Create

WWE Raw, 23 October 2017: शो की अच्छी और बुरी बातें

इस हफ्ते रॉ पर धमाल हुआ और वो इसलिए क्योंकि अब एक ऐसा पे-पर-व्यू आ रहा है जिसमें दोनों ब्रैंड्स को हिस्सा लेना हैं। सिर्फ वही नहीं, खुद को बेहतर भी साबित करना है। आखिरकार अब टीएलसी हो चुका है और अगले पे-पर-व्यू में ज़्यादा समय नहीं है, तो दोनों ही ब्रांड को अपने काम और स्टोरीलाइन को बहुत बेहतर करना होगा ताकि वो कमाल कर सकें। वैसे तो इस हफ्ते के रॉ में बहुत सारा धमाल हुआ, लेकिन हम आपको बताएंगे इस शो की वो अच्छी और खराब बातें जिन्होंने इस बार इस शो को अच्छा बनाया और आने वाले पे-पर-व्यू के लिए जिज्ञासा बढ़ा दी।

#1 अच्छी बात: दोनो ब्रैंड्स को बेहतर करना

1ee3a-1508815908-500

वैसे तो शेन मैकमैहन को एक बेबीफेस की तरह ही दिखाया जाता है लेकिन इस बार के रॉ पर उन्हें एक हील की तरह दिखाया गया। अब जबकि एक ऐसा शो आने वाला है जहां पर दोनों ब्रांड्स का सामना होना है तो उसके लिए दोनों ब्रैंड्स को खुद को बेहतर भी करना होगा। इसी कड़ी में शेन मैकमैहन का अंडर सीज़ वर्ड काफी काम आया और वाकई एक कमाल का ट्रेंड बन गया। इस बार के मैचेज़ पिछले सालों के मैचेज़ से ज़्यादा अच्छे दिख रहे हैं और फैंस ये उम्मीद कर सकते हैं कि इस बार का घमासान बांकी के सालों में हुए मैचेज़ की याद कम कर देगा। अगर इसका एक उदाहरण देखना है तो इस बार का इन्वेजन देख लीजिए।

#1 बुरी बात: उतना पावरफुल कार्ड नहीं है

92c8e-1508816465-500

अब कर्ट ने एक इतने बड़े कार्ड का नाम तो ले लिया लेकिन इसमें से कितने पर लोगों को आनंद आएगा ये देखने वाली बात है, क्योंकि एक डीन-सैथ वर्सेज़ उसोज के अलावा तो कोई भी ऐसा नाम नहीं था जिसने हमें अच्छा महसूस कराया हो। यहां तक कि शो के दौरान जब कर्ट ने इस मैच के इलावा नटालिया बनाम एलेक्सा और मिज़ बनाम बैरन कॉर्बिन कहा तो ऑडियंस से कोई जवाब नहीं आया। यहां हम गलती से भी जिंदर बनाम ब्रॉक नहीं कहेंगे क्योंकि वो तो एक ऐसा मैच है जिस पर अभी बहुत काम होना बाकी है, और सिर्फ यही नहीं, अगर पॉल हेमन ने इस मैच को उठा दिया और क्यूरोसिटी बना दी तो अलग बात है, वरना ये मैच क्या होगा, ये अलग से बताने की जरूरत नहीं।

#2 अच्छी बात: इन्वेजन 2017

7f912-1508817065-500

इस सप्ताह रॉ पर जिस तरह से सुपरस्टार्स ने इन्वेजन किया उस आधार पर देखा जाए तो ये इन्वेजन काफी खास था। खास तौर पर ये कि एक ब्रांड के सुपरस्टार आए और दूसरे को धो डाला। जी हां, जिस तरह से स्मैकडाउन के स्टार्स ने धमाल मचाया वो कमाल था। वैसे इस सब की वजह से अब रॉ के सुपरस्टार्स कब स्मैकडाउन पर धावा बोलेंगे, ये तो वक़्त ही बताएगा लेकिन इतना तो तय है कि वो एक बेबीफेस है और स्मैकडाउन हील। यहां देखने वाली बात ये है कि इस सब के बीच कहीं भी सैमी या केविन नहीं दिखे। ये साबित करता है कि जो विंस के साथ हुआ उसके बाद अब उनका ट्रस्ट इन दो सुपरस्टार्स से उठ चुका है।

