Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

क्यों सैथ रॉलिंस को 2018 का Royal Rumble मैच जीतना चाहिए

Modified 23 Jan 2018, 17:59 IST
Advertisement
दरअसल विश्व में कुछ चीज़ें ऐसी हैं जो WWE के फैंस के लिए नेगेटिव प्रतिक्रिया पैदा करती हैं। शायद वो WWE य़ूनिवर्स द्वारा भेजे गए उन दिग्गज सुपरस्टार्स की वापसी की वजह से, जिनकी वो आने की उम्मीद नहीं करते, या फिर वो ड्रीम मैच, जिसकी उन्हें होने की संभावना बिल्कुल नहीं है। मंडे नाइट रॉ में आखिरी बार लोगों को कर्ब स्टॉम्प की वापसी देखने को मिली थी। वो दो शब्द शायद 'द आर्किटेक्ट' के करियर को मिड-कार्ड से बाहर कर उन्हें मेन इवेंट में दोबारा वापस ला सकते हैं। सैथ रॉलिंस ने पिछले दशक जब शील्ड ब्रदर्स से अपना झगड़ा किया था, वो उनका अब तक का सबसे बड़ा हील रूप रहा है। उनकी डीन एंब्रोज के साथ शानदार फिउड हुई थी और उन्होंने रैसलमेनिया 31 में मनी इन द बैंक ब्रीफकेस से कैश इन किया था। वहां उन्होंने रोमन रेंस को हरा WWE टाइटल भी हासिल किया था, जिसके बाद कंपनी में वो हील बन गए थे। हालांकि, ऑड बुकिंग की वजह से, उन्हें WWE टाइटल में बेहतरीन फिउड के साथ निराशाजनक मोमेंट भी मिला था। उन्हें सबसे बड़ा झटका तब लगा जब उन्हें घुटने की इंजरी हुई, जिसके बाद रॉलिंस को अपना WWE टाइटल छोड़ 6 महीने के लिए बाहर जाना पड़ा, ताकि वो अपनी अच्छी तरह वापसी कर सकें। दरअसल सभी को उम्मीद थी कि WWE उन्हें मेन इवेंट में दोबारा बिल्ड करेगी। कंपनी ने उन्हें दोबारा लॉन्च किया, जहां उनका मुकाबला WWE टाइटल के लिए रोमन रेंस के साथ, यूनिवर्सल टाइटल के लिए केविन ओवंस के साथ और अपना बदला लेने के लिए ट्रिपल एच के साथ रखा गया था। हालांकि रॉलिंस उस मोड़ पर थे, जहां उनका बेबीफेस रूप फीका पड़ गया। WWE ने उन्हें शील्ड में वापस भेजने की पूरी कोशिशें कीं, लेकिन उनकी ये कोशिश नाकाम रही, क्योंकि एक से बाद एक अड़चनें आती रहीं। पहले रोमन बीमार हो गए, जिसकी वजह से शील्ड में वापसी नहीं कर पाए, दूसरा एंब्रोज की इंजरी की वजह से फ्यूचर प्लान रुक गए और कोई भी स्ट्रॉन्ग सुपरस्टार उनका सामना करने के लिए तैयार नहीं था। रॉलिंस फिलहाल अविकसित बेबीफेस के रूप में मिड-कार्ड में शामिल हैं। WWE इस बेहतरीन सुपरस्टार को अवसर ना देकर बहुत बड़ा मौका गंवा रही है क्योंकि रोस्टर में शामिल रॉलिंस उन स्टार्स  में से एक हैं, जिनके पास रैसलमेनिया 34 के मेन इवेंट में शामिल होने का और ब्रॉक लैसनर के खिलाफ यूनिवर्सल टाइटल हासिल करने का बहुत बड़ा मौका है। दरअसल डीन एंब्रोज़ के साथ उनकी फिउड द लुनाटिक फ्रिंज को इंजरी होने के कारण खत्म हो गई। रॉलिंस को मिड-कार्ड में अपना जलवा दिखाने के लिए कोई संघर्ष करने की कोई जरूरत नहीं है। इसलिए, रैसलमेनिया 34 के टैग टीम मैच में रॉलिंस के आने की संभावना है, जिसमें WWE रॉलिंस को 2018 के रॉयल रंबल में बुक कर उनका सही इस्तेमाल कर सकती है। 