Create

इस साल Women's Hell in a Cell मैच के ना होने की असली वजह सामने आई

हैल इन ए सैल पीपीवी पर इस बार दो हैल इन ए सैल मैच देखने को मिले, लेकिन इसमें विमेंस हैल इन ए सैल नहीं शामिल था। बैकी लिंच ने एक इंटरव्यू के दौरान डिजिटल स्पाई से बात करते हुए इस साल विमेंस हैल इ ए सैल मैच के न होनें की वज़ह बताई। साथ ही हैल इन ए सैल पीपीवी के कार्ड पर खुद का नाम न होने पर भी निराशा जताई। बैकी लिंच ने कहा विमेंस हैल इन ए सैल मैच ना होने का मतलब यह बिल्कुल नहीं है कि विमेंस डिवीजन एक कदम पीछे हो गया है, बल्कि यह सब एक रोटेशन पॉलिसी का हिस्सा है। आपको बता दें कि पिछले साल हैल इन ए सैल पीपीवी पर पहली बार हैल इन ए सैल मैच हुआ था, जिसमें शार्लेट फ्लेयर और साशा बैंक्स के बीच मुकाबला हुआ था। इस मैच ने पूरे विमेंस डिवीजन में एक नई क्रांति ला दी और विमेंस डिवीजन को एक नए स्तर पर ले जाने में मदद की। अपने इंटरव्यू में बैकी लिंच ने कहा कि,"उन्हें नहीं लगता कि इस साल विमेंस हैल इन ए सैल मैच का न होना एक बुरी बात है। यह एक रोटेशन प्रणाली का हिस्सा है" बैकी ने अपने इंटरव्यू में नतालिया और शार्लेट फ्लेयर के कैरेक्टर के बारे में बात करते हुए कहा कि, उनकी फिउड अभी शुरु हुई है जो कि हैल इन ए सैल मैच के लिए अभी परफेक्ट नहीं थी। बैकी के मुताबिक विमेंस हैल इन ए सैल मैच के न होने से विमेंस डिवीजन को कोई नुकसान नहीं पहुंचेगा। बैकी ने खुद का नाम इस पीपीवी के कार्ड पर ना बात करते हुए कहा कि, वह हैल इन ए सैल पीपीवी का हिस्सा ना होने के कारण काफी निराश हैं। बैकी लिंच ने कहा कि जिस तरह से WWE में चीजें बदलती है उससे उन्हें उम्मीद है कि वह अगले साल रैसलमेनिया पर मेन इवेंटर के रुप में नजर आ सकती हैं। लेखक: अनिरबन बनर्जी, अनुवादक: अंकित कुमार

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment