Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

रोमन रेंस के हेटर्स को अब समझ आ रहा होगा क्यों वो WWE के असली 'द बिग डॉग' हैं

SENIOR ANALYST
फ़ीचर
8.42K   //    19 Dec 2018, 15:55 IST

Enter caption

रोमन रेंस...WWE में ये नाम ही काफी है। 22 अक्टूबर 2018 को जो कुछ भी हुआ, उसके बाद से अब तक ऐसी चीजें हुई हैं, जिन्होंने रोमन रेंस की अहमियत को कई गुणा बढ़ा दिया है। अक्सर WWE के हार्डकोर फैंस यही शिकायत करते रहते थे कि विंस मैकमैहन जबरदस्ती रोमन रेंस को लगातार आगे बढ़ा रहे हैं। हां, विंस मैकमैहन ने डंके की चोट पर ऐसा किया और अब लग रहा है कि उनका फैसला एकदम सही था।

एक आम WWE दर्शक जो किसी का फेवर नहीं करता हो, उससे अगर 2 महीने पहले और अब के रॉ की स्थिति के बारे में पूछें तो उनका जवाब यही होगा कि रोमन रेंस के रहते हुए रॉ का हाल ज्यादा बढ़िया था। तब रॉ को देखने में मजा आता था। लेकिन अब रॉ के सैगमेंट और मैच नीरस से लगने लगे हैं।

रोमन रेंस WWE के वो रैसलर थे, जो अपने ही दम पर शो और दर्शकों को बांधे रखने में कामयाब रहते थे। द बिग डॉग की गैरमौजूदगी में अब रॉ में बिखराव सा नजर आता है। TLC के बाद रॉ तक बैरन कॉर्बिन एक्टिंग जनरल मैनेजर बने हुए थे। रॉ में सबसे ज्यादा वही नजर आ रहे थे, जिन्हें देखकर फैंस बुरी तरह से पक गए थे। रही-सही कसर उनके द्वारा लिए गए फैसलों ने पूरी कर दी। हालांकि हील अथॉरिटी फिगर ऐसा ही काम करते हैं और उन्हें इस तरह का रिएक्शन मिलना अच्छी बात माना जाएगा। लेकिन रोमन रेंस के ना होने की वजह से ये फैसले फैंस को चुभने लगे थे।

विंस मैकमैहन जो WWE टीवी पर कभी-कभी नजर आते थे, अब नौबत ये आ गई है कि उन्हें और उनके परिवार को रॉ या स्मैकडाउन अपने कंट्रोल में लेना पड़ेगा, यानी अब ये चारों लोग टीवी पर ज्यादा से ज्यादा समय नजर आएंगे। वो विंस मैकमैहन जो अपने सामने किसी की नहीं सुनते थे, उन्हें ये कहने के लिए मजबूर होना पड़ा कि अब चीज़ें फैंस के हिसाब से चलेंगी। कोई माने या ना माने ये सब रोमन रेंस के जाने की वजह से हुआ है।

पहले रॉ ज्यादातर रोमन रेंस के इर्द-गिर्द घूमता था। वो एक से ज्यादा बार मैच या सैगमेंट में दिखते थे। रोमन रेंस ही WWE रॉ के ऐसे रैसलर थे, जिन्हें पॉजीटिव-नेगेटिव दोनों प्रतिक्रिया भरपूर मिला करती थी। यानी उन्हें देखकर क्राउड एक्टिव हो जाता था, भले ही लोग उन्हें बू कर रहे हों या फिर चीयर। अब रॉ में यही चीज सबसे ज्यादा खल रही है। द बिग डॉग अपने द्वारा कही गई बात या फिर मैच के जरिए टीवी पर देखने वाले या एरीना में बैठे लोगों को खुश/गुस्सा दिला देते थे।

रोमन रेंस के जाने के बाद WWE प्रोडक्ट की क्वालिटी, व्यूवरशिप और मर्चेंडाइज़ की बिक्री में यकीनन गिरावट आई है। रोमन रेंस के ज्यादातर फैंस बच्चे, लड़कियां होते हैं। लाइव इवेंटों में भी इस वजह से गिरावट देखने को मिल रही होगी। क्योंकि क्राउड को एरीना तक लाने में बिग डॉग का रोल बहुत बड़ा है।

रोमन रेंस के जाने के बाद WWE रॉ की व्यूवरशिप में और ज्यादा गिरावट दर्ज की गई है। भारत में रोमन रेंस के लाखों फैंस हैं, बहुत लोगों ने तो रोमन रेंस के जाने के बाद WWE देखना बंद भी कर दिया होगा।

अब जब विंस मैकमैहन खुद रिंग में उतर आएं हैं, चीज़ों को नियंत्रण में लाने के लिए, ऐसे में उन्हें कुछ कठोर और अच्छे फैसले लेकर फैंस को फिर से WWE की तरफ लाना होगा।

Get WWE News in Hindi Here

Tags:
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...