Create

पूर्व WWE Superstar ने भारतीय फैंस को दिया खास तोहफा, नई अकादमी से युवा रेसलर्स को मिलेगा बड़ा मौका

WWE के पूर्व सुपरस्टार जीत रामा ने रेसलिंग अकेडमी की शुरुआत की
WWE के पूर्व सुपरस्टार जीत रामा ने रेसलिंग अकेडमी की शुरुआत की

WWE के पूर्व सुपरस्टार जीत रामा (Jeet Rama) की घर वापसी हो गई है। उन्होंने भारतीय प्रोफेशनल रेसलिंग प्रमोशन Wrestle Square के साथ पार्टनरशिप कर ली है। इसी के साथ आधिकारिक रूप से 'Jeet Wrestle Square Academy' की शुरुआत हो गई है। यह भारतीय रेसलिंग फैंस के लिए काफी अच्छी चीज़ है।

जीत रामा और Wrestle Square के प्रमोटर विनायक सोढ़ी के अनुसार उनकी अकेडमी का लक्ष्य कम पैसों में ऊँचे स्तर की प्रोफेशनल रेसलिंग की ट्रेनिंग देना है। सोढ़ी ने WWE के भारत में 2019 के ट्रायआउट के दौरान एक अहम किरदार निभाया था और बताया कि उन्होंने जीत रामा को क्यों चुना है। उन्होंने कहा:

"जीत एक हिंदी शब्द है जिसका अर्थ 'जीतना' होता है। यह एक ऐसा शब्द है जो आपको प्रेरणा देता है। जीत रामा जी इस नाम के साथ नजर आते थे क्योंकि वो रेसलिंग में काफी अच्छे हैं। इसी वजह से वो जीत के नाम से जाने जाते थे। Jeet Wrestle Square Academy नाम चुना गया है क्योंकि जब भी प्रोफेशनल रेसलिंग की बात होगी तो भारत की जीत को पूरी दुनिया में स्पोर्ट और एंटरटेनमेंट के मामले में सेलिब्रेट किया जाएगा।

जीत रामा ने WWE में कई दिग्गजों के नेतृत्व में ट्रेनिंग की है। हालांकि, WWE में काम करने से पहले वो एक एमेच्योर रेसलिंग चैंपियन रहे हैं। वो 10 बार के कुश्ती हैवीवेट चैंपियन हैं और उन्होंने तीन बार हिंद किसी का खिताब अपने नाम किया है। इसके अलावा वो रुस्तम-ए-हिंद भी रह चुके हैं। जीत रामा ने इस विषय में कहा:

"मैं जब WWE में था तब भी मैं Wrestle Square में आता था। जब से मैंने 2015 में WWE को जॉइन किया था, मैं इनसे बातें कर रहा हूँ क्योंकि मेरे लिए यह ऐसे व्यक्ति हैं जो प्रोफेशनल रेसलिंग को सही तरह से आगे बढ़ा रहे हैं। मैं भारत में रहते हुए एमेच्योर रेसलिंग करता था। मुझे सबसे पहली चीज़ जो चाहिए थी वो आग थी और मैंने यह इस अकेदमी और कंपनी में देखी है।"

आप नीचे क्लिक करके पूरी वीडियो देख सकते हैं:

youtube-cover

अब देखना होगा कि जीत रामा बतौर ट्रेनर कैसा काम करते हैं और उनकी अकादमी से निकलकर कोई बड़ा नाम बनाता है या नहीं।

Edited by मयंक मेहता
Be the first one to comment