#2 बुरी बात: कई लॉजिकल फ़्लॉज़

9a750-1508817806-500

अब जब कर्ट एंगल ने एपिसोड शुरू होते ही कह दिया कि ब्रॉक जिंदर से लड़ेंगे तो इस बात की क्या ज़रूरत थी कि हेमेन अलग से आकर जिंदर का चैलेंज एक्सेप्ट करें। उस पर कमाल ये कि पिछले हफ्ते ही ये साफ हो गया था जब ये खबर आई कि इस रॉ पर हेमेन आएंगे अपने क्लाइंट के साथ, तो ये तय था कि वो चैलेंज एक्सेप्ट करने ही आ रहे होंगे, तो फिर वही एक बात बार बार करने का क्या लाभ? इस सब की वजह से ना सिर्फ रॉ, WWE बल्कि खुद हेमेन की वैल्यू भी कम होती है। इसमें कोई दो राय नहीं कि जब हेमेन आते हैं तो अपनी बातचीत से वो सैगमेंट्स को इतना मजेदार बना देते है कि हर कोई उन्हें सुनना चाहता है, लेकिन इतनी बड़ी गलती कैसे?

#3 अच्छी बात: फॉक्स बनीं टीम की कैप्टन

fa7b7-1508817973-500

ये एक अच्छा और कमाल का कदम था, खासतौर पर ये देखते हुए कि साशा और बेली के किरदार निर्धारित हैं और उनके बारे में हर किसी को पहले से मालूम है। लेकिन एलिसिया का किरदार थोड़ा अप्रत्याशित है मगर यही तो इस स्टोरी में ताकत लाएगा। क्योंकि किसी भी टीम को ये नहीं मालूम होगा कि अब एलिसिया का अगला कदम क्या होगा। ये बात बिल्कुल सही है कि वो इन-रिंग कम्पटीशन में बेकार है लेकिन इस बात में कोई शक नहीं कि वो एक कमाल ज़रूर लाएंगी।

#3 बुरी बात: वही गलती बार बार करना

eae57-1508818485-500 (1)

क्रूज़रवेट चैंपियनशिप और 205 लाइव में एक ही मैच बार बार हो रहा है और सिर्फ यही नहीं, वो एक पुतले की तरह पेश किए जा रहे हैं। इसी वजह से जब ये मैच हो रहा था तब पूरे एरीना में एकदम शांति थी और किसी को भी ये मैच समझ ही नहीं आ रहा था। आखिरकार कितनी बार हम कलिस्टो बनाम एन्जो देखें? आखिर कितनी बार ये बताया जाए कि इन सारे रैसलर्स को अपनी एक अलग पहचान बनानी होगी और वो इस तरह के मैचेज़ की वजह से नहीं होगी। इस एक डिवीज़न को अब रिवाइवल की जरूरत है और वो हो सकता है सिर्फ एक अच्छी स्टोरीलाइन और अच्छे इन-रिंग प्रोमोज के साथ। अब डिवीज़न को एक इंसान के भरोसे तो नहीं चलाया जा सकता है ना?

#4 अच्छी बात: एक विन ज़रूरी थी

3754d-1508818765-500

केन ब्रॉन स्ट्रोमैन के साथ सर्वाइवर सीरीज पर लड़ेंगे ये बात तो तय है, ज़रूरी बात ये है कि उन्हें कैसे पुश किया जाए? इस वजह से उन्हें इस हफ्ते रॉ पर फिन से लड़वाया गया ताकि वो उन्हें हराकर खुद को एक थ्रेट की तरह स्थापित कर सकें। एक इतने बड़े और लैजेंड करियर के बाद भी अगर केन को साबित करना पड़ रहा है तो फिर सोचने की ज़रूरत है कि आखिर क्या किया जाए। खैर सबसे कमाल की बात थी कि फिन इतनी जल्दी पिन नहीं हुए और उन्होंने केन को एक टक्कर दी, एक जबरदस्त टक्कर और फिर एक लंबे और अच्छे मैच के बाद चित हुए। इसका फायदा दोनो ही रैसलर्स को मिलेगा ये बात तो तय है। लेखक: रिजु दासगुप्ता अनुवादक: अमित शुक्ला

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment