Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

ब्रॉक लैसनर Vs फिन बैलर के मैच के लिए ड्रीम बुकिंग

Amit Shukla
ANALYST
Modified 02 May 2017, 17:19 IST
Advertisement
ब्रैंड स्प्लिट के दौरान जब डीन एम्ब्रोज़ रॉ से स्मैकडाउन आ गए तो वो अपने साथ WWE चैंपियनशिप भी ले आये थे, जिसकी वजह से रॉ पर कोई मेजर टाइटल नही रह गया था। आखिरकार उस वक़्त के जनरल मैनेजर मिक फोली ने एक नई चैंपियनशिप की घोषणा की, जिसका नाम उन्होंने WWE यूनिवर्सल चैंपियनशिप रखा। इसके बाद इस चैंपियनशिप के हकदार बनने के लिए एक मैच हुआ जिसको फिन ने जीता, लेकिन अपने कंधे में आई चोट की वजह से वो इसे आगे नही ले जा सके। उन्हें अगले दिन ही इसे छोड़ना पड़ा और फिर ये केविन ओवेन्स के कंधे पर दिखाई दी, लेकिन उनसे भी इसे गोल्डबर्ग ने जीत लिया और बाद में रैसलमेनिया पर ये ब्रॉक लैसनर के हाथ आ गई। उस दिन से लेकर अब तक ब्रॉक ने इस चैंपियनशिप को डिफेंड नही किया है, लेकिन WWE रॉ के अगले पे-पर-व्यू 'ग्रेट बॉल्स ऑफ फायर' पर इसे डिफेंड किया जाएगा। अब देखना ये होगा कि कंपनी इस स्टोरीलाइन को कैसे आगे बढ़ाती है। finn-balor-1493608311-800 अब जब पेबैक पर फिन ने चैलेंज कर ही दिया है तो ये ज़रूरी है कि कंपनी इसे बिल्ड करे, और इसके लिए सबसे ज़रूरी होगा कि पॉल हेमन अगले रॉ पर आकर बैलर का मज़ाक उड़ाएं, और बैलर उसका उतनी ही मज़बूती से जवाब दें, हालांकि वो अपना डीमन पर्सोना जारी रखें, और इस दौरान ब्रॉक उनसे बड़े मॉन्स्टर के रूप में नज़र आए। एक्सट्रीम रूल्स पे-पर-व्यू पर फिन, ब्रॉक को ग्रेट वाल्स ऑफ फायर पर एक इन्फर्नो मैच के लिए चैलेंज करें। इससे कम से कम पे-पर-व्यू के नाम की लाज भी रह जाएगी। इसके बाद मैच वाले दिन से पहले और मैच के दौरान फिन को अपना डीमन रूप दिखाना चाहिए, लेकिन जीतने की बजाय उन्हें हारना चाहिए। इससे ये साबित होगा कि ब्रॉक पर ये सारे पैंतरे नही चलने वाले हैं और उन्हें कुछ और करना होगा। इस हार से फिन को मदद भी मिलेगी, क्योंकि उनके पास बैलर क्लब का पूरा समर्थन है। इसके बाद फिन को दोबारा एक चैलेंज समरस्लैम के लिए थ्रो करना चाहिए, लेकिन इस दौरान उन्हें पहले तो खुद को हारा हुआ लेकिन मन से कॉंफिडेंट रैसलर दिखाना पड़ेगा ताकि फैंस उनको सपोर्ट करें। फिन को मेन रॉस्टर में आए हुए एक साल हो चुका है लेकिन वो अब भी साइडलाइन्स पर है, लेकिन उनके लांग टर्म करियर के लिए अब उन्हें ऐसे लड़ना होगा, जैसे या तो ये पल है, या कुछ भी नही। वो जैसा अंग्रेज़ी में कहते है,'इट्स नाउ औऱ नेवर।' अब समरस्लैम में कौन जीतेगा ये तो बताने की ज़रूरत नही होनी चाहिए? ज़ाहिर है कि फिन को ही जीतना चाहिए, लेकिन वो भी कुछ इस तरह कि जैसे किसी को उनके जीतने की उम्मीद ना हो और वो एकाएक कुछ ऐसा कर जाए, कि लैसनर चित और फिन चैंपियन। इस सब से लैसनर को कोई नुकसान नही होने वाला क्योंकि वो बीस्ट इंकार्नेट थे, है और रहेंगे। हाँ, लेकिन इस स्टोरीलाइन से फिन का भला हो जाएगा। ब्रॉक चाहे तो इसके बाद एक ब्रेक लेकर रॉयल रम्बल में वापस आ सकते है कुछ नया धमाल करने। लेखक: मिहिर चक्रपाणि, अनुवादक: अमित शुक्ला Published 02 May 2017, 17:19 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit