Create

ब्रॉक लैसनर द्वारा केन को करीब 30 सेकेंड में हराने की संभावित वजह का खुलासा

रॉयल रम्बल के बाद ब्रॉक लैसनर लाइव इवेंट के दौरान पहली बार यूनिवर्सल चैंपियनशिप डिफेंड करने उतरे। उन्होंने केन के खिलाफ एक बेहद छोटे मैच में टाइटल को डिफेंड किया। केन भी करीब 1 महीने के बाद कल ही रिंग में लौटे थे। केन, ब्रॉक लैसनर को चोकस्लैम देने की कोशिश कर रहे थे, तभी लैसनर ने उन्हें पकड़कर F-5 दिया और मैच को अपने नाम किया। लैसनर की आसान जीत के बाद फैंस काफी गुस्से में नजर आए और ढेर सारे फैंस ने ट्विटर के जरिए अपनी नाराजगी भी जाहिर की थी। रैसलिंग के जाने माने पत्रकार डेव मैल्टजर ने इस मैच को लेकर अपनी राय रखी। उन्होंने कहा, "WWE के कंपनी पर ही ब्रॉक लैसनर ने इस तरह का मैच लड़ा है लेकिन इस बात से फैंस काफी गुस्से में हैं। मैच में उतरते वक्त ब्रॉक लैसनर को फैंस की तरफ से शानदार रिएक्शन मिला। ये मैच जरा से देर ही चला। केन ने लैसनर को पंच मारने की कोशिश की, उसके बाद ब्रॉक ने उन्हें 2 जर्मन सुप्लैक्स और 1 F5 देकर मैच का अंत कर दिया। 1 मिनट से भी कम का मैच कोई देखना पसंद नहीं करता। फैंस मैच को लेकर काफी गुस्सा थे।" भले ही फैंस ब्रॉक लैसनर से नाराज़ हों, लेकिन इसमें उनकी कोई गलती नहीं हैं। मैल्टजर ने आगे बोलते हुए कहा, "क्या लैसनर द्वारा छोटा मैच लड़ने के पीछे की वजह है कि वो बड़े फाइटिंग मैच के लिए खुद के शरीर को सुरक्षित रखना चाह रहे हैं? जब उन्होंने 2016 में मार्क हंट के खिलाफ फाइट लड़ी थी तो रैसलमेनिया मैच में डीन एम्ब्रोज़ के खिलाफ कुछ खास प्रदर्शन नहीं किया था। क्या वो फिर से UFC में जाने वाले हैं, जिस वजह से इस तरह के मैच लड़ रहे हैं? अब फैंस को इस बात का डर सताने लगा होगा कि यही सब चलता रहा तो रैसलमेनिया के मेन इवेंट में ब्रॉक लैसनर और रोमन रेंस का मैच कितनी देर का होगा। लैसनर मैच में ज्यादा कोशिश नहीं करते, कहीं उनकी वजह से मैच का कबाड़ा ना हो जाए।

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment