COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

Evolution पीपीवी में एजे ली को वापसी करते देखना चाहते हैं WWE फैंस

ANALYST
न्यूज़
224   //    30 Jul 2018, 12:27 IST

<p src=" />


हाल ही में अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर WWE ने एक पोल रखा था, जिसमें फैंस से पूछा गया था कि अतीत की किस महिला सुपरस्टार को वे WWE इवोल्यूशन पीपीवी में देखना पसंद करेंगे।


12 विमेंस सुपरस्टार्स में से एजे ली को 50% से अधिक वोटों के साथ, स्पष्ट रूप से सबसे ज्यादा पसंद किया गया। पूर्व डीवाज़ चैंपियन ने आसानी से इस पोल में मिशेल मैक्कूल, टोरी विल्सन और बेथ फीनिक्स को हराया।


ग़ौरतलब है कि स्टैफ़नी मैकमैहन के द्वारा WWE इवोल्यूशन की घोषणा के बाद से, WWE ने कार्यक्रम को बढ़ावा देने के लिए हर सम्भव कदम उठाया है। इवेंट के लिए लिटा और ट्रिश स्ट्रैटस की की पुष्टि करने के बाद, WWE ने अपनी वेबसाइट पर एक सर्वेक्षण पोस्ट किया जो प्रशंसकों से पूछता है कि WWE की पूर्व विमेंस में से, किस अन्य सदस्य को वे इवोल्यूशन में देखना चाहते हैं।  


एजे ली ने भारी अंतर से यह मतदान जीत लिया। उनके नाम पर 68% वोट रहे। उसके बाद स्टेसी कीब्लर, बेथ फीनिक्स और कैली कैली का नम्बर आता है, ये सभी सिर्फ 5% वोट ही पा सकीं। लिस्ट में शामिल अन्य महिलाएं टोरी विल्सन, जैकलिन, मौली होली, अलुंड्रा ब्लेज़, समर रे, ईव टोरेस, मिशेल मैक्कूल और लैला हैं, सभी को 5% से कम वोट मिले हैं।


WWE एवोल्यूशन को जितना संभव हो सके उतना बड़ा बनाना चाहता है और इसका मतलब है कि शो में और नाम जुड़ने वाले हैं। यह वो नाम हैं जो वास्तव में आकर्षित कर सकते हैं। मुख्य रोस्टर की प्रत्येक महिला सदस्य को शो का हिस्सा बनाने की पुष्टि कर दी गई है। NXT रोस्टर के साथ-साथ मे यंग क्लासिक 2018 के प्रतियोगी भी शामिल होंगे। इस आयोजन में इस टूर्नामेंट का फाइनल होने वाला है।


WWE ने अपने विमेंस डिवीज़न में ज्यादा से ज्यादा टैलेंट लाने के लिए बड़ी रकम खर्च की है और उन्होंने हाल ही में इंडी सर्किट सुपरस्टार टोनी स्टॉर्म के साथ-साथ जापानी सुपरस्टार ईओ शिराई को भी साइन किया है।


एजे ली का आगमन WWE के लिए बेहद फायदेमंद होगा क्योंकि एजे ली अपने समय की सबसे बड़ी सुपरस्टार में से एक थीं। इसके अलावा, एजे ली दर्शकों की पसंदीदा भी हैं। वह जहां कहीं भी वह परफॉर्म करेंगी, उन्हें दर्शकों का प्यार मिलेगलेखक: अग्निबेष बंदोपाध्याय, अनुवादक: उत्कर्ष मिश्रा।

Topics you might be interested in:
Advertisement
Fetching more content...