2018 का रॉयल रंबल का एडिशन कई रैसलिंग के पे-पर-व्यू मैच में प्रसंशक और अलोचक पैदा करता है। रॉयल रंबल में जॉन सीना, शिंस्के नाकामुरा और रोमन रेंस के जीतने की उम्मीद लगाई जा रही है। हालांकि, ये सभी विनर्स जीत को हासिल करने के बेस्ट विकल्प नहीं हैं, जैसे कि सीना की अपने करियर में रॉयल रंबल मैच में दूसरी जीत बेकार ही है। दूसरी तरफ शिंस्के नाकामुरा के जीतने की ज्यादा उम्मीद है, लेकिन मेन रोस्टर में उनकी बुकिंग एक विवाद खड़ा कर सकती है, वहीं रोमन रेंस को फिलाडेल्फिया में उस रात रॉयल रंबल के दूसरे मैच में जीतने के बाद लोगों द्वारा नकारात्मक प्रतिक्रिया मिली थी। दरअसल, पूरे शो में सभी का इस तरह से अंदाजा लगाना ही सबसे पॉपुलर ओपीनियन है, वहीं लगता है कि WWE ब्रॉक लैसनर को 2018 के रॉयल रंबल के पीपीवी में यूनिवर्सल चैंपियन के तौर पर चुनेगी, जो रैसलमेनिया 34 में द बीस्ट और द बिग डॉग के बीच मुकाबला करा सकती है। 2017 में कंपनी ने लैसनर और रेंस के बीच रीमैच कराया था, जो सभी के लिए एक निराशाजनक मोड़ था। वहीं रैसलिंग के फैंस को उम्मीद थी कि रॉयल रंबल में इस बार रॉलिंस जीतेंगे। रोस्टर में शामिल ये वो सुपरस्टार हैं, जो रैसलमेनिया के मेन इवेंट से एक परफेक्ट संबंध बना सकते हैं। रॉलिंस वो इंसान हैं जिन्होंने WWE में एक बेहतर पड़ाव पाने के लिए अपने ब्रदर से लड़ाई की थी, जिसमें अथौरिटी के साथ पार्टनरशिप ने उनका अलग रूप दिखा दिया था, क्योंकि इसके बाद उन्हें एक अवसर मिला था, और उस पॉवर को वो WWE के मनी इन द बैंक कॉन्ट्रैक्ट में जीत हासिल करने के लिए इस्तेमाल कर सकते थे। रॉलिंस ने 6 महीने बाद अपनी बेहतरीन वापसी की और अपने आपको और अपने मोटिव को भी दोबारा तैयार किया, ताकि वो अपनी ग्लोरी को वापसी हासिल कर सकें। रॉलिंस ने अपनी पहले की गलतियों को दोबारा सुधारकर अपने आपको साबित किया और रेंस को WWE टाइटल के लिए हराया। रॉलिंस को अपनी गलतियों का बिल्कुल एहसास हो गया है। वहीं उसके सही करने का दूसरा रास्ता है ब्रॉक लैसनर के साथ मुकाबला, जिसने वो 2014 से दूर भाग रहे हैं। दरअसल जब WWE ने द आर्किटैक्ट को रैसलमेनिया 31 में भेजा था, रॉलिंस ने वाकई में बेहतरीन प्रदर्शन दिया था। फिलहाल WWE रोमन रेंस को रैसलमेनिया 34 में अंडरडॉग की कमबैक स्टोरी के लिए तैयार कर रही है। वो स्टोरी, जिसमें WWE यूनिवर्स ने रेंस को द बीस्ट के खिलाफ लड़ने के लिए भेज दिया था, जबकि वो इतने अनुभवी नहीं थे। लेकिन तीन साल पहले से ही रेंस ने अपने आपको एक काबिल रैसलर के रूप में खड़ा कर लिया है। फिलहाल रेंस को बेबीफेस के रूप में इतना सपोर्ट नहीं मिल रहा, लेकिन फिर भी उन्होंने लैसनर के साथ हुए मैच के बाद कई सारे टाइटल को हासिल किया और रैसलमेनिया के मेन इवेंट में कई बार वापसी की है। रैसलमेनिया 31 के मैच के बाद रेंस का लैसनर के साथ कई बार मुकाबला हुआ है, जिसमें उनकी स्टोरी देखने लायक है। दरअसल रैसलमेनिया 34 का मेन इवेंट फिलहाल एक निराशाजनक मोमेंट के रूप में है और WWE रॉलिंस को लाकर इसे बेहतर बना सकता है और उन्हें  एक बार फिर अपने आपको साबित करने का मौका दे सकता है। लेखक- एवर्नड्रान , अनुवादक- मोहिनी भदौरिया Published 23 Jan 2018, 17:59 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit