनिया 15 के मेन इवेंट पर हुए इन दो बड़े मेगा स्टार स्टीव ऑस्टिन और रॉक के बीच मैचअप कराकर रैसलमेनिया 17 के एतिहासिक शोडॉउन से बेहतर स्टोरीलाइन का एक बेहतर उदाहरण था। व्यक्तिगत रूप से हमें लगता है कि यह मैच तकनीकी रैसलिंग के मायने में बेहतर था, हालांकि मेनिया 17 को फैंस दवारा याद रखा जाएगा, लेकिन हमें ऐसा लगता है कि ऐसा नही है कि मेनिया 15 सफल नही हो सका। स्टोन कोल्ड बनाम शॉन माइकल्स-रैसलमेनिया 14 27_scsa_0-1486738766-800 अगर आप किसी से WWE के उनके सबसे पंसदीदा स्टार के बारे में पूछेंगे तो आपको कई अलग-अलग जवाब सुनने को मिलेंगे। और जब आप किसी से WWE के सबसे महत्वपूर्ण या जाने-माने सुपरस्टार के बारे में पूछेंगे तो उनके जबाव में आपको हल्क होगन, स्टोन कोल्ड, और जॉन सीना का नाम सुनने को मिलेगा। होगन मध्य 80 के दशक के स्वर्णिम युग के अवतार थे, तो90 के दशक में 1997 से 2001 तक स्टोन कोल्ड का समय था। जबकि सीना इन दोनो युगो से सबसे कम लोकप्रिय युग के साथ जुड़े होने के बाद सबसे महत्वपूर्ण है। अगर इन तीनो के रैसलमेनिया के मेन इवेंट की बात करे तो होगन रैसलमेनिया 3 पर, सीना रैसलमेनिया 22 पर ट्रिपल एच के सामने और स्टोन कोल्ड का रैसलमेनिया 14 इनके करियर के उदय का सबसे महत्वपूर्ण समय था। इस मैच की बहुत सारी बातें शानदार है लेकिन एक ऐतिहासिक दृष्टिकोण से हमें इसे बाहर लाने के लिए लिए बाध्य हैं। यह मैच एक संकेत था कि WWF अपना स्थान बदल रहा था, और कंपनी पूरी तरह से एक तीव्र प्रोड़क्ट को गले लगाने के लिए खड़ी थी। हल्क होगन बनाम आंद्रे द जाइंट 5b3192197e5a825d2549b357bed1b303-1486738815-800 जैसा कि हमनें पिछले मैच में बात की, उसके बाद यह रैसलमेनिया 3 पूरी तरह से आपको हल्क होगन को कंपनी की मुख्य स्थिति में स्थापित करने के लिए जैसा लगता हैं। आप चाहे तो मेनिया 14 में माइकल्स के ऊपर स्टोन कोल्ड की जीत को सबसे महत्वपूर्ण माने या फिर आप इस बात से सहमत हो कि यह मैच वाकई नंबर एक की पोजिशन पर है, शायद यह सिर्फ उम्र, स्वाद और ऐतिहासिक ज्ञान की तरह बातें करने के लिए नीचे आता है। इससे कोई फर्क नही पड़ता कि दोनों में से को कौन बेहतर है क्योंकि अंक के हिसाब से दोनों मान्य है। लेकिन एक बात माननी पड़ेगी कि हल्क होगन vs. आंद्रे द जाइंट के पहले होने के बिना ऑस्टिन और माइकल्स संभव नही थे। मध्य 80 के दशक में रैसलिंग की दुनिया में रैसलमेनिया और हल्कमेनिया सबसे बड़ी टैग टीम देखी गई, और होगन ने मेनिया 1 और 2 पर इसे पहले से ही साबित भी किया। लेकिन यहांपर उनका मैचअप आंद्रे द जाइंट के साथ था, जिसके पहले होगन संभवत सबसे बड़े आकर्षण के रुप में देखे जा रहे थे। वास्तव में कंपनी के लिए इसके साथ स्वर्ण युग की शुरुआत हुई। 70 और 80 के दशक के रैसलिंग फैंस के ऊपर फ्रेंच आल्प्स से आए सबसे बड़े मॉन्स्टर आंद्रे द जाइंट का जूनून सवार हुआ।

Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now