Create
Notifications

5 मौके WWE जब कमेंटेटर्स पर अटैक किया गया

Amit Shukla

एक मैच को आप टीवी पर देख रहे हैं, लेकिन अगर उसकी व्याख्या करने के लिए कोई कमेंटेटर ना हो तो वो एकदम बेकार लगेगा, जैसे नमक के बिना खाना। कमेंटेटर किसी भी मैच की जान होता है। ये बोलने की कला ही है जो उस मैच को और रोमांचक बना देती है और लोगों को टीवी स्क्रीन्स से जोड़े रखती है। इस सबके बावजूद WWE में कई बार कमेंटेटर, रिंग अनाउंसर और कैमरामैन रैसलर्स के हाथों मार खा चुके हैं। इनमें कुछ कहानी के लिए, कुछ अंजाने में तो कुछ अपना रोष व्यक्त करने के लिए। इनमें अधिकतर बार रैसलर्स ही आगे रहे हैं, लेकिन कई बार कमेंटेटर्स ने भी रियेक्ट किया है। आज हम आपको बताते हैं ऐसे ही 5 वाकयों के बारे में जहां कमेंटेटर्स को रैसलर्स के हाथों मार खानी पड़ी है:

#5 सीएम पंक ने जैरी लॉलर पर किया हमला

youtube-cover

सीएम पंक की छवि एक ऐसे रैसलर की है जो कमेंटेटर्स को हमेशा ज़लील करते हैं। उन्होंने जिम रॉस, जैरी लॉलर तथा अन्य कई नॉन रैसलर्स को ज़लील किया हुआ है। एक वाकया है जब 2012 में पंक ने लॉलर को रिंग में बुलाकर उनपर वार किया। 2012 में 20 अगस्त वाले एपिसोड पर सीना और पंक एक-दूसरे पर शब्दों से वार कर रहे थे। ये उनके बीच होने वाले WWE चैंपियनशिप मैच से जुड़ा था। जब सीना ने रिंग छोड़ दी, तो पंक ने लॉलर को रिंग में बुलाया और उनसे माफी मांगने के लिए कहा। लॉलर ने माफी तो मांगी पर पंक को बेस्ट इन द वर्ल्ड नहीं कहा। रिंग से जाते समय लॉलर ने पंक को धक्का दे दिया और इसने पंक को गुस्सा दिला दिया जिसकी वजह से उन्होंने लॉलर के सर पर वार कर दिया। इसे वीडियो में 6 मिनट 35 सेकंड पर देखा जा सकता है। अगले सप्ताह इन दोनों के बीच एक स्टील केज मैच हुआ जिसे पंक ने जीता, पर उसके बाद उन्होंने लॉलर पर अटैक कर दिया, और तब तक वार करते रहे जब तक सीना उन्हें बचाने नहीं आए।

#4 रॉक बनाम माइकल कोल

youtube-cover

माइकल कोल एक बेहद पुराने कमेंटेटर हैं और इसलिए उन्होंने स्टोन कोल्ड, रॉक तथा जॉन सीना सरीखे कई रैसलर्स से मार खाई हुई है। एक वाकया है जब अपने जन्मदिन पर रॉक ने माइकल कोल को रिंग में काफी पीटा। 2 मई 2011 को रॉक अपना जन्मदिन WWE यूनिवर्स के साथ सेलिब्रेट करने आए। इस बीच एनोनिमस जनरल मैनेजर के ईमेल को पढ़ने के लिए कोल आए। इस बात से रॉक नाराज़ हो गए और उन्होंने कोल को रिंग में आकर ईमेल पढ़ने के लिए कहा। कोल ने रिंग में जाकर रॉक से माफी मांगने को कहा। रॉक ने माफी तो मांग ली लेकिन जैसा कि इस वीडियो में दसवें मिनट पर दिख रहा है उन्होंने कोल को पहले तो एक रॉक बॉटम दिया और फिर एक पीपल्स एल्बो।

#3 शेमस ने जैरी लॉलर पर किया अटैक

youtube-cover

2009 में शेमस ने WWE के रॉ ब्रैंड पर एंट्री की। उस समय उन्होंने विलन या हील रूप अपनाया। शेमस ने लगातार जेमी नोबल पर लगातार वार किए जिसकी वजह से उन्हें रिटायर होना पड़ा। उसके बाद शेमस ने 16 नवंबर के एपिसोड पर एक ओपन चैलेंज जारी किया लेकिन उसका जवाब किसी रैसलर ने नहीं दिया। इसकी वजह से शेमस नाराज़ हो गए और उन्होंने टाइमकीपर पर वार कर दिया। उसे ज़्यादा डैमेज से बचाने के लिए जैरी लॉलर आए, पर उन्हें भी इस वीडियो में 1 मिनट 50 सेकंड पर एक जोरदार ब्रॉड किक प्राप्त हुई। इसकी वजह से इन दोनों को नजदीकी मैडिकल जगह पर प्राथमिक उपचार के लिए भेजा गया।

#2 केन ने किया माइकल कोल और जैरी लॉलर पर हमला

youtube-cover

2008 में सीएम पंक के WWE चैंपियनशिप के लिए लड़ने के एक मौके को बतिस्ता के हाथों गंवाने के बाद केन गुस्से में आ गए। उनको मैच जीतकर ग्रेट अमेरिकन बैश पर पंक से लड़ना था, पर इस हार के बाद उन्होंने रिंग के आसपास सबको पीटना शुरू किया। पहले बारी आई टाइमकीपर और कैमरामैन की और उसके बाद दोनों कमेंटेटर्स की, जिसे आप इस वीडियो में 2 मिनट 15 सेकंड पर देख सकते हैं। माइकल कोल को एक चोकस्लैम से बचाने के लिए लॉलर ने केन के घुटनों पर वार कर दिया। इस बात से केन नाराज़ हो गए और उन्होंने तबतक लौलर को पीटा जबतक वो अचेत नहीं हो गए। इसके बाद केन ने रिंग से विदा ली।

#1 ब्रॉक लैसनर ने माइकल कोल को पीटा

youtube-cover

रैसलमेनिया 31 पर सैथ रॉलिन्स ने अपना मनी इन द बैंक कॉन्ट्रैक्ट कैश करके WWE चैंपियनशिप जीती। अगले दिन रॉ पर ब्रॉक ने अपना रीमैच चाहा जिसे देने से रॉलिन्स ने इनकार कर दिया। इसके बाद ब्रॉक ने रॉलिन्स पर अटैक करना चाहा पर वो बच निकले और वहां से चले गए। ब्रॉक ने उसके बाद टेक्नीशियन्स पर अटैक कर दिया। इसके बाद ब्रॉक ने माइकल कोल पर अटैक कर दिया जो कि इस वीडियो के 1 मिनट और 54 सैकंड पर देखा जा सकता है। ब्रॉक को रोकने के लिए स्टेफनी मैकमैहन भी आई पर लैसनर ने F5 देना बंद नहीं किया। इसकी वजह से माइकल कोल ने ब्रॉक लैसनर पर एक कोर्ट केस भी कर दिया था लेकिन बाद में एक दूसरे से माफी मांगकर सुलह कर ली। लेखक: राजर्षि बैनर्जी, अनुवादक: अमित शुक्ला

Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...