Create
Notifications
Get the free App now
Favorites Edit
Advertisement

"WWE में रोमन रेंस को सिर्फ 8 हफ्तों में ऊपर पहुंचा सकता हूं और इसके बाद फैंस उन्हें कभी बू नहीं करेंगे"

  • लैजेंड ने कही बड़ी बात।
SENIOR ANALYST
Modified 21 Sep 2018, 20:22 IST

प्रोफेशनल रैसलिंग लैजेंड और WCW बुकर केविन केविन सुलिवन इस बार एक रैसलिंग रेडियो शो के गेस्ट के तौर पर पहुंचे। यहां उन्होंने अपना शानदार इंटरव्यू दिया। इंटरव्यू के दौरन उन्होंने इस बारे में बात में बताया कि रोमन रेंस को उसी तरह बू फैंस द्वारा किया जा रहा है जैसे हल्क होगन को हील टर्न लेने से पहले किया जा रहा था। सुलिवन ने कहा कि उनके पास वो तरीका है जिससे रोमन रेंस ऊपर जा सकते है और इसके लिए सिर्फ 8 हफ्ते लगेंगे। रैसलिंग इतिहास में केविन का बड़ा नाम है। उन्होंने रैसलिंग को काफी ऊपर पहुंचाया है। WCW की बुकिंग को उन्होंने जबरदस्त तरीके से बुक किया और फिर मंडे नाइट वार को भी शानदार तरीके से आगे बढ़ाया। रोमन रेंस का देखा जाए तो इस समय बुरा हाल है। WWE उन्हें लगातार पुश दे रही है लेकिन वो फैंस की नजर में आगे नहीं बढ़ पा रहे है। लगातार फैंस उन्हें बू कर रहे है। सुलिवन ने इस प्रॉब्लम को सही करने का तरीका बताया कि आखिर कैसे इससे रोमन रेंस को निजात मिल सकती है। केविन सुलिवन के अनुसार,"ये काफी सरल है। मुझे लगता है कि मैं रोमन रेंस को ऊपर पहुंचा सकता हूं, 8 हफ्तों में फैंस उन्हें चीयर करने लग जाएंगे। मेरे लिए ये महत्व नहीं रखता कि फैंस उन्हें चीयर करते है या बू करते है। मैं ऐसा सोचता हूं कि आप किसी को पुश देकर ही ऊपर पहुंचा  सकते है। इससे ज्यादा आप कुछ नहीं कर सकते है। आप ये चीज ज्यादा भी नहीं कर सकते हो। अभी तो बिल्कुल भी नहीं। सभी लोग रैसलिंग के विशेषज्ञ है। और अाप उनके मुंह से उनकी बात छीन नहीं सकते क्योंकि उन्हें जो करना है वो कर के रहेेंगे। और ये सबसे बड़ा चैलेंज है कि ये ऐसा सोचते है कि वो जीत गए है। मेरे हिसाब से थोड़ा हारना चाहिए और फिर टर्न लेना चाहिए। इसके बाद अपने आप रिजल्ट आएगा"

 रोमन रेंस इस समय रॉ में जिंदर महल के साथ फ्यूड में शामिल है। इस समय मनी इन द बैंक पीपीवी के लिए बिल्ड अप इनके बीच मैच का चल रहा है। जिंदर महल के साथ  इसलिए रोमन रेंस का मुकाबला कराया जा रहा है तांकि फैंस रोमन रेंस को चीयर कर सकें।

Published 21 May 2018, 11:38 IST
Advertisement
Fetching more content...