COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit

ब्रॉक लैसनर द्वारा वजन घटाने की वजह की जानकारी सामने आई

27   //    24 Aug 2018, 12:49 IST

रैसलिंग ऑब्जर्वर न्यूजलैटर की हालिया रिपोर्ट में ब्रॉक लैसनर के वजन घटाने की संभावित वजह के बारे में जानकारी दी गई है। काफी सारे रैसलिंग फैंस का मानना है कि ब्रॉक लैसनर का वजन कम हुआ है और समरस्लैम में रोमन रेंस के खिलाफ हुए टाइटल मैच के दौरान इसकी झलक देखने को मिली।

फैंस की सभी शंकाओं को रैसलिंग ऑब्जर्वर ने दूर किया। रिपोर्ट में बताया गया कि ब्रॉक लैसनर साल 2016 में यूएस एंटी डोपिंग एजेंसी के टेस्ट में फेल हुए थे। पिछले महीने द बीस्ट फिर से डोपिंग एजेंसी के टेस्टिंग पूल का हिस्सा बने हैं और एजेंसी द्वारा ब्रॉक लैसनर के 3 सरप्राइज़ टेस्ट किए जा चुके हैं।

रिपोर्ट की मानें तो ब्रॉक लैसनर के शरीर में काफी बदलाव आए हैं और उनका वजन भी कम हुआ है। दरअसल ब्रॉक लैसनर काफी तगड़ी ट्रेनिंग करने में लगे हुए हैं।



पूर्व UFC हैवीवेट चैंपियन लैसनर के लिए प्लान बनाया गया है कि वो 270 पाउंड (122 किलो) के आसपास आकर ट्रेनिंग करें क्योंकि 265 पाउंड के हैवीवेट डिवीजन की फाइट के लिए फिर उन्हें ज्यादा वजन कम नहीं करना पड़ेगा और वजन कम करने में परेशानी भी नहीं आएगी।

माना जा रहा है कि ब्रॉक लैसनर का सामना हैवीवेट चैंपियनशिप के लिए डेनियल कॉर्मियर के साथ होगा। ये फाइट अगले साल के शुरुआती महीनों जरवरी या फरवरी में हो सकती है। लैसनर ने UFC 226 के दौरान ऑक्टागन में आकर कॉर्मियर को फाइट के लिए चैलेंज किया था। UFC के प्रेसीडेंट डैना वाइट और चैंपियन कॉर्मियर इस फाइट को लेकर हामी भर चुके हैं।



ब्रॉक लैसनर ने UFC में काफी नाम कमाया है और वो एक समय कंपनी के हैवीवेट चैंपियन थे। द बीस्ट ने अपने करियर की आखिरी UFC फाइट मार्क हंट के खिलाफ 2 साल पहले लड़ी थी। यहां जीत ब्रॉक लैसनर की हुई थी, लेकिन डोप टेस्ट में फेल होने की वजह से मैच को बेनतीजा घोषित कर दिया गया। अब लैसनर पुरानी यादों को भुलाकर UFC करियर की नई सिरे से शुरुआत करना चाहेंगे।

Fetching more content...