विंस मैकमैहन द्वारा लाए गए 'वाइल्ड कार्ड रूल' से होने वाले नुकसान?

vince mcmahon and roman reigns

इस हफ्ते रॉ की शुरुआत खुद विंस मैकमैहन ने की थी, जहां उन्होंने एक अजीब सा नियम WWE यूनिवर्स के सामने रखा है। एक तरफ वाइल्डकार्ड रूल इस हफ्ते रॉ का सबसे चौंकाने वाला पहलू रहा। तो दूसरी तरफ स्मैकडाउन सुपरस्टार्स रोमन रेंस, डेनियल ब्रायन और कोफ़ी किंग्सटन की मौजूदगी ने सुर्खियां बटोरी हैं।

इस नए नियम के अनुसार अब कुछ चुनिंदा सुपरस्टार्स अपनी विपक्षी ब्रांड में जा सकेंगे। ऐसा माना जा रहा है कि वाइल्डकार्ड रूल, FOX डील को ध्यान में रखते हुए बनाया गया है। जो भी हो मगर इस रूल को फैंस से मिलीजुली प्रतिक्रियाएं मिल रही हैं।

अब सबसे बड़ा सवाल यह है कि WWE यह कैसे तय करेगी कि वाइल्डकार्ड रूल के मद्देनजर कौन से सुपरस्टार्स को दूसरी ब्रांड में भेजा जाएगा।

सच कहूं तो इससे ऐसा प्रतीत हो रहा है कि आने वाले समय में ब्रांड बनाम ब्रांड इवेंट्स के आयोजन के सभी दरवाजे बंद हो सकते हैं। दुर्भाग्यवश इस नियम को जिस तरह से पेश किया गया है, वही इसकी सबसे ख़राब बात है।

वाइल्डकार्ड नियम जब पेश किया गया, तब रिंग में डेनियल ब्रायन, रोमन रेंस और कोफ़ी किंग्सटन मौजूद रहे। अब यदि WWE कंपनी के तीन सबसे बड़े सुपरस्टार्स को साथ लाने का सोच रही है। इस रणनीति के असफल रहने के चांस सफल होने से कहीं अधिक हैं।

इस नए नियम की सबसे बड़ी समस्या तो यह रही है कि इस सैगमेंट को पहले शेड्यूल नहीं किया गया था। एक ऐसा सैगमेंट जो फैंस के दिल में जगह बना ही नहीं पाया। हम पहले भी कह चुके हैं कि इस रणनीति के असफल होने के चांस बहुत ज्यादा हैं। इसलिए अब WWE को ख़राब नतीजों के लिए तैयार रहना चाहिए, क्योंकि इसका सीधा असर मनी इन द बैंक पर भी पड़ सकता है।

WWE News in Hindi, RAW, SmackDown के सभी मैच के लